अलीगढ़ शराब कांड: आबकारी आयुक्त हटाए गए, सीओ और आठ सिपाही भी निलंबित, अब तक 85 की मौत

अलीगढ़ में हुए शराब कांड में सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आबकारी आयुक्त पी गुरुप्रसाद को हटा दिया गया है। उनके स्थान पर प्रतिनियुक्ति से लौटे रिग्जयान सैंफिल को आबकारी आयुक्त बनाया गया है। अभी तक इस मामले में बड़े अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई न करने से सरकार पर सवाल उठ रहे थे।

 

यही नहीं, अलीगढ़ में जहरीली शराब कांड में सीओ गभाना कर्मवीर सिंह को निलंबित कर दिया है। इस मामले में सीओ खैर शिवप्रताप सिंह और सीओ सिटी थर्ड विशाल चौधरी से घटना के संबंध में तीन दिनों के अंदर स्पष्टीकरण देने के लिए कहा गया है। यह जानकारी अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने दी है।

 

एक अन्य घटानाक्रम में एसएसपी अलीगढ़ ने आठ बीट सिपाही निलंबित कर दिए हैं। उन पर आरोप है कि उनके इलाकों में शराब बिकती रही और मौत हो गई और उन्हें भनक तक नहीं लगी। वहीं, उन्होंने बीट सिपाहियों को जरूरी निर्देश भी दिए हैं। इधर, इंस्पेक्टर टप्पल पीके मान के निलंबन के बाद टप्पल में समय सिंह को नया इंस्पेक्टर तैनात किया है।

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि मानवाधिकार सेल के प्रभारी समय सिंह को टप्पल में तैनाती दी गई है। वहीं बीट सिपाहियों पर भी शिकंजा कसा जा रहा है। उन्हें जरूरी हिदायतें दी गई हैं। इसी क्रम में आठ को निलंबित किया गया है।

जानकारी के अनुसार अलीगढ़ में सरकारी ठेके से जहरीली शराब बिकने की घटना को सरकार ने गंभीरता से लिया। अलीगढ़ शराब कांड में यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले संयुक्त आबकारी आयुक्त स्तर तक के अधिकारियों पर ही कार्रवाई हुई थी।

पिछली घटनाएं भी बनी आबकारी आयुक्त के हटने की वजह
प्रदेश में जहरीली शराब की वजह से केवल इस वर्ष एक दर्जन से अधिक घटनाएं हो चुकी हैं, जिसमें 100 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। इसमें प्रतापगढ़ और प्रयागराज में आधा दर्जन घटनाएं, फतेहपुर, चित्रकूट, अम्बेडकरनगर, बदायूं, आजमगढ़ और बुलंदशहर में हुई घटनाएं शामिल हैं।

इन सभी मामलों में शासन और प्रशासन द्वारा जिला स्तर पर कार्रवाई करके खाना पूरी कर दी जा रही थी। पहले इन घटनाओं को पंचायत चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा था। लेकिन पंचायत चुनाव समाप्त होने के बाद भी घटनाओं का सिलसिला जारी था। लेकिन इस बार अलीगढ़ में सरकारी ठेके से लेकर पी गई शराब से दर्जनों लोगों की जान चली गई। इस घटना ने तब और तूल पकड़ लिया जब सता पक्ष के सांसद और विधायक ने ही अधिकारियों पर सवाल उठाने शुरु कर दिए। जिसके बाद सरकार पर कार्रवाई का दबाव काफी बढ़ गया था। माना जा रहा है कि इसी दबाव के कारण ही आबकारी आयुक्त को उनके पद से हटाया गया है।
सहारनपुर और कुशीनगर की घटना के बाद के भी हटाए गए थे आबकारी आयुक्त
फरवरी 2019 में सहारनपुर और कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से 100 से अधिक लोगों की जान चली गई थी। इस घटना के बाद तत्कालीन आबकारी आयुक्त धीरज साहू को हटा दिया गया था। उनके स्थान पर पी गुरुप्रसाद को आबकारी आयुक्त बनाया गया था। अब अलीगढ़ की घटना के बाद पी गुरुप्रसाद को हटाया गया है। सपा शासन काल में 2015 में मलिहाबाद में जहरीली शराब से हुई 35 लोगों की मौत के बाद तत्कालीन आबकारी आयुक्त अनिल गर्ग को हटाया गया था।

आबकारी विभाग के दो और अधिकारी किए गए निलंबित
उधर, शासन ने आबकारी विभाग के दो और अधिकारियों को अलीगढ़ शराब कांड मामले में निलंबित कर दिया है। इसमें आगरा जोन के संयुक्त आबकारी आयुक्त रविशंकर पाठक और अलीगढ़ प्रभाग के उप आबकारी आयुक्त ओपी सिंह को निलंबित कर उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं। रवि शंकर पाठ के स्थान पर लखनऊ जोन के संयुक्त आबकारी आयुक्त धीरज सिंह को आगरा जोन का अतिरिक्त चार्ज दिया गया है। इसी तरह आगरा प्रभाग के उप आबकारी आयुक्त विजय कुमार मिश्र को अलीगढ़ प्रभाग के उप आबकारी आयुक्त का अतिरिक्त चार्ज दिया गया है।

पुलिस महकमे में अब तक 13 निलंबित
उधर, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि अलीगढ़ की घटना में अब तक 13 पुलिस कर्मियों को निलंबित किया गया है जिसमें इंस्पेक्टर और सब इंस्पेक्टर रैंक के पांच कर्मी व 8 मुख्य आरक्षी व आरक्षी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि विस्तृत रिपोर्ट मिलने के बाद कुछ और अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है।
साल दर साल होते रहे हादसे
मई 2021- अलीगढ़ में जहरीली शराब पीने से 40 से अधिक लोगों की मौत
मई 2021- अम्बेडकरनगर में जहरीली शराब से 16 की मौत
मई 2021-आजमगढ़ में जहरीली शराब से 20 से अधिक की मौत
अप्रैल 2021-बदायूं में जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत
मार्च-अप्रैल 2021- प्रतापगढ़ के तीन थाना क्षेत्रों में एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत
मार्च-अप्रैल 2021- प्रयागराज के तीन अलग अलग थाना क्षेत्रों में जहरीली शराब से 36 से अधिक की मौत
मार्च 2021- फतेहपुर में जहरीली शराब से 3 लोगों की मौत
मार्च 2021- चित्रकूट में जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत
जनवरी 2021- बुलंदशहर में जहरीली शराब पीने से 7 की मौत
नवंबर 2020- फिरोजाबाद में जहरीली शराब पीने से 3 लोगों की मौत
नवंबर 2020- प्रयागराज में जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत
नवंबर 2020-  लखनऊ में जहरीली शराब पीने से चार लोगों की मौत
फरवरी 2019- सहारनपुर में जहरीली शराब पीने से 65 लोगों की मौत
फरवरी 2019- कुशीनगर में जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत
मई 2018- कानपुर देहात के रूरा में 9 लोगों की मौत
मई 2018- कानपुर नगर के सचेंडी में 7 लोगों की मौत
जनवरी 2018- बाराबंकी में 9 लोगों की मौत
जुलाई 2017-  आजमगढ़ में जहरीली शराब पीने से 25 लोगों की मौत

अलीगढ़ शराब कांड: अब तक 85 की मौत, फैक्टरी संचालक गिरफ्तार
जिले में जहरीली शराब से सोमवार को 14 और लोगों की मौत के साथ ही इस हादसे में मरने वालों की संख्या 85 हो गई है। वहीं, पुलिस ने शहर के कारोबारी और स्याही-सैनिटाइजर फैक्टरी के संचालक विजेंद्र कपूर को गिरफ्तार कर लिया है। कपूर के पास से 6000 लीटर मिथाइल-इथाइल अल्कोहल जब्त की गई है और फैक्टरी को सील कर दिया गया है।

आबकारी विभाग की मेरठ स्थित प्रयोगशाला ने घटना के पहले दिन करसुआ के ठेके से जब्त शराब के नमूनों में मिथाइल अल्कोहल की पुष्टि की है। इससे लोगों की आंखों की रोशनी जाने से लेकर मौत तक हो जाती है

 

यह भी देखे:-

यूपी: राष्ट्रपति कोविंद ने आंबेडकर स्मारक का किया शिलान्यास, राज्यपाल-मुख्यमंत्री रहे मौजूद
यूपीसीए के सहयोग से बीसीसीआई द्वारा समर्थित टी20 लीग के लिए गौड़ ने किया गोरखपुर लायन्स क्रिकेट टीम क...
CORONA UPDATE : गौतमबुद्ध नगर में कोरोना के मरीजों में इजाफा, नोएडा में दो व जेवर क्षेत्र का एक गाँ...
पुलिस कमिश्नर अलोक सिंह ने किया पुलिस कर्मियों को COVID 19 से बचने के सुरक्षा उपकरणों का वितरण
ब्रिटेन और ब्राजील समेत इन देशों के यात्रियों को भारत आने पर करना होगा कोरोना प्रोटोकाल का पालन
Tokyo Olympics 2020 India Live Updates: रवि दहिया और दीपक पूनिया ने सेमीफाइनल में बनाई जगह
मायावती के भाई आनंद पर धोखाधड़ी का आरोप, मुकदमा दर्ज 
गलगोटिया विश्वविद्यालय में रिसर्च एण्ड इनोवेशन अवार्ड 2019 में सम्मानित हुए 90 प्रोफ़ेसर
अब कोई प्यार नहीं करता कहकर कर लिया सुसाइड
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे 'मन की बात', इन मुद्दों का कर सकते हैं जिक्र
राहत की बात : टीका लगवा चुके लोगों पर कोरोना का वायरस बेदम, खतरा हुआ कम
स्थापना दिवस पर भ्रष्टाचार मुक्त भारत आंदोलन के अनुच्छेद पहलू पत्रिका का हुआ विमोचन
गलगोटिया विश्वविद्यालय में ग्रेटर नोएडा शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल हुआ शुभारम्भ , कलाकार की कला से आकार ले...
अच्छी खबर: सितंबर आखिर तक आ सकती है ZyCov-D की कोरोना वैक्सीन, जानिए अन्य टीकों से कैसे है यह अलग
कोरोना: आज प्रधानमंत्री की बैठक आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ. संक्रमण के बढ़ते मामलों पर होग...
यूपी में नया प्रोटोकॉल: लक्षण खत्म होते ही डिस्चार्ज होंगे मरीज, होम आइसोलेशन में भेजे जाएंगे