एचआईवी या एड्स पीड़ित लोगों में कोरोना का असर कम, दिल्‍ली एम्‍स में हुए अध्‍ययन में दावा

नई दिल्‍ली, पीटीआइ। दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के एक अध्ययन में पाया गया है कि एचआईवी या एड्स पीड़ित लोग कोरोना वायरस के प्रति कम संवेदनशील हो सकते हैं। शोध के अनुसार, एचआईवी और एड्स से पीड़ित लोगों में एंटीबॉडी की मौजूदगी या SARS-CoV-2 के खिलाफ सीरोप्रवेलेंस कम पाई गई। शोधकर्ताओं ने पिछले साल एक सितंबर से 30 नवंबर के बीच एम्स के एंटी-रेट्रोवायरल थेरेपी (एआरटी) केंद्र से भर्ती किए गए 164 एचआईवी/एड्स (औसत 41.2 वर्ष की उम्र) लोगों पर अध्ययन किया है।

हालांकि अभी इस अध्ययन की समीक्षा की जानी है। एचआईवी/एड्स से पीड़ित 164 लोगों में एंटीबॉडी का प्रसार 14 फीसद पाया गया जो अपनी एंटी-रेट्रोवायरल थेरेपी के लिए अस्पताल आए थे। यानी 14 फीसद रोगियों में SARS CoV-2 के खिलाफ सकारात्मक सीरोलॉजी का पता चला। यह अध्ययन 41.2 वर्ष की औसत आयु और 55 फीसद पुरुषों पर किया गया था। अध्‍ययन में कहा गया है कि एचआईवी/एड्स पीड़ि‍त लोगों में कोरोना की व्यापकता सामान्य आबादी की तुलना में कम पाई गई।

अध्‍ययन में पाया गया कि 14 फीसद यानी 23 लोग SARS-CoV-2 के लिए सीरोपॉजिटिव थे। टीम ने बताया कि अधिकांश सीरोपॉजिटिव रोगियों में COVID-19 के न्यूनतम या कोई लक्षण नहीं थे। एचआईवी और एड्स से पीड़ित लोगों के नमूने सितंबर और नवंबर 2020 के बीच तब एकत्र किए गए थे जब दिल्ली में औसत सीरोपॉजिविटी 25.7 फीसद थी। ऐसा भी हो सकता है कि अधिकांश एचआइवी पॉजिटिव घर के अंदर रहे हों और संक्रमितों के संपर्क में नहीं आए हों जिससे उनमें सीरोप्रवेलेंस कम पाई गई थी…

वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि ऐसा भी हो सकता है कि एचआईवी और एड्स से पीड़ित लोगों के शरीर ने एंटीबॉडी नहीं बनाई हो या संक्रमितों ने इसे ज्‍यादा दिन तक नहीं बनाए रखा हो। उल्‍लेखनीय है कि सीरोप्रिविलेंस (Seroprevalence) आबादी में किसी बीमारी के सटीक प्रसार का अनुमान लगाने में मदद करता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मौजूदा अध्ययन एचआईवी और एड्स से पीड़ित लोगों में कोरोना वायरस के आम लोगों की तुलना में कम होने का संकेत देता है।

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा: डीसीपी  कोरोना वायरस से हुए संक्रमित
नेफोवा कार्यकारिणी के सदस्यों का चुनाव सम्पन्न हुआ, नेफोवा की टीम का विस्तार किया गया
DU Exam Form 2021: यूजी, पीजी और प्रोफेशनल के स्टूडेंट्स के लिए डीयू ने जारी किया नोटिफिकेशन, 28 फरव...
ऑर्डर कैंसिल करने से भड़क गया जोमैटो का डिलिवरी ब्वॉय, लड़की के चेहरे पर जड़ दिया मुक्का
जी डी गोयंका पब्लिक स्कूल में गुरु नानक देव जी की जयंती पर आन लाइन विशेष प्रार्थना सभा
लखनऊ में कोरोना संग बढ़ा वायरल बुखार का प्रकोप, 200 नए मरीज, निजी अस्पतालों में बढ़ रही लगातार भीड़
गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने जारी किया 988 हिस्ट्रीशीटर की सूची
कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट का खतरा बढ़ा, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने राज्‍यों को लिखा पत्र, दिए ये न...
नोएडा प्राधिकरण ने करोड़ों रूपये की जमीन अतिक्रमण से मुक्त कराई
जानिए आज का कोरोना अपडेट, गौतमबुद्ध नगर
कैप्‍टन अमरिंदर सिंह का सीएम पद से इस्‍तीफा, कहा- मेरा अपमान किया गया
तमिलनाडुः कार में DGP ने महिला IPS को गाना सुनाकर किया KISS, महिला IPS की डीजीपी की शिकायत शासन ने ...
'केंद्र नए कृषि कानूनों को ले सकता है वापस', भाजपा नेता ने बताई बड़ी वजह
ग्रामों के विकास से देश सम्पूर्णता की ओर तेजी से अग्रसर होगा : धीरेन्द्र सिंह
मिशन शक्ति पखवाडे के तहत छात्रों द्वारा नुक्कड नाटक
नोएडा के पूर्व एसएसपी वैभव कृष्ण बहाल, एक साल पहले हुए थे सस्पेंड