दिल्ली हाईकोर्ट की सलाह : मुफ्त राशन के लिए अनिवार्य किया जाए कोरोना का टीका

असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे सात लोगों की लॉकडाउन अवधि के दौरान बिना राशन कार्ड मुफ्त राशन आपूर्ति की मांग वाली याचिका का निपटारा करते हुए न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने कहा कि जब तक सभी का टीकाकरण नहीं हो जाता, तब तक मुफ्त राशन नहीं दिया जाना चाहिए। यही आदेश होना चाहिए। हर दिन प्रधानमंत्री कह रहे हैं (टीका लगवाएं)। आप मुफ्त राशन के लिए अदालत आते हैं, लेकिन टीका नहीं लगवाना चाहते।

अदालत ने कहा कि यह बताने की जरूरत नहीं है कि जब तक राशन कार्ड पर जोर दिए बिना मुफ्त राशन की योजना जारी रहेगी, तब तक सरकार व संबंधित अन्य पक्ष याचिकाकर्ताओं और ऐसे अन्य लोगों को मुफ्त राशन देना जारी रखेंगे।

याचिकाकर्ताओं के वकील ने तीसरी लहर की आशंका जताते हुए फ्री राशन जारी रखने का निर्देेश देने का आग्रह किया। अदालत ने उनसे सवाल किया कि क्या सभी याचिकाकर्ताओं को टीका लगाया गया है? उधर, दिल्ली सरकार के वकील ने अदालत को बताया कि फिलहाल उसकी नीति के तहत याचिकाकर्ताओं को बिना कार्ड मांगे ही राशन मुहैया कराया जा रहा है।

केंद्र सरकार की ओर से पेश वकील ने अदालत को बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत केंद्रीय पूल से राज्य सरकारों को खाद्यान्न आवंटित किया जा रहा है। यह योजना नवंबर तक चालू रहेगी। अदालत ने सभी पक्षों को सुनने के बाद कहा कि लॉकडाउन के बाद भी याचिकाकर्ताओं को खाद्यान्न मिल रहा है। सरकार अपना काम कर रही है ऐसे में मामले में अदालत की निगरानी जरूरी नहीं है।

 

यह भी देखे:-

विद्यापीठ स्कूल में रंगोली प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
CORONA UPDATE : गौतमबुद्ध नगर में कोरोना पड़ा सुस्त, क्या है हाल,  जानिए 
राजू श्रीवास्तव, रामशंकर और कैलाश मासूम का स्वच्छता अभियान
भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष बोले : फसल नहीं, नस्ल बचाने को हो रहा आंदोलन, कृषि कानून वापस कराकर दम लेंग...
ग्राउंड रिपोर्ट: गैर राज्यों से लौट रहे प्रवासी, बढ़ते संक्रमण के बीच खतरे की घंटी न बन जाएं
हर दिन कोरोना के रिकॉर्ड नए मामले, सैकड़ों मौतें...आज महराष्ट्र में संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान कर सकते ...
आज होगी मंत्रिमंडल और मंत्रिपरिषद की बैठक, जानें क्‍यों हैं ये खास
मोबाईल लूट के दौरान बदमाशों से बहादुरी से भिड़ी बी.टेक की छात्रा और ...
बेटी सुरक्षित, समाज सुरक्षित, छात्राओं ने सीखे आत्मरक्षा के गुर
हिन्दी हैं हम: केंद्र सरकार राष्ट्रभाषा जानने वाले कर्मियों को देगी 10 हजार रुपये तक का इनाम
‘मुझे भी BJP का टिकट दिलाओ नहीं तो सबको बता दूंगा..’, जब बाबा रामदेव से बोले थे बाबुल सुप्रियो
दिल्ली हाईकोर्ट: बार काउंसिल ऑफ दिल्ली में पंजीकृत सभी वकीलों को मिलेगा मुख्यमंत्री अधिवक्ता कल्याण ...
ग्रेटर नोएडा : अष्टमी पर मां दुर्गा के पूजन को काली बाड़ी में उमड़े भक्त
मेहनत और हौसले को सलाम: इन महिलाओं ने समाज में बनाई अपनी पहचान, लिखी खुद की तकदीर
युवा कांग्रेस शुरू करेगी गंगा जल संकल्प यात्रा, राष्ट्रीय सचिव दीपक चोटीवाला के नेतृत्व में घर -घर ...
61 फिट की त्रिकालदर्शी भगवान भोले की प्रतिमा का हुआ भव्य अनावरण