दिल्ली में खेल यूनिवर्सिटी: केजरीवाल बोले- हमारा बहुत बड़ा सपना पूरा हो रहा है, कर्णम मल्लेश्वरी होंगी पहली कुलपति

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जानकारी दी है कि दिल्ली की स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी जल्द ही शुरू होने वाली है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि इसकी पहली कुलपति ओलंपिक पदक विजेता कर्णम मल्लेश्वरी होंगी। उन्होंने ट्वीट किया, दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी शुरू हो रही है। हमारा बहुत बड़ा सपना पूरा हुआ। मुझे ये कहते हुए बेहद गर्व है कि ओलंपिक पदक विजेता कर्णम मल्लेश्वरी जी पहली कुलपति होंगी। आज उनके साथ मुलाकात हुई और विस्तार से चर्चा हुई।

भारत की पहली महिला वेटलिफ्टर जिसने ओलंपिक में जीता पदक
कर्णम मल्लेश्वरी ने 2000 सिडनी ओलंपिक में वेट लिफ्टिंग में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। उनका रिकॉर्ड अब भी बरकरार है, क्योंकि भारत की किसी भी महिला ने ओलंपिक में वेट लिफ्टिंग में मेडल नहीं जीता है। मल्लेश्वरी को 1994 में अर्जुन पुरस्कार और 1999 में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। वह 1999 में पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित की गईं थीं। मल्लेश्वरी अब एफसीआई में मुख्य महाप्रबंधक के रूप में कार्यरत हैं और परिवार के साथ जगाधरी के सेक्टर 18 में रहती हैं।

वेटलिफ्टर कर्णम मल्लेश्वरी  ‘द आयरन लेडी’ के नाम से मशहूर हैं। मल्लेश्वरी ने 25 साल की उम्र में सितंबर 2000 में सिडनी ओलंपिक में कुल 240 किलोग्राम में स्नैच श्रेणी में 110 किलोग्राम और क्लीन एंड जर्क में 130 किलोग्राम भार उठाया और ओलंपिक में पदक (कांस्य) जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनीं। इसके बाद उनकी ऐतिहासिक उपलब्धियों की वजह से उन्हें जनता ने ’द आयरन लेडी’ नाम दिया।

ताकि दिल्ली में हो सके 2048 के ओलंपिक खेल
दिल्ली सरकार ने वर्ष 2021-22 के बजट में दिल्ली में वर्ष 2048 के ओलंपिक खेलों के आयोजन का विजन दिया है। सरकार ने अपने देशभक्ति बजट में खेल को लेकर यह बड़ा सपना देखा है। सरकार का सपना है कि दिल्ली ओलंपिक खेलों की मेजबानी करे। इसके लिए अभी से तैयारी भी शुरू कर दी गई है। राजधानी में खेलों का बुनियादी ढांचा बड़े स्तर पर मजबूत किया जाएगा।

दिल्ली सरकार ने आजादी के सौ वर्ष पूरे होने पर वर्ष 2048 में 39वें ओलंपिक खेलों की मेजबानी का लक्ष्य तय किया है। इससे पहले सरकार का लक्ष्य कम से कम 10 खेल क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय मेडल विनिंग चैंपियंस तैयार करना है।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट भाषण में कहा था कि 1896 में एथेंस से शुरू होकर अब तक ओलंपिक की मशाल कभी दिल्ली में नहीं आई। अगले 32वें ओलंपिक गेम्स टोकियो में आयोजित होने हैं। इसके बाद के अगले तीन ओलंपिक खेलों के आयोजन के देश तय हो चुके हैं।

वित्तमंत्री ने कहा था कि दिल्ली में खेल प्रतिभाओं को विश्वस्तरीय प्रतियोगिताओं के लिए तैयार करने के लिए स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाई है। इस यूनिवर्सिटी के माध्यम से खेल सुविधाओं और प्रतियोगिताओं को इस स्तर तक लाने का लक्ष्य रखा गया है कि जिससे कि 2048 के 39वें ओलंपिक खेल प्रतियोगिताओं की मेजबानी के लिए आवेदन किया जा सके।

आज आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर यह सपना देखना जरूरी है। 2048 दूर लग सकता है, लेकिन इसके लगभग 10 साल पहले इसकी बीडिंग करनी होगी। इससे पहले 15 साल संसाधन तैयार करने, वातावरण बनाने में लगेंगे।
 

यह भी देखे:-

IPL 2021, PBKS vs MI: मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने बताया, किन गलतियों की वजह से पंजाब से म...
एन आई ई टी, ग्रेटर नोएडा ने SIH 2019 का ग्रैंड फिनाले जीता
पेट्रोल -डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर कांग्रेस का धरना प्रदर्शन
विश्व जल दिवस : पानी की चोरी रोकने में जुटे कई पुलिसकर्मी, जानिए एक मिनट में कितना पानी होता है बर्ब...
जीएल बजाज में कवि सम्मेलन के रूप में भौतिक मोड में "मातृभाषा दिवस" मनाया गया
वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह  के निधन पर पीएम मोदी  ने जताया दु:ख
रेटिंग से आप जान पाएंगे 'किस सोसाइटी में कितनी बढ़ियां हैं मेनटेनेंस सेवाएं '
55 घंटे में गिरी BJP सरकार,HD कुमारस्वामी होंगे कर्नाटका के नए मुख्यमंत्री
राम भक्त केजरीवाल सरकार : दिल्ली के बुजुर्गों को मुफ्त कराएगी अयोध्या की यात्रा
आईजीसी 2018 शिविर : बालक वर्ग में कामेश गुप्ता व बालिका वर्ग में शमा परवीन बने बेस्ट कैडेट्स
Navratri 2021 Day 8: नवरात्रि के आठवें दिन मां महगौरी की होती है पूजा, जानें आरती और कथा समेत हर जान...
ग्रीन बेल्ट में पेड़ो में लगी दीमक से हो रहे नुकसान को लेकर करप्शन फ्री इंडिया संगठन का प्राधिकरण पर ...
Google भरेगा 4400 करोड़ का फाइन, जानें वजह
आज का पंचांग , 25 जून 2020 , जानिए शुभ व अशुभ मुहूर्त
पुण्यतिथि पर चौधरी चरण सिंह को भावपूर्ण श्रद्धांजलि, याद किए गए किसानों के मसीहा
लूट के बाद कैब चालक कि हत्या, हाइवे पर मिली कार में लाश