किसान आंदोलन के बीच केंद्र का फैसला- खरीफ फसलों पर MSP 50% तक बढ़ाई गई, तिल पर सबसे अधिक 452 रूपए प्रति क्विंटल

करीब छह महीने से भी अधिक समय से चल रहे किसान आंदोलन के बीच मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। बुधवार को कैबिनेट ने धान सहित कई खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एएसपी) में वृद्धि कर दी है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कैबिनेट द्वारा लिए गए फैसले के बाद अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये जानकारी दी है। धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर 72 रुपये प्रति क्विंटल की वृद्धि कर अब साल 2021-22 के लिए 1940 रूपए प्रति क्विंटल कर दिया गया है। पिछले साल धान पर एमएसपी 1,868 प्रति क्विंटल थी।

वहीं, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि इस साल तिल के भाव में एमएसपी में सबसे अधिक 452 रूपए प्रति क्विंटल की वृद्धि की गई है,जबकि उड़द और तुअर के भाव में 300 रूपए प्रति क्विंटल की वृद्धि की गई है। पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में ये कैबिनेट बैठक बुलाई गई थी। एमएसपी दर पर सरकार किसानों से अनाज की खरीद करती है।

केंद्रीय मंत्री तोमर ने कहा है कि केंद्र सरकार ने खरीफ की फसलों की एमएसपी में 50 फीसदी तक वृद्धि करने का फैसला किया है। आगे उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार लगातार किसानों के हित में फैसले ले रही है। उनकी समस्याओं के समाधान को लेकर चर्चा करने के लिए हर वक्त तैयार रहती है।

गौरतलब है कि केंद्र और किसान इस वक्त आमने-सामने हैं। छह महीने से भी अधिक समय से देश के अलग-अलग राज्यों से, खास तौर से पंजाब,हरियाणा के किसान दिल्ली में डेरा डाले बैठे हैं। किसानों की मांग है कि केंद्र द्वारा बीते साल लाए गए तीनों कृषि संबंधी कानूनों को रद्द किया जाए जबकि केंद्र संशोधन की बात पर अड़ी हुई है। केंद्र और किसानों के बीच में अब तक दस से अधिक दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन कोई समाधान नहीं निकला है। हालांकि, इस साल की शुरूआत में ही सुप्रीम कोर्ट कानून पर अंतरिम रोक लगा चुका है।

यह भी देखे:-

जेवर: प्रज्ञान व डिवाइन मदर में छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश कर समां बांधा
दिल्ली एनसीआर में धरती कांपने से थर्राए लोग
आज से दौड़ेगी लखनऊ मेट्रो, सुबह सात से शाम सात तक होगा संचालन, शनिवार-रविवार को रहेगी बंद
ग्रेटर नोएडा : विधि विधान से पूजे गए देव शिल्पी विश्वकर्मा, भोजपुरी कलाकरों ने बिखेरा जलवा
World Tuberculosis Day 2021: कोरोनाकाल में टीबी की दवा न छोड़ें मरीज, हो सकता है खतरा
Akshay Kumar हुए अस्पताल में भर्ती, लड़ रहे हैं कोरोना वायरस से जंग
शारदा विश्विद्यालय में हुआ शिक्षकों का सम्मान
जनसमस्या: ग्रेटर नोएडा वेस्ट के इस सड़क पर स्ट्रीट लाईट बने शोपीस
स्पोर्ट्स इंडिया अवार्ड 2019 में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को किया गया सम्मानित
आम आदमी पार्टी का रेरा  के खिलाफ प्रदर्शन, बिल्डरों के साथ सेटिंग का आरोप, मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञाप...
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा अब तक 10 लाख लोगों को वितरित किये गए फ़ूड पैकेट्स
किसान परिवार से चिकित्सा के क्षेत्र में उभरती हुई प्रतिभा को करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने किया सम्मान...
रेल यात्रियों को राहत! पटना के रास्ते कोलकाता-अमृतसर के बीच चलेगी सुपरफास्ट ट्रेन, जानें शेड्यूल
ग्रेटर नोएडा : दो परिवारों की ख़ुशी मातम में बदली, पढ़ें पूरी खबर
मिशन प्रेरणा ज्ञानोत्सव  कार्यक्रम में प्रेरक  बालक ,बालिका,  उत्कृष्ट अध्यापक, अध्यापिका , शिक्षामि...
शारदा विश्विद्यालय में फ्रेशर पार्टी, छात्र-छात्राएं म्यूजिक पर थिरके, उमंग सेठी मिस्टर फ्रेशर तो चा...