योगी आदित्यनाथ बोले- मेरी कोई राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा नहीं, समझिए बयान के मायने

लखनऊ : यूपी बीजेपी में उठापटक के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा की बात को नकारा है। उन्होंने कहा कि जब वह सांसद थे तब भी उनकी कोई महत्वाकांक्षा नहीं थी और आज भी नहीं है। वह खुद को बीजेपी का आम सैनिक बता रहे हैं। दरअसल पिछले दिनों यूपी की सियासत में तेज हलचल के पीछे योगी आदित्यनाथ की राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा को भी वजह माना जा रहा था।

राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा की बात पर क्या बोले योगी
टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में योगी आदित्यनाथ इस सवाल पर कहा, ‘जब मैं सांसद था तब मेरी कोई महत्वाकांक्षा नहीं थी। आज भी मेरी कोई महत्वाकांक्षा नहीं है। उन्होंने कहा कि वह एक आम सैनिक हैं जो बीजेपी के विजन और विकास, सुरक्षा व समृद्धि के लिए पीएम मोदी के कैंपेन पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘राज्य सरकार के पिछले चार वर्षों की उपलब्धियां हैं, उससे ज्यादा खुशी और नहीं हो सकती।’

योगी के बयान के क्या हैं मायने?
योगी के राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा के अटकलों को खारिज करने के कई कयास लगाए जा रहे हैं। पिछले कई दिनों से बीजेपी हाई कमान और योगी के बीच जिस तकरार की चर्चा थी उस पर विराम लगाने की कोशिश की है। साथ ही योगी ने कहा है कि उनका फोकस अब अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव पर है जिसमें उन्होंने बीजेपी के दो तिहाई वोटों से जीतने का दावा किया है।

पीएम बनने की महत्वाकांक्षा रखना स्वाभाविक!
दरअसल यूपी से लेकर दिल्ली के सियासी गलियारों में चर्चा होने लगी कि सीएम योगी आदित्यनाथ और बीजेपी हाई कमान के बीच तकरार काफी बढ़ गई है। इसके पीछे वजह योगी आदित्यनाथ की राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा बताई गई। राजनीतिक विश्लेषक भी मानते हैं कि यूपी की सियासत का असर केंद्र तक है। 80 सांसदों को दिल्ली भेजने वाले राज्य के सीएम का खुद को अगले पीएम के तौर पर देखना स्वाभाविक है।

खुद को पीएम मोदी का विकल्प मानते हैं योगी?
यह भी कहा जाने लगा कि योगी अक्सर यह जताते हैं कि बीजेपी में पीएम मोदी के बाद वह ही विकल्प हैं। यानी वह यूपी की गलियों से निकलकर सीधे प्रधानमंत्री पद की कुर्सी पर आसीन होने की लालसा रख बैठे थे। यही नहीं सोशल मीडिया और अन्य जगहों पर भी अक्सर योगी आदित्यनाथ और पीएम मोदी की तुलना दिखती है कि मोदी के बाद योगी। कई बार योगी को पीएम चेहरे की तरह पेश किया गया। अभियान चलाए गए जैसे, ‘पीएम कैसा हो, योगी जी जैसा हो।’

यह भी देखे:-

Big Breaking: आगरा में शिवरात्रि पर सुबह सुबह बड़ा हादसा, फीरोजाबाद रोड पर नौ की मौत, झारखंड की है द...
हथियार की नोंक पर ट्रक चालक-परिचालक से लूट
Train News: बिहार के यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 24 जून से फिर पटरी पर दौड़ेंगी आठ जोड़ी स्पेशल यात्...
आज का पंचांग , 6 जुलाई 2020 , जानिए शुभ अशुभ मुहूर्त 
सुरेश चन्द बने “मानस अवलोकन संस्था” के अध्यक्ष
पंखे से लटक कर युवक ने दी जान 
जाने कहां चल रहीं हैं विदेशी मेहमानों के आगमन की तैयारियां ? प्रवास के दौरान नहीं होगी इन्हें कोई पर...
अभूतपूर्व: देश के इतिहास ऐसा पहली बार हुआ है कि देश के मुख्यन्यायाधीश NV रमण ने 9 नए जजों को एक साथ...
 मकसद है स्वास्थ्य सेवाओं को उस दरवाजे तक पहुँचाना, जहां इसकी जरूरत है : धीरेन्द्र सिंह 
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगवाया कोरोना का टीका, लोगों से टीका लगवाने की अपील
गौतमबुद्ध नगर : 12 पुलिस चौकी प्रभारी लाइन हाज़िर
Lalu Yadav Bail Granted: लालू को मिली बेल, लेकिन झारखंड हाई कोर्ट ने लगाई ये शर्तें...
PM Garib Kalyan Anna Yojana: PM मोदी से वाराणसी की बदामी देवी बोलीं- हम सब वोट देके जियावत रहब।
आपातकाल: लोकतंत्र सेनानियों में 80% से अधिक संघ के कार्यकर्ता थे - श्री रामलाल
इस देश में भुखमरी की चपेट में 2.7 करोड़ से अधिक लोग, संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों ने की यह अपील
जरूरतमंदो को हर दिन नि:शुल्क खाना खिला रहा है एस्क्लेपियस फाउंडेशन