सागर हत्याकांड: सुशील कुमार को मिलेगा प्रोटीन युक्त भोजन या खानी होगी जेल की दाल-रोटी, याचिका पर फैसला आज

अदालत पहलवान सुशील कुमार की विशेष आहार तथा सप्लीमेंट्स जेल के भीतर उपलब्ध करवाने की मांग वाली याचिका पर बुधवार को फैसला सुनाएगी। ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार एक युवा पहलवान की हत्या के मामले में आरोपी है और जेल में बंद है।

 

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट सतवीर सिंह लांबा ने अभियोजन पक्ष एवं बचाव पक्ष के वकीलों की दलीलें सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया। सुशील कुमार पर हत्या, गैर इरादतन हत्या और अपहरण के आरोप है और वह दिल्ली की मंडोली जेल में बंद है।

 

याचिका में सुशील के वकील प्रदीप राणा, कुमार वैभव ने कहा कि उनका मुवक्किल आईसोलेट व्हे प्रोटीन, ओमेगा-थ्री कैप्सूल, जॉइंटमेंट कैप्सूल, प्री-वर्कआउट सी4, मल्टीविटामिन आदि सप्लीमेंट लेते हैं। उन्होंने कहा कि इन आवश्यक वस्तुओं को देने से इनकार करने का सुशल के करियर पर बुरा असर पड़ेगा, क्योंकि विशेष पोषण आहार तथा सप्लीमेंट उनकी सेहत तथा प्रदर्शन को बनाए रखने के लिहाज से अत्यंत आवश्यक है।

जेल प्रशासन ने अदालत को बताया कि सुशील की चिकित्सीय अवस्था में फूड सप्लीमेंट या अतिरिक्त आहार के रूप में अतिरिक्त प्रोटीन की आवश्यकता नहीं है। इस पर आपत्ति जताते हुए सुशील के अधिवक्ता राणा ने कहा कि विशेष आहार तथा सप्लीमेंट की मांग सुशील कुमार के निजी खर्चे पर की गई है, इसका खर्च जेल अधिकारियों को वहन नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने कहा उनके मुवक्किल ने स्पष्ट किया है कि वह विशेष भाजन इत्यादि का खर्च स्वयं वहन करेगा। बता दें कि सुशील कुमार को 23 मई को गिरफ्तार किया गया था और दो जून को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया था।

 

यह भी देखे:-

जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव: 24-25 जून तक सर्वदलीय बैठक कर सकते हैं पीएम मोदी
Padma Awards 2022: पद्म पुरस्कारों के लिए आज नामांकन की अंतिम तिथि, जानें पूरी प्रक्रिया
सेक्टर पी 3 की सुध लेने वाला कोई नहीं
मदर डेज़ के दिन कई सोसाइटी में अलग अलग तरह से बनाया गया
तीसरे दिन दनकौर क्षेत्र में आयोजित हुआ कांग्रेस संगठन सृजन अभियान
दादरी में कोविड अस्पताल की शुरुआत, डीएम व विधायक ने किया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण
राम जी के जन्म पर गौर सिटी में हुयी बधाई
राजधानी में पानी की किल्लत : दिल्ली सरकार की हरियाणा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका
Earthquake Prone Areas: बिहार, उत्‍तराखंड, हिमाचल... भारत में यहां सबसे ज्‍यादा है भूकंप आने का खतरा
योगी आदित्यनाथ पर तस्वीर हो गई साफ, जाने दिल्ली से आए भाजपा नेता के बयान के मायने
जम्मू-कश्मीर से बाहर ब्याही गई बेटियों को बड़ी राहत, उनके पति भी होंगे डोमिसाइल के हकदार
यूएफओ रिपोर्ट: अंतरिक्ष में दिखने वाली 144 वस्तुओं में से सिर्फ एक की हो सकी पहचान, अमेरिका का बड़ा ...
आईएएस रानी नागर इस्तीफा का मुद्ददा गरमाया , हरियाणा सरकार , हरियाणा विधान सभा का करेंगे घेराव : एडव...
Indian Railways: प्रवासी मजदूरों के आने का सिलसिला तेज, ट्रेनों में मिल रहे सबसे अधिक संक्रमित
लूट करने वाले शातिर इनामी बदमाश गिरफ्तार
अपना जनहित समिति ने जरूरतमंद बच्चों में गर्म कपड़ों का वितरण किया