भारत में ISIS की एंट्री? कश्मीर में 3 आतंकी गिरफ्तार, भारतीय खुफिया एजेंसियों ने ऐसे किया पर्दाफाश

कश्मीर में आतंकवादी संगठन ISIS की मौजूदगी के सबूत मिलने लगे हैं। भारतीय खुफिया एजेंसियों ने इसका पर्दाफाश किया है। दरअसल सोमवार को इसके संस्थापक सदस्यों में से एक कासिम खुरासानी और उसके दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया गया। गौरतलब है कि भारतीय खुफिया एजेंसी पिछले एक साल से इन लोगों की गतिविधियों पर कड़ी नजर रख रही है। साल 2020 में अप्रैल में भारतीय खुफिया एजेंसियों द्वारा, जम्मू-कश्मीर में आईएसआईएस मॉड्यूल के संस्थापक सदस्यों में से एक, उमर निसार भट उर्फ ​​कासिम खोरासानी, जो वहां आईएस कैडरों की भर्ती में भी शामिल था, की पहचान एक मैसेजिंग ऐप पर की गई थी।

मैसेजिंग एप पर मिला कासिम खोरासानी

अब तक कासिम खोरासानी के बारे में माना जा रहा था कि वह अफगानिस्तान के खुरासान में है, लेकिन बाद में वह भारतीय और विदेशी एजेंसियों की मदद से अनंतनाग जिले के एक छोटे से शहर अचबल में मिला। यहां वह मैसेजिंग एप पर अपने समूह के सदस्यों के साथ पत्रिका स्वात अल-हिंद (वॉयस ऑफ इंडिया) के प्रोडक्शन और सर्कुलेशन के बारे में बातचीत कर रहा था।

सीरिया से भारत की ओर आतंकियों का मार्च?

टाइम्स नाउ की खबर के अनुसार, इस पत्रिका ने गज़वा-ए-हिंद (‘भारत के खिलाफ युद्ध’) का भी प्रचार किया, जिसके तहत आतंकवादी काले झंडे के साथ सीरिया से भारत की ओर मार्च करेंगे, जिहाद करेंगे और देश को इस्लामिक देश में बदल देंगे। पत्रिका स्वात अल-हिंद को विलायत अल-हिंद (भारत में इस्लामी राज्य प्रांत) के विचार का प्रचार करने के लिए तैयार किया गया है। विलायत अल-हिंद (भारत में इस्लामी राज्य प्रांत) की स्थापना मई 2019 में विशेष रूप से भारत की ‘गतिविधियों’ पर ध्यान केंद्रित करने के लिए की गई थी।

युवाओं को ऐसे करते हैं भर्ती

एनआईए ने कहा कि इस्लामिक स्टेट के आतंकवादी भारत में अपने कैडर के साथ विभिन्न संघर्ष क्षेत्रों से काम कर रहे थे, और इन्होंने एक नेटवर्क बनाया है जिसमें आईएसआईएस से संबंधित प्रचार प्रसार किया जाता है और ऑनलाइन फर्जी आईडी के जरिए युवाओं को अपने यहां भर्ती किया जाता है।

यह भी देखे:-

जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक, सस्ती हुई 33 वस्तुएं , पढ़ें पूरी खबर
दिल्ली एनसीआर समेत भूकंप के झटके
ग्राउंड रिपोर्ट : कठपुतली भर हैं ग्राम पंचायत सदस्य, न निर्णय में हिस्सेदारी और न अधिकार का पता
अयोध्या : राम मंदिर जाने वाली सड़क का नाम होगा 'कल्याण सिंह मार्ग'
बीएड परीक्षा: फिर आगे बढ़ाई गई तारीख, 30 जुलाई को दो पालियों में होगी परीक्षा
नोएडा प्राधिकरण द्वारा किसानों की पुरानी आबादियों को तोड़े जाने की समस्या का शीघ्र निस्तारण की मांग
ICMR: संक्रमण से ठीक होने वालों को वैक्सीन की एक खुराक ही पर्याप्त
अब केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की बारी, संसदीय स्थायी समिति (IT) करेगी कामकाज की समीक्षा
पडोसी का घिनौना  कृत्य,  पैसे के लालच में दोस्त के साथ मिलकर किया बच्चे का अपहरण, फिर ....
लूट की झूठी सूचना देने वाला डेढ़ लाख रुपए के साथ गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश में पीपीएस अधिकारीयों के तबादले
ब्लॉक प्रमुख प्रत्याशी को सुरक्षा देने का हाईकोर्ट ने दिया निर्देश
पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन करने करने का निर्देश द...
House Rent Allowance में हुआ डबल इजाफा, अब इस कैटेगरी में होगा पेमेंट
ग़ाज़ियाबाद : बच्ची में मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने के बाद  मचा हड़कंप, जांच के लिए पुणे भेजे गए सैंपल
जिला शिक्षा विभाग ने आईआईएमटी कॉलेज में शिक्षा दिवस पर गुरूजनों को किया सम्मानित