टीकाकरण में यूपी नंबर वन : मेगा वैक्सीनेशन में एक दिन 25 लाख लोगों का टीकाकरण, पांच करोड़ पार पहुंची संख्या

टीकाकरण के मामले में मंगलवार को उत्तर प्रदेश ने नया रिकॉर्ड बनाया। मेगा टीकाकरण अभियान के तहत एक दिन में करीब 25 लाख 15 हजार लोगों का टीकाकरण हुआ। अब प्रदेश में कुल टीकाकरण का ग्राफ पांच करोड़ 13 लाख दो हजार एक सौ 85 पर पहुंच गया है। इसमें 80 लाख 54 हजार सात सौ लोगों को दूसरी डोज दी गई है।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में एक दिन में रिकार्ड 26 लाख से अधिक लोगों को कोविड टीकाकरण पर प्रदेश की जनता को बधाई दी है। योगी ने मंगलवार शाम ट्वीट कर कहा कि टीका सुरक्षा कवच है, सभी पात्र लोगों को जीत का टीका अवश्य लगवाना चाहिए। योगी ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और प्रदेश की जनता की सहभागिता ने उत्तर प्रदेश में कोविड टीकाकरण कार्यक्रम को सफल बनाया है।

 

प्रदेश में टीकाकरण का ग्राम लगातार बढ़ रहा है। पर्याप्त टीके की उपलब्धता पर मंगलवार को पूरे प्रदेश में मेगा टीकाकरण अभियान चलाया गया। ऐसे में शाम साढ़े आठ बजे तक 25 लाख 15 हजार लोगों का टीकाकरण करके यूपी ने कोरोना टीकाकरण में दूसरे प्रदेशों को पीछे छोड़ते हुए अपने नाम एक नया रिकार्ड हासिल किया है। टीकाकरण यह रिकार्ड महाराष्ट्र,  दिल्ली, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत दूसरे कई राज्यों से अधिक है। यूपी टीकाकरण के साथ ही सर्वाधिक जांच करने वाला प्रदेश है।

ट्रिपल टी की रणनीति व टीकाकरण से यूपी में कोरोना संक्त्रस्मण की दूसरी लहर नियंत्रण में हैं। प्रदेश में वृहद टीकाकरण अभियान के तहत सबका साथ, सबका विकास, सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन के मूल मंत्र पर टीकाकरण किया जा रहा है। सरकार ने मेगा टीकाकरण अभियान में एक दिन में 20 लाख लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य रखा था। बता दें कि इससे पहले बीते 24 जून को नौ लाख तीन हजार लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई थी।

अगस्त के अंत तक 10 करोड़ लोगों को टीका
यूपी में टीकाकरण अभियान को गति देते हुए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में युद्धस्तर पर टीकाकरण किया जा रहा है। 31 अगस्त तक 10 करोड़ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। मिशन जून के तहत प्रदेश सरकार ने एक करोड़ लोगों को वैक्सीन की डोज लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया था लेकिन प्रदेश में इससे कहीं अधिक एक करोड़ 29 हजार टीके की डोज दी गई।

महाराष्ट्र, दिल्ली और अन्य प्रदेशों से आगे
पश्चिम बंगाल में अब तक तीन करोड़ छह लाख, केरल में दो करोड़ नौ लाख,
महाराष्ट्र में चार करोड़ 52 लाख, दिल्ली में एक करोड़ दो लाख और
तमिलनाडु दो करोड़ 38 लाख ही वैक्सिनेशन किया गया है।

 

यह भी देखे:-

सवारियों को लूटने वाले बदमाश गिरफ्तार
जहांगीरपुर में घायल साड़ की बचाई जान
बलिया में भाजपा नेता की दबंगई
पंचशील ग्रीन नवरात्रा सेवक दल की मुहीम "हर भुखे को खाना खिलाओ" को मिली प्रशंसा
कुख्यात रणदीप-कुलवीर गैंग के गुर्गे गिरफ्तार
दूसरी लहर का प्रकोप जानने के लिए होगा सीरो सर्वे, सर्वेक्षण के नतीजों से आगे की रणनीति बनाने में मिल...
बुलंदशहर: अब पुलिस कप्तान पर गिरी गाज
समसारा विद्यालय में Cbse Career Guidance कार्यशाला का आयोजन
खाद्य पोषण के लिए विज्ञान एंव तकनीक का विकास आवश्यकः डॉ विलियम डर
कावड़ यात्रा : सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को भेजा नोटिस , जानें क्यों
कोरोना: देश पर मंडरा रहा तीसरी लहर का खतरा, आईसीएमआर ने चौथे सीरो-सर्वेक्षण की बनाई योजना
स्वतंत्रता दिवस पर कासना पुलिस ने निर्धन बच्चों में मिठाई फल बांटे
शारदा यूनिवर्सिटी में एनपीसी नवोन्मेष बिजनेस-2018 का आयोजन
नो स्कूल नो फीस जब स्कूल गए ही नहीं तो फीस किस लिए : रविन्द्र भाटी
मनीष का सिद्धू पर फूटा गुस्सा : 'जिनको जिम्मेदारी दी गई वो समझे नहीं
मुख्यमंत्री योगी ने मानसून को देखते हुए दिए निर्देश, इंसेफलाइटिस से निपटने के लिए एलर्ट रहें विभाग