कोरोना की तीसरी लहर: वायरस की प्रजनन दर बढ़ रही, एम्स और सीएसआईआर की चेतावनी

देश में लगातार पांचवें दिन कोरोना के 40 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। एम्स, नई दिल्ली के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि देश में वायरस की प्रजनन दर (आर वैल्यू) बढ़ रही है जो चिंता का विषय है। वहीं सीएसआईआर के महानिदेशक डॉ. शेखर सी मांडे ने कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर जरूर आएगी, वो कैसे और कब हमला करेगी ये कहना मुश्किल होगा।

 

डॉ. गुलेरिया ने बताया कि पहले वायरस की आर वैल्यू 0.99 थी जो अब बढ़कर एक हो गई है। वायरस के प्रजनन दर में बढ़ोतरी को लेकर सतर्क होने की जरूरत है। आर-वैल्यू में बढ़ोतरी का मतलब है कि कोरोना संक्रमण व्यक्ति से संक्रमण फैलने की गति बढ़ गई है। ऐसे में देश के जिन क्षेत्रों में संक्रमण दर अधिक है वहां सख्ती के साथ पाबंदियों को लागू करने पर जोर देना होगा। डॉ. मांडे का कहना है कि शोध से यही पता चला है कि डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ टीका काम कर रहा है। ऐसे में सभी से अपील है कि टीका लगवाएं, ये जानलेवा वायरस से बचाव का सरल माध्यम है।

 

डेल्टा प्लस भी चिंता का विषय
डॉ. मांडे बताते हैं कि डेल्टा वैरिएंट से भारत पहले ही जूझ चुका है। डेल्टा प्लस वैरिएंट भी चिंता का विषय है। इसको लेकर सतर्क रहना होगा। केरल में महामारी की रफ्तार सबसे तेज है। देश में मिलने वाले कुल मरीजों में से आधे केरल में मिल रहे हैं। संक्रमण की चाल देखने से पता चलता है कि केरल के बाद वायरस महाराष्ट्र पहुंचता है और उसके बाद देश के अन्य हिस्सों में तबाही मचाना शुरू करता है।

बुरी तरह प्रभावित क्षेत्रों पर नजर
डॉ. गुलेरिया का कहना है कि संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित क्षेत्रों में ट्रिपल-टी टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की रणनीति पर काम करना होगा जिससे कोरोना की चेन को तोड़ा जा सके।संक्रमण का ग्राफ इसी तरह बढ़ता रहा तो आने वाले समय में स्थिति बिगड़ सकती है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देशभर में कुल 46 जिलों में संक्रमणण दर दस फीसदी से अधिक है। 54 जिलों में ये पांच से दस फीसदी के बीच है।

आर- वैल्यू को इस तरह समझें
डॉ. गुलेरिया बताते हैं कि खसरा और चिकनपॉक्स की आर-वैल्यू आठ या इससे अधिक थी। इसका मतलब है कि एक व्यक्ति आठ से अधिक लोगों को संक्रमित कर रहा था। अब कोरोना भी इसी राह पर है। महामारी की दूसरी लहर में हमने देखा है कि एक व्यक्ति के चलते पूरा का पूरा परिवार संक्रमित हो गया था। ऐसा चिकनपॉक्स में होता था, डेल्टा वैरिएंट के कारण भी पूरा परिवार संक्रमण की चपेट में आया था।

 

यह भी देखे:-

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की हालत नाजुक, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिया हालचाल
रोटी बैंक-एक सेवा, एक प्रयास (हर घर से रोटी,हर घर को रोटी)
MLC शिक्षक चुनाव में श्रीचंद शर्मा ने दर्ज किया शानदार जीत
School Reopening: UP, DELHI में एक सितंबर से स्कूलों में शुरू होंगी नई कक्षाएं, जानें- क्या हैं नियम...
ग्रेनो प्राधिकरण के बाबू के घर छापा, पुराने नोट बरामद, गिरफ्तार
जाट समाज का दीपावली मिलन समारोह सम्पन्न हुआ
रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा के रक्तदान शिविर में 84 यूनिट रक्त एकत्र हुआ
कल का पंचांग, 26 नवंबर 2021, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
असम में अंतिम चरण का मतदान जारी, 40 सीटों पर डाले जा रहे वोट
गौतम बुद्ध नगर कोरोना अपडेट, आज 21 नए लोगो की रिपार्ट आयी पॉजिटिव
वाराणसी: अबकी बार, महिलाओं की सरकार, 233 गांव में ग्राम प्रधान बनेंगी महिलाएं, जानें OBC और SC के लि...
सुप्रीम कोर्ट : अदालतों को जमानत देने या नहीं देने का कारण स्पष्ट करना होगा
बुजर्ग ने 19वीं मंजिल से कूदकर की ख़ुदकुशी
लोकसभा चुनाव : डीएम -एसएसपी ने पारा मिलिट्री फोर्स के साथ पैदल गश्त किया
Delhi Budget 2021की जानिए ख़ास बातें, दिल्ली वालों  को क्या मिला
गेटर नोएडा में कांग्रेस की साझी रसोई का शुभारंभ