डेल्टा प्लस को लेकर यूपी में अलर्ट : पड़ोसी राज्यों से सटे जिलों में शुरू होगी जीनोम सिक्वेसिंग

देश के कई राज्यों में कोविड 19 के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस संक्रमण को देखते हुए राज्य में भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। जिन राज्यों में डेल्टा प्लस के मरीज मिलेंगे, उनसे सटी सीमाओं के जिलों में तत्काल जीनोम सिक्वेसिंग शुरू कराई जाएगी। मुख्यमंत्री योगी ने नए वैरिएंट को लेकर हर स्तर पर सचेत रहने और विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। वह गुरुवार को लोक भवन में उच्च स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड नियंत्रण के लिए प्रदेश सरकार द्वारा अपनायी गयी रणनीति कारगर साबित हुई है। अब नई चुनौती के रूप में नया वैरिएंट सामने आया है। डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर राज्य स्तरीय परामर्शदाता समिति के साथ बैठक कर इस संबंध में आवश्यक रणनीति तय की जाए। उन्होंने कहा कि डेल्टा प्लस की पुष्टि पड़ोसी राज्यों में होती है तो सीमा से सटे जिलों में विशेष सावधानी बरती जाए।
पड़ोसी जिलों के लोगों के सैंपल लेकर जीनोम सिक्वेंसिंग कराई जाए। जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए केजीएमयू में सुविधाएं जल्द से जल्द उपलब्ध कराई जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीआईसीयू व एनआईसीयू स्थापना की प्रतिदिन समीक्षा की जाए। बाईपैप मशीन, मोबाइल एक्स.रे मशीन सहित सभी जरूरी मेडिकल उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इसके लिए निर्माता कंपनियों से सीधे संवाद किया जाए।

उन्होंने कहा कि चिकित्सकों एवं नर्सिंग स्टाफ  के पहले चरण का प्रशिक्षण कार्य पूरा हो चुका है। इनके माध्यम से अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को प्रशिक्षित किया जाए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विशेषज्ञों के परामर्श के अनुसार सभी जरूरी उपयोगी दवाओं की व्यवस्था भी कर ली जाए। आगामी एक पखवारे में यह सभी कार्य पूर्ण कर लिए जाएं। स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग की कार्यवाही प्रभावी ढंग से जारी रखी जाए।

 

यह भी देखे:-

समाजसेवा के क्षेत्र में राहुल जाटव को मिला समता अवार्ड
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहुंचे बाबा दरबार में, षोडशोपचार पूजन के बाद उतारी आरती
ग्रेटर नोएडा : घर में महिला की लाश, जांच में जुटी पुलिस
वाराणसी में गंगा में पर्यटन विस्तार को आधार देंगे प्रधानमंत्री, पर्यटकों को आकर्षित करेंगे क्रूज
वाराणसी में हुई बारिश तो सरकार की खुली पोल सड़क पर पानी ही पानी अन्दर गढ्ढा ऊपर वाहन
राहुल व प्रियंका गाँधी को पुलिस ने हिरासत से छोड़ा 
NHRC Foundation Day: मोदी बोले- 'मानवाधिकार' के मुद्दों को चुनकर उठाने वाले पहुंचा रहे देश की छवि को...
जानें बंगाल के उस मुस्लिम युवक के बारे में, जिसकी बातें सुनी पीएम मोदी ने
ग्रेटर नोएडा: भारतीय नववर्ष स्वागत उत्सव का शुभारंभ
Weather Update: दिल्ली, यूपी, राज्यों में भारी बारिश की संभावना, जानें- मौसम का ताजा अपडेट
4 सप्ताह बढ़ जाएगी गर्भपात की सीमा, विधेयक को राज्यसभा ने भी दी मंजूरी
लॉक डाउन के अवधि की स्कूल फीस माफ़ हो : नेफोमा
Cryptocurrency किसी भी वित्तीय प्रणाली के लिए गंभीर खतरा- RBI गवर्नर शक्तिकांत दास
ममता का मास्टर स्ट्रोक- आलापन बंद्योपाध्याय को बनाया अपना मुख्य सलाहकार, अब क्या करेगी मोदी सरकार
शारदा विवि ने एमईएससी के साथ किया करार, दो नए कोर्स से उज्ज्वल होंगे छात्रों के भविष्य
'आप व्यवस्था को बदले या व्यवस्था आपको, यह इरादों पर निर्भर', पुलिस की छवि सुधारना बड़ी चुनौती-नए IPS...