कोरोना वायरस: ‘डेल्टा’ ने बढ़ाई चिंता, दिल्ली से भेजे गए 80 फीसदी नमूनों में मिला ये घातक वैरिएंट

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप बरकरार है। वहीं अब डेल्टा वैरिएंट ने चिंता बढ़ा दी है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, पिछले तीन महीनों में दिल्ली सरकार द्वारा जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे गए नमूनों में से कम से कम 80 प्रतिशत नमूनों में कोरोनावायरस के डेल्टा संस्करण का पता चला है।

राजधानी के लिए कोविड प्रबंधन नीतियां तैयार करने वाले दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की एक बैठक में स्वास्थ्य विभाग ने साझा किया कि दिल्ली में जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए जुलाई में भेजे गए 83.3 प्रतिशत नमूनों में डेल्टा संस्करण (बी.1.617.2) का पता चला है। जबकि मई और जून में क्रमशः 81.7 प्रतिशत और 88.6 प्रतिशत नमूनों में वैरिएंट पाया गया।अप्रैल में 53.9 फीसदी सैंपल में यह मिला था।

डेटा से यह भी पता चला है कि अब तक राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) में संसाधित दिल्ली के 5,752 नमूनों में से 1,689 में डेल्टा संस्करण पाया गया है। 947 नमूनों में अल्फा संस्करण (बी.1.1.7) का पता चला है।

अल्फा और डेल्टा दोनों रूपों को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा “चिंताजनक वैरिएंट” के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

डेल्टा संस्करण की भारत में दिसंबर 2020 में पहचान की गई थी और बाद में 95 से अधिक देशों में इसका पता चला है। यह प्रमुख रूप से घातक दूसरी कोविड लहर के लिए जिम्मेदार था जिसने देश में लाखों लोगों को संक्रमित किया और हजारों लोगों की जान ली। अल्फा वैरिएंट को पहली बार यूके में पिछले साल खोजा गया था।

यह भी देखे:-

पैंगोंग इलाके से सैनिकों को हटाने पर भारत-चीन सहमत, पीछे हटने की प्रक्रिया शुरू
अमेरिकी सेना कब तक अफगानिस्तान की करेगी रक्षा- जो बाइडन
जिला गौतमबुद्ध नगर में धारा 144 लागू 
वेदार्णा फाउंडेशन द्वारा आयोजित किया गया योग प्रशिक्षण शिविर
दुनिया के धनवान : जेफ बेजोस बनें एक बार फ़िर सबसे धनवान, जानिए शीर्ष 10 धनकुबेरों की कितनी है संपत्ति
गौतमबुद्ध नगर: भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष के घोषणा से पहले हलचल तेज
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
ग्रेनो के 14 गांव बनेंगे स्मार्ट, मायचा से हुई शुरुआत
ग्रेटर नोएडा के सेक्टर डेल्टा टू में सेक्टर वासी आवारा पशु और आवारा कुत्तों के आतंक से परेशान
एम एम एच कॉलेज के छात्रों द्वारा विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन
COVID-19: नोएडा ,ग्रेटर नोएडा में 1 महीने का किराया माफ करने का आदेश
शारदा विश्वविद्यालय, ओरिएंटेशन प्रोग्राम में नवप्रवेशित छात्रों को बताया गया शिक्षा का महत्व
करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने कोरोना वायरस से बचाव के प्रति लोगों को किया जागरूक
गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय में हुई स्वच्छता ही सेवा 2019 अभियान की शुरुआत
उपचार एप्लीकेशन गूगल प्ले-स्टोर पर हुई लॉन्च
हॉस्पिटल एकादश बना T-10 क्रिकेट टूर्नामेंट का विजेता, 28 दिसंबर को ग्रेनो प्रेस क्लब से होगा मुकाबला