कोरोना में अनाथ हुए बच्चों को निःशुल्क शिक्षा देगा पीआइआइटी संस्थान 

ग्रेटर नोएडा : आज पी.आई.आई.टी., के प्रांगण में अनाथ बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई। इसमें पी.आई.आई.टी. के चेयरमैन, प्रो० डॉ० भरत सिंह जी ने कोविड 19 महामारी के कारण जिन बच्चों के माता – पिता/ अभिभावक इस दुनिया में नहीं रहे, उन बच्चों की अपने संस्थानों में चलाए जा रहे स्कूल शिक्षा से लेकर उच्च प्राविधिक शिक्षा, मैनेजमेंट शिक्षा एवं अन्य विभिन्न कोर्स (स्कूली शिक्षा, बी.बी.ए., बी.सी.ए., एम.बी.ए., बी.एड., बी.टी.सी., डिप्लोमा पॉलिटेक्निक, नर्सिंग, फार्मेसी, बी.टेक., एम.टेक. आदि) में निः शुल्क शिक्षा देने की घोषणा की है। यह एक बहुत ही सराहनीय एवं समाज के लिए महत्वपूर्ण पहल है। इसके साथ साथ डॉ० भरत सिंह जी ने एक कदम और आगे बढ़कर ऐलान किया कि जिन बच्चों के माता – पिता की कोविड-19 के कारण नौकरी चली गई (प्रमाण के साथ), उन बच्चों की सभी कोर्स में फीस आधी कर दी जाएगी। यह भी इस समय में श्रेष्ठ कार्य है और देश के लिए शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ा योगदान है।

हमको यह भी ज्ञात हुआ कि गैर सहायता प्राप्त पी.आई.आई.टी. में कम से कम 7 साल पहले से बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ अभियान में सभी बेटियों को आधी फीस में शिक्षा मिलती है। इस कदम से बेटियों की शिक्षा को काफी प्रोत्साहन मिला है। इस इंस्टीट्यूट में एक ये भी खास विशेषता है कि कोई भी वास्तव में गरीब बच्चे फीस के अभाव में दाखिले से वंचित नहीं किए जाते।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, प्रो० डॉ० बी. एस. राजपूत, पूर्व कुलपति, गढ़वाल एवं कुमाऊं विश्वविद्यालय, उत्तराखंड ने इन सभी क़दमों की प्रशंसा करते हुए शिक्षा की गुणवत्ता एवं समय के अनुसार शिक्षा में बदलाव पर प्रकाश डाला। प्रो० डॉ० बी. एस. राजपूत जी ने पहले भी पी.आई.आई.टी. के विकास के लिए पूर्ण सहयोग एवं सलाह देते रहे हैं और वे भविष्य में भी पी.आई.आई.टी. को पूर्ण विश्वविद्यालय के रूप में देखने का आशीर्वाद दिया।

कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि के रूप में पधारे  आनंद साहू जी, भाजपा नेता और बोर्ड सदस्य, श्रम मंत्रालय, भारत सरकार ने पी.आई.आई.टी. के चेयरमैन प्रो० डॉ० भरत सिंह द्वारा उठाए गए इस कदम की भूरी – भूरी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि ऐसे वक्त में इन अनाथ बच्चों की पूर्ण शिक्षा का जो जुम्मा लिए है, यह एक साहसी कदम है जो शिक्षा के लिए ओत प्रोत है। इसके साथ उन्होंने यहां के विद्यार्थियों को विभिन्न कंपनियों में प्लेस कराने का आश्वासन दिया जिससे बच्चों का भविष्य सुरक्षित बना रहे और वे अपने जीवन को उज्जवल बना सकें। उन्होंने यह भी कहा कि, डॉ० भरत सिंह जी ने इस मुहिम की जागरूकता के लिए हम सबको बुलाकर इस पुण्य कार्य में सहभागी बनाया है। अंत में, पी.आई.आई.टी. के निदेशक, श्री आर के शाक्य जी ने सभी मीडिया बंधुओं का आभार व्यक्त करते हुए सबको धन्यवाद दिया।

यह भी देखे:-

जीएलबीआईएमआर को मिला ‘‘बेस्ट बी-स्कूल फार इण्डस्ट्री इण्टरफेस अवार्ड’’
गुरु रंधवा की रंगारंग प्रस्तुती के साथ शारदा यूनिवर्सिटी "कोरस 2017" का समापन
आईआईएमटी : डॉक्यू फेस्ट में पीपल्स कॉलेज भोपाल और एमिटी यूनिवर्सिटी ने मारी बाजी
बाल शिक्षा अधिकार की अवहेलना करने वाले इन 16 स्कूलों को नोटिस जारी
अगर देश बदलना है तो बदलनी होगी सोच : ममता शर्मा
विश्व स्तर पर शांति स्थापित कराने के लिए समसारा विद्यालय सम्मानित
सीबीएसई 10 वीं के नतीजे घोषित , एक साथ 13 बच्चे हुए टॉप
इंटरमीडिएट के छात्रों को किया सम्मानित
सिटी हार्ट में नाटक के माध्यम से छात्रों ने बताया गुरु का महत्त्व
केन्दीय मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने सीबीएसई 12 वीं की टॉपर रक्षा गोपाल को सम्मानित किया
एकेटीयू द्वारा रद्द किए गए परीक्षाओं की नई समय सारणी जारी
RYAN INTERNATIONAL SCHOOL :  Christmas – A Season of delight, liveliness & contentment 
DATA STORY: जानें, एशिया में किन देशों की हवा बेहतर है और किनकी खराब, भारत की स्थिति में हुआ सुधार
कोरोना : देश में थम रही रफ्तार, जानें क्‍या कहते हैं आंकड़े
एनआईईटी में नए कैम्ब्रिज अंग्रेजी परीक्षा केंद्र का शुभारंभ
जहांगीरपुर: छात्र -छात्राओं ने निकाली स्वच्छता अभियान रैली