पुलिस एनकाउंटर में मारा गया दो लाख का ईनामी बावरिया डकैत कालिया,  हत्या-बलात्कार जैसे संगीन मामलों में था नामजद

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और हरियाणा (Haryana) के कई जिलों में वांछित 2 लाख के इनामी डकैत बावरिया अजय कालिया (Gangster Ajay Kaliya) को UPSTF की टीम ने नोएडा में ढेर कर दिया है. अजय पर मथुरा से एक लाख, अलीगढ़ और पलवल से 50-50 हजार और बदायूं जिले से 25 हजार रुपए का इनाम घोषित था. पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ नोएडा के सेक्टर-20 इलाके में हुई. अजय इससे पहले छुपकर रेवाड़ी में रह रहा था.अजय कालिया को उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और नोएडा पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन में मारा गया है. पता चला है कि आजकल अजय कालिया हरियाणा के रेवारी में छिपकर रह रहा था. उसके खिलाफ यूपी के मथुरा, अलीगढ़, बदायूं और हरियाणा के पलवल आदि में हाईवे पर लूट, डकैती और बलात्कार व दुष्कर्म जैसे कई संगीन मुकदमे दर्ज थे. अजय अलीगढ़, पलवल और बदायूं पुलिस की भी रडार पर था. STF के अनुसार बुलंदशहर में 2015 में हाइवे पर हुए गैंगरेप में CBI को भी अजय कालिया की तलाश थी.

UPSTF ने नोएडा पुलिस के साथ मिलकर किया ऑपरेशन

अजय उर्फ कालिया के मुठभेड़ में ढेर होने की पुष्टि उत्तर पुलिस एसटीएफ प्रभारी आईजी अमिताभ यश ने भी पुष्टि की है. उनके मुताबिक अजय कालिया से मुठभेड़ एसटीएफ और नोएडा पुलिस का संयुक्त अभियान था. यह मुठभेड़ नोएडा के सेक्टर 20 में हुई. घायल हालत में बदमाश अजय को इलाज के लिए एक अस्पताल में ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.आईजी एसटीएफ के मुताबिक ढेर हुए बदमाश की मथुरा पुलिस को भी लंबे समय से तलाश थी. मथुरा जिले में उसके खिलाफ लूट, दुष्कर्म और डकैती के कई मामले दर्ज थे. पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर दो लाख रुपए इनाम की घोषणा कर रखी थी. इसमें से एक लाख रुपये की इनामी राशि की घोषणा मथुरा पुलिस की ओर से की गई थी. जबकि टप्पल (अलीगढ़) पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपए की इनामी राशि की घोषणा कर रखी थी.

हाइवे पर लूट की घटनाओं को देता था अंजाम

पता चला है कि बीते साल 20 जनवरी को अजय कालिया ने साथी डकैतों के साथ के एमपी रोड पर पलवल इलाके में एक वारदात को अंजाम दिया था. उस घटना में आरोपी अजय कालिया व उसके साथियों ने वाहन को पंचर करके सवारियों से लूटपाट की थी. लूटपाट करने के बाद गैंग ने 14 साल के एक बच्चे के साथ घिनौनी हरकत भी की थी. अजय कालिया के खिलाफ मथुरा के नौझील, पलवल के थाना हथिन, सदर में कई आपराधिक मुकदमे दर्ज मिले हैं.इसके अलावा अजय उर्फ कालिया से कुछ समय पहले बुलंदशहर गैंग रेप मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने भी गहन पूछताछ की थी. यूपी एसटीएफ प्रमुख के मुताबिक मुठभेड़ में ढेर बदमाश अजय कालिया और उसका गैंग हमेशा हाईवे पर ही लूट की घटनााओं को अंजाम देता था. यह गैंग घुमन्तु जनजातियों के कुख्यात बदमाशों को मिलाकर बनाया गया है. अजय उर्फ कालिया के अन्य साथी बदमाशों की तलाश में हरियाणा और यूपी में छापेमारी अभी भी जारी है.

यह भी देखे:-

बैंक की दीवार चोरों ने तोड़ी
उत्तर प्रदेश : पुलिस मुठभेड़ में ईनामी डकैत ढेड़ , बाल-बाल बचे एसएसपी -एसपी
सात फेरों के घोटाले में तीन जोड़े गिरफ्तार, आरोपी प्रधान के तलाश में जुटी पुलिस
UPDATE: आधे घंटे में दो मुठभेड़, तीन बदमाशों को लगी गोली, चार शातिर बदमाश गिरफ्तार
जावली गैंग के सक्रिय बदमाश गिरफ्तार
लड़की का सहारा लेकर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, नौ गिरफ्तार
हत्यारे बाउंसर गिफ्तार, टोल टैक्स नहीं चुकाने पर चालक की पीट-पीटकर की हत्या
बाइक बोट फर्जीवाड़ा मामले में इन 15 आरोपियों पर लगा गैंगस्टर, देखें
रंगदारी न देने पर सपा नेता के पौत्र को अगवा करने की धमकी
गौतमबुद्धनगर : पुलिस क्षेत्राधिकारियों के कार्यक्षेत्र में बदलाव
दादरी पुलिस ने चोरी का खुलासा करते हुए तीन चोरों को दबोचा
नारियल के साथ गांजा छुपाकर तस्करी का खुलासा
बंद पड़ी कंपनी में चोरी करने वाला गिरफ्तार
देखें VIDEO, ग्रेटर नोएडा : दाल नहीं गली और पकड़ा गया फर्जी आईएएस अधिकारी
एटीएम से पैसा निकालने वाले ये खबर जरुर पढ़ें, एटीएम कार्ड बदलकर ठगी वाले बदमाश पकड़े गए
सोसाइटी में चोरी करने घुसा बदमाश पकड़ा गया