बुखार के चपेट में आने से इस गाँव में हफ्ते भर में हुई 10 की मौत

बुलन्दशहर: जहांगीरपुर थाना क्षेत्र के गांव कपना में बुखार का प्रकोप बढ़ता जा रह है। मिली जानकारी के मुताबिक हफ्ते भर में गाँव के 10 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इधर सूचनादेने के बावजूद स्वास्थ्य विभाग कुंभकर्णी नींद में सोया हुआ है। अभी तक प्रशासन ने भी इसकी सुध नहीं ली है। जिससे ग्रामीणों में स्वास्थ्य विभाग के प्रति रोष व्याप्त है।

गांव प्रधान सुरेंद्र सिंह ने बताया कि एक दिन पहले ही गांव के एक बुजुर्ग बृजभान सिंह पुत्र तेज सिंह की बुखार के चलते मौत हो गई। उन्हें तीन दिन पहले बुखार आया था जिसके बाद उनका नोएडा के एक अस्पताल में उपचार चल रहा था। उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

इसके अलावा 1 हफ्ते में गांव के रहने वाले बदन सिंह, मोहनिया , जयपाल शर्मा 7, मोनू (1 वर्ष), मुख्त्यार , प्रेमवती (80 वर्ष) के अलावा भी कई अन्य लोगों की मौत बुखार से होना बताया जा रहा है। इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कई दिन पहले दे दी गई थी मगर अभी तक गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम नहीं पहुंची है।

गांव निवासी हरदन सिंह, मदन सिंह सोलंकी, भीम सोलंकी, कल्लू ठेकेदार, ओंकार सिंह आदि ने डीएम बुलंदशहर को पत्र भेजकर गांव में फैली बीमारी की रोकथाम करने कराने की मांग की है गांव में दर्जनों मौतों से शोक की लहर दौड़ी हुई है — रिपोर्ट विनय: शर्मा जहांगीरपुर

यह भी देखे:-

जानिए , पुलिस कमिश्नर प्रणाली में नोएडा पुलिस को मिले ये अधिकार
उत्तर प्रदेश में पुलिस उपाधीक्षकों के तबादले
नियमो का उल्लंघन करने पर होगी कड़ी कार्यवाही
कोरोना से लड़ना भी है और विकास कार्य भी संचालित करना है : सीएम योगी 
मिशन रक्तदान 2021: ग्रेटर नोएडा के यथार्थ अस्पताल में महिला उन्नति संस्था और SAFE संस्था के संयुक्त ...
उत्तर प्रदेश में आईपीएस अधिकारीयों के हुए तबादले
गुनपुरा में स्वास्थ्य विभाग ने लगाया  कोरोना जाँच शिविर कैम्प,7पोजेटिव केस मिले
उत्तप्रदेश में आईएस/पीसीएस अधिकारियों के तबादले
उत्तर प्रदेश में आईएएस अधिकारीयों के तबादले
पीडित को न्याय दिलाने के लिए दनकौर कोतवाली पहुंचे किसान एकता संघ के कार्यकर्ता
SP-BSP गठबंधन: मायावती बोलीं-'गुरू-चेला की नींद उड़ जाएगी
सांसद  ने भेजी कोरोना जांच टीम, 122 लोगो ने कराई कोविड जांच
सोशल मीडिया कम्प्लेन्ट सेल का गठन, व्हाट्सएप्प नम्बर जारी
सीएम  योगी  ने दिया  निर्देश- 10 दिन में स्कूलों में शुरू हो छठी से 12वीं तक की पढ़ाई
पुलिस व आरआरएफ पुलिस बल ने किया फ्लैग मार्च
क्या कांग्रेस में है,वरुण गांधी के लिए बेहतर संभावना?