यूपी : 65 जिला पंचायतों में अध्यक्ष बनाने का भाजपा का लक्ष्य, जिपं और क्षेपं अध्यक्ष चुनाव की तारीखों का ऐलान जल्द

भाजपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में प्रदेश की 75 में से 65 सीटों पर काबिज होने का लक्ष्य तय किया है। मुख्यमंत्री आवास पर बुधवार रात हुई पार्टी की कोर कमेटी की बैठक में रणनीति पर मंथन किया गया। इसको लेकर प्रदेश सरकार जल्द अधिसूचना जारी कर सकती है। इसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग अधिसूचना जारी करेगा।

 

प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए अब तक हुई तैयारी की जानकारी दी। 65 में से करीब 55 से अधिक जिला पंचायतों में भाजपा की तैयारी पूरी है। जानकारों का मानना है कि 2015 में तत्कालीन सत्तारूढ़ दल सपा के 62 जिला पंचायत अध्यक्ष थे। भाजपा ने सपा का रिकार्ड तोड़ने के लिए 65 का लक्ष्य रखा है। उम्मीदवारों की घोषणा के साथ ही पार्टी हर जिले में मंत्रियों, सांसदों और विधायकों की देखरेख में चुनाव कराएगी।

 

सभी सदस्यों को मतदान के दिन तक किसी होटल, रिसोर्ट, धर्मशाला, स्कूल-कॉलेज भवन में  पार्टी की निगरानी में रखा जाएगा। उधर, क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष पद के लिए भी उम्मीदवार चयन की कवायद शुरू हो गई है। पार्टी ने 500 से अधिक क्षेत्र पंचायतों में अध्यक्ष पद पर चुनाव जिताने की रणनीति बनाई गई है। योजना है कि जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव होने के 10 से 15 दिन बाद क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव कराए जाएंगे। दोनों चुनाव 15 जुलाई तक कराने की योजना है।

ना प्रमाण पत्र दिखाएंगे, ना ही सदस्य बताएंगे
जिला पंचायत अध्यक्ष पद के दावेदार अपने पास पर्याप्त संख्या बल होने का दावा तो कर रहे हैं लेकिन प्रतिद्वंद्वी दावेदार के पास सूचना पहुंचने के भय से पार्टी के बड़े नेताओं को भी मौजूद सदस्यों के प्रमाण पत्र दिखाने को तैयार नहीं है। इतना ही नहीं दावेदार उनके पाले में बैठे सदस्यों की परेड कराने को भी तैयार नहीं है। दावेदार दावा कर रहे हैं कि पार्टी जैसे ही टिकट दे देगी वैसे ही प्रमाण पत्र और सदस्यों को पेश कर देंगे। दावेदारों के इस रुख से पार्टी के बड़े नेताओं की मुसीबत बढ़ गई है।

आयोगों में अध्यक्ष की नियुक्ति जल्द
राज्य अल्पसंख्यक आयोग, अन्य पिछड़ा वर्ग आयोग और अनुसूचित जाति आयोग में अध्यक्ष की नियुक्ति जल्द होगी। बुधवार रात मुख्यमंत्री आवास पर सीएम की मौजूदगी में भाजपा कोर कमेटी की बैठक में आयोगों और बोर्डों में अध्यक्ष के खाली पदों पर नियुक्ति पर मंथन किया गया। सरकार जल्द ही तीनों प्रमुख आयोगों के साथ अन्य निगम, आयोग और बोर्डों में रिक्त पदों पर नियुक्ति का सिलसिला शुरू करेगी। सूत्रों के मुताबिक तीनों आयोगों के लिए नाम तय कर लिए गए हैं।

 

यह भी देखे:-

अब भारत बताएगा दुनिया में कहां, कितना लोकतंत्र, फ्रीडम इंडेक्स और वर्ल्ड डेमोक्रेसी रिपोर्ट लाने की ...
शारदा विश्वविधालय के छात्र रोहन को पैतीस सौ किलोमीटर की सद्धभावना यात्रा के लिए रवाना
CJI बोबडे ने की सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के लिए जस्टिस एनवी रमन्ना के नाम की सिफारिश
Vaccine Side effects: कोरोना वायरस वैक्सीन लगने के बाद इन लोगों में दिख सकते हैं साइड इफेक्ट्स, स्टड...
ग्रेटर नोएडा में बदमाशों ने दो जगह की लूट
प्राइवेट हॉस्पिटल की अमानवीयता, पैसे की मांग पूरी ना होने पर 3 साल की बच्ची ....
टिक टॉक का भारतीय विकल्प है चिंगारी ऐप
दिल्ली-एनसीआर में वाहन चोरी करने वाला बदमाश गिरफ्तार, फर्जी नंबर प्लेट लगी कार बरामद
कोरोना का कहर : जीएसटी रिटर्न की तारीख बढ़ी , पढ़ें पूरी खबर
बसपा 15 को मनाएंगी कांशीराम का जन्म दिवस ,तैयारी बैठक में बसपा कार्यकर्ताओं का उमड़ा जनसैलाब
शिक्षक दिवस : आई0टी0एस0 में योग-सत्र का आयोजन
सामाजिक एम्पीयरस अकादमी ने शिक्षा को बनाया गरीबी मिटाने का मंत्र
ACREX इंडिया2020, आई इ एम एल, ग्रेटर नोएडा में एक स्थायी भविष्य बनाने की दिशा में सबसे बड़े आयोजन की ...
बिना चार्जिंग के 1600 किलोमीटर दौड़ेगी ये इलेक्ट्रिक कार, इस ख़ास तकनीक से है लैस
बसपा की झोली में गई गौतमबुद्ध नगर लोकसभा की सीट
नोएडा: रयान स्कूल के खिलाफ हुआ विरोध प्रदर्शन, जानिए क्यों