लखनऊ: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपने दो दिवसीय लखनऊ दौरे पर, राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने किया स्वागत

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दो दिन के लखनऊ दौरे पर हैं। जहां वह कई कार्यक्रमों में भाग लेंगे। सोमवार को वह प्रेसिडेंशियल ट्रेन से लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। जहां राज्यपाल आनंदीबेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया। स्वागत के बाद राष्ट्रपति राजभवन के लिए रवाना हो गए।

राष्ट्रपति की अगवानी के लिए लखनऊ के राजभवन में विशेष व्यवस्था की गई है। यहां पाश्चात्य सभ्यता के साथ-साथ अत्याधुनिक सुविधाएं राष्ट्रपति के लिए उपलब्ध हैं। राष्ट्रपति प्रेसिडेंशियल सुइट में रुकेंगे। यहीं वह दोपहर का भोजन परिवार के साथ करेंगे। शाम को चार बजे सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एनवी रमन्ना और इलाहाबाद हाईकोर्ट के कार्यवाहक न्यायाधीश मुनीश्वर नाथ भंडारी व हाईकोर्ट के अन्य न्यायधीशों के साथ स्वल्पाहार में शामिल होंगे। इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। इसके बाद का कार्यक्रम आरक्षित रखा गया है।

अगले दिन सुबह वह मुख्यमंत्री व प्रदेश सरकार के आमंत्रित मंत्रियों के साथ नाश्ता करेंगे। सुबह 11:30 बजे वह लोकभवन में आम्बेडकर की मूर्ति का शिलान्यास करेंगे। इसके बाद राजभवन वापस आ जाएंगे। यहां से चार बजे लखनऊ एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे जहां से वह दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

कैसा है राष्ट्रपति का सुइट
राष्ट्रपति राजभवन में बने चार कमरों के सुइट में विश्राम करेंगे। इस सुइट में बेड रुम के अतिरिक्त जिम, कॉन्फ्रेंस हाल और डाइनिंग हॉल है। आधुनिक संसाधनों के साथ पाश्चात्य सभ्यता का संगम इस सुइट में दिखेगा। इसमें यूपी के विभिन्न जिलों की कारीगरी का नमूना, प्राचीन मूर्तियां और पेंटिंग शामिल हैं। इस सुइट के सामने दूसरे सुइट में आपात कक्ष बनाया गया है। इसमें राष्ट्रपति भवन की तर्ज पर विशेष कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। यहां हाई स्पीड इंटरनेट, सेटेलाइट फोन और हॉटलाइन के साथ अन्य अत्याधुनिक तकनीक पर आधारित सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

पांच सितारा होटल जैसी व्यवस्था
राष्ट्रपति जिस सुइट में रुकेंगे वहां उनकी गरिमा के अनुरूप पांच सितारा होटल जैसी बेहतर व्यवस्था की गई है। संबंधित क्षेत्र को 48 घंटे पूर्व से ही राष्ट्रपति के आने तक नो मेन जोन घोषित करते हुए राष्ट्रपति की सुरक्षा में लगे जवानों के सुपुर्द कर दिया गया है।

 

 

यह भी देखे:-

विश्व का सबसे बड़ा भारतीय हस्तशिल्प व उपहार मेला कल बुधवार से ग्रेटर नोएडा में
GD GOENKA में बच्चों ने ऑनलाईन पृथ्वी को प्रदूषणऔर अपव्यय से बचाने का संकल्प लिया
एक लाख का वांटेड ईनामी दुजाना गैंग का सदस्य चढ़ा एसटीएफ नोएडा ईकाई के हत्थे
World Arthritis Day 2021: आइए जानें अर्थराइटिस से जुड़े 7 मिथकों की सच्चाई!
यमुना एक्सप्रेस वे: छात्रों से भरी वैन पलटी, कई छात्र घायल
आज का पंचांग , 7 जुलाई 2020 , जानिए शुभ अशुभ मुहूर्त
अब बनारस के घाट नोएडा की सड़कों पे देखिये
LOCK DOWN 3: पब्लिक के लिए जारी किया गया गाइडलाइन्स - RESIDENT GUIDELINES
ग्रेटर नोएडा : कोरोना प्रोटोकॉल के साथ खुले स्कूल
गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी गिरफ्तार
अवैध कॉलोनियों पर यमुना प्राधिकरण की बड़ी कार्यवाही
वाराणसी पहुंचे लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह को पुलिस ने लिया हिरासत में
अतिक्रमण पर नगर पंचायत पर उठे सवाल
प्रधानमंत्री बने तो क्या करेंगे, राहुल गांधी ने बताया अपना मास्टरप्लान
सही मंजिल व लक्ष्य को चुनना ही शिवत्व: आचार्य प्रशांत
Corona Cases: पिछले 24 घंटें में संक्रमितों की संख्या घटी, मौतों में हुआ इजाफा