पकड़ा गया भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी, इंटरपोल ने जारी किया था यलो नोटिस

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले का आरोपी भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी डोमिनिका में पकड़ा गया है। एंटीगुआ मीडिया ने बुधवार यह दावा किया। सूत्रों के मुताबिक चौकसी डोमिनिका से क्यूबा भागने की फिराक में था, उसी दौरान उसे दबोच लिया गया। यह गिरफ्तारी स्थानीय समयानुसार मंगलवार दोपहर को हुई। इस पर एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउनी ने इशारा कर दिया है कि उसे सीधा भारत भेजा जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमने डोमिनिका से कहा है कि वो गैरकानूनी रूप से डोमिनिका में प्रवेश करने पर मेहुल चोकसी पर कार्रवाई करे और उसे सीधे भारत को प्रत्यर्पित कर दे।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एंटीगुआ और बरबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउनी ने कहा कि डोमिनिका में पकड़े गए भगोड़ा हीरा व्यापारी मेहुल चोकसी को भारत प्रत्यर्पित किया जाएगा और भारतीय अधिकारी डोमिनिका में उन लोगों के संपर्क में हैं। बता दें कि एक दिन पहले यह खबर आई थी कि चौकसी एंटीगुआ-बारबुडा से लापता हो गया है। वहां की मीडिया के मुताबिक, पुलिस रविवार से चोकसी की तलाश कर रही थी। चौकसी आखिरी बार रविवार शाम 5.15 बजे देखा गया था। इसके बाद उसके खिलाफ इंटरपोल येलो नोटिस जारी किया गया था। इसके तहत पड़ोसी मुल्क डोमिनिका ने उसे पकड़ लिया।

एएनआई को दिए इंटरप्यू में प्रधानमंत्री ब्राउनी ने कहा कि डोमिनिका मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण पर सहमत हो गया है और एंटीगुआ उसे वापस स्वीकार नहीं करेगा। एंटीगुआ के प्रधानमंत्री ब्राउनी ने कहा कि उन्होंने डोमिनिका में पीएम स्केरिट और कानून प्रवर्तन से मेहुल चोकसी को एंटीगुआ नहीं लौटाने का अनुरोध किया है, जहां उन्हें नागरिक के रूप में कानूनी और संवैधानिक सुरक्षा प्राप्त है

उन्होंने कहा कि हमने डोमिनिकन सरकार से अनुरोध किया है कि उसे हिरासत में लिया जाए और उसे भारत वापस करने के लिए व्यवस्था की जाए। हम चोकसी को वापस नहीं लेंगे। उन्होंने आगे कहा ‘वह डोमिनिका में पाया गया। संभवतः उसने नावों के जरिए अवैध रूप से डोमिनिका में प्रवेश किया था। डोमिनिकन सरकार एंटीगुआ और भारतीय सरकारों के साथ सहयोग कर रही है। हमने डोमिनिकन कानून प्रवर्तन एजेंसियों से अनुरोध किया है कि वह उसे एंटीगुआ न लौटाए, जहां एक नागरिक के तौर पर उसके पास कानूनी और संवैधानिक अधिकार हैं। हमने विशेष रूप से उनसे भारतीय कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सीधे भारत लौटने के लिए आवश्यक व्यवस्था करने का अनुरोध किया है।

यह भी देखे:-

स्मार्ट विलेज मायचा  में युवाओं के लिए नि:शुल्क लाइब्रेरी एवं पुल के निर्माण की करप्शन फ्री इंडिया न...
सेना को बड़ी सफलता: उड़ी में पाकिस्तानी आतंकी ढेर और एक पकड़ा भी गया, घुसपैठ की फिराक में हैं दहशतगर...
7वां वेतन आयोग: लाखों केंद्रीय कर्मचारियों व पेंशनर्स के लिए आज का दिन खास, हो सकता है डीए-डीआर एरिय...
अयोध्या: शुक्ल पक्ष पंचमी से 21 किलो चांदी के भव्य झूले में विराजमान होंगे रामलला
के ज़िन्दगी महँगी नही है हमने बना दिया था ......
वारदात: चाकू मार ऑटो चालक से लूट
बीजेपी नेता से बाइक सवार बदमाशों ने लूटी चेन
पॉलिथीन बैग पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाएगी उत्तर प्रदेश सरकार
डराने वाली खबर: कोरोना से मृत्यु दर में देश में पहले नंबर पर पहुंचा पंजाब, महाराष्ट्र को छोड़ा पीछे
ग्रेनो वेस्ट में लगाये गए अवैध होर्डिंग को हटाये गए
HELPLINE FOR CORONA PATIENT
गलगोटिया में स्मार्ट इण्डिया इंटरनल हैकाथॉन का आयोजन
अनिल अंबानी को नहीं मिला बड़े भाई का सहारा
घरेलू सहायिका ने लगाई फांसी, मालिक पर लगा आरोप
दादरी तहसील दिवस में शिवसैनिकों ने सड़क निर्माण के लिए ज्ञापन सौंपा
जी. डी. गोयंका में हुआ छात्रों का आन लाइन पदालंकरण समारोह