कोविड से उबर चुके लोगों पर 12 महीनों तक काम कर सकती है कोविशील्‍ड की एक ही खुराक- शोध में हुआ खुलासा

हैदराबाद (एएनआई)। भारत में कोरोना वैक्‍सीन की कमी के मद्देनजर एशियन इंस्टिट्यूट ऑफ गेस्‍ट्रोएंट्रोलॉजी (एआईजी) अस्‍पताल के प्रमुख डॉक्‍टर डी नागेश्‍वर रेड्डी ने कहा है कि ये जरूरी है कि वैक्‍सीन का इस्‍तेमाल पूरी सावधानी और समझदारी से किया जाए। उन्‍होंने एआईजी में हुई रिसर्च हवाले से बताया है कि जो लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं उनके लिए 12 महीनों तक कोविशील्‍ड की एक ही खुराक लेना काफी है।

आपको बता दें कि वैक्‍सीन की खुराक को लेकर अब तक कई तरह के शोध सामने आ चुके हैं। इन सभी शोध का अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर मूल्‍यांकन और विश्‍लेषण भी किया जाता है। कुछ समय पहले एक रिपोर्ट में बताया गया था कि कोवैक्‍सीन की तुलना में कोविशील्‍ड शरीर के अंदर अधिक एंटीबॉडीज का निर्माण करती है, जिससे हमारा इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है और शरीर को वायरस से लड़ने में मदद करता है।

हालांकि इस रिपोर्ट पर कोवैक्‍सीन को बनाने वाली कंपनी ने बयान जारी कर कहा था कि इस तरह के तुलनात्‍मक अध्‍ययन का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। हालांकि रिपोर्ट में ये भी साफ किया गया था कि भारत में निर्मित दोनों ही वैक्‍सीन वायरस पर कारगर हैं। यहां पर इस बात को भी ध्‍यान में रखना जरूरी है कि वैक्‍सीन की खुराक को लेकर देश ही नहीं दुनियाभर में मंथन चल रहा है। वहीं भारत की ही बात करें तो यहां पर कोविशील्‍ड की दो खुराकों के बीच समय को बढ़ाकर 12 सप्‍ताह का कर दिया गया है। वहीं कोवैक्‍सीन पर ये लागू नहीं होता है।

यह भी देखे:-

पीएम मोदी बोले- कोरोना महामारी दिला रही याद अभी खत्‍म नहीं हुआ जलवायु परिवर्तन का खतरा
मीटिंग के टेलीकास्ट पर PM की केजरीवाल को नसीहत, संयम का पालन करें, दिल्ली सीएम ने मांगी माफी
सहोदया स्कूल कॉम्पेक्स ,एन सी आर " " पंचम वार्षिक सम्मेलन 2021 "
इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनी स्थल पुरस्कार से सम्मानित किया गया
कोविड-19 महामारी को लेकर गौतमबुद्ध नगर सैंपलिंग वैन का शुभारंभ
बिजली बिल में गौतमबुद्धनगर के निवासियों को राहत दे सरकार : एक्टिव सिटिज़न टीम , सीम योगी को भेजा ज्ञा...
वाराणसी: शहरी-ग्रामीण इलाकों में कल से शुरू होगा सीरो सर्वे, केजीएमयू भेजे जाएंगे सैंपल
साढ़े छह घंटे तक चले चूहे बिल्ली के खेल के बाद पुलिस कस्टडी से फरार 25 हज़ार के इनामी बदमाश को दबोचने ...
जानिए ओलंपिक खेलों में कब से शुरू हुई थी पदक देने की परंपरा
फीस वृद्धि मामले में डीएम की बैठक : कहा,  विवाद की स्थिति में बच्चों को स्कूल छोड़ने को मजबूर नहीं क...
ग्रेटर नोएडा : शाहबेरी में गिराई जाएंगी 21 अवैध बिल्डिंग
Lockdown Update News: 6 महीने के टॉप पर कोरोना का कहर, एमपी, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र के इन शहरों में ल...
शारदा विश्विद्यालय में जल संरक्षण पर "जल है तो कल है " कार्यक्रम का आयोजन
अखिलेश जी के जन्मदिन पर जनता की सेवा ही सबसे बड़ा तोहफा: डॉ आश्रय गुप्ता
दिल्ली का मौसम : आंधी ने किया परेशान, आज से बढ़ेगा तापमान
ईनामी डकैत चढ़ा एसटीएफ नोएडा के हत्थे