खग्रास चंद्रग्रहण विशेष केवल भारत के पूर्वोत्तर राज्यों में ग्रस्तोदय दृश्य

वैशाख शुक्ल 15 (पूर्णिमा) बुधवार, दिनांक 26 मई , 2021 ई. को भारत के पूर्वी राज्यों में ग्रस्तोदय खण्डग्रास चंद्रग्रहण के रुप में दिखाई देगा। यह चंद्रग्रहण भारत के पूर्वोत्तर राज्य – अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम, अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह सहित पश्चिमी बंगाल के अधिकाश भाग तथा पूर्वी उड़ीसा में सायंकाल चंद्रोदय के आसन्नकाल में एक से 30 मिनट तक दिखाई देगा। यह ग्रहण राजस्थान प्रेदश सहित भारत के पश्चिमी राज्यों में कहीं भी दिखाई नहीं देगा। यह चंद्रग्रहण भारत के पूर्वोत्तर राज्यों के साथ-साथ पूर्वी दक्षिणी श्रीलंका, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, दक्षिणी अमेरिका व उत्तरी अमेरिका के अधिकाशं भाग व मलेशिया, इंडोनेशिया, सिंगापुर, फिलीपींस आदि देशों में दिखाई देगा।

भारत में ग्रहण की स्थिति :- यह ग्रहण भारत में दृश्य है। पूर्वोत्तर भारत के असम आदि राज्यों में जहाँ चन्द्रोदय सायं 06:23 से पहले होगा, वहाँ ही ग्रहण दिखाई देगा। चन्द्रोदय होने के बाद यह ग्रहण गुवाहाटी में 13 मिनट, सिबसागर व डिब्रूगढ़ में 24 मिनट, दिसपुर में 14 मिनट, ईटानगर में 19 मिनट, अगरतला में 17 मिनट, कोलकाता में 07 मिनट तक दिखाई देगा।

सूतक :- प्रातः 06 बजकर 15 मिनट (अथवा सूर्योदय से ) से जिन भी स्थानों पर यह ग्रहण दिखाई देगा, केवल उन्हीं स्थानों पर इसका सूतक आदि मान्य होगा।
उपच्छाया प्रवेश:-दोपहर02बजकर16मिनट
ग्रहण प्रारंभ:-दोपहर03बजकर15मिनट
ग्रहण मध्य:-दोपहर04बजकर49मिनट
ग्रहण समाप्त:-सायं06बजकर23मिनट
खग्रास प्रारंभ:-सायं04बजकर39मिनट
खग्रास समाप्त:-सायं04बजकर58मिनट
उपच्छाया अन्त:-सायं07बजकर21मिनट
ग्रहण कुल अवधि:-03घण्टा08मिनट
पूर्णता अवधि:-19मिनट
ग्रासमान:-1.016

ग्रहण का सूतक:- भारत के पूर्वी राज्य असम , अरूणाचल प्रदेश, मेघालय, मणिपुर, पं.बंगाल (पूर्वी), त्रिपुरा, नागालैंड, आदि में प्रातः सूर्योदय के साथ ही प्रारंभ होगा (भारत के अन्य राज्यों में ग्रहण का सूतक नहीं लगेगा) ।
सूतक का समय:- सूर्यग्रहे तु नाश्रीयात् पूर्वं यामचतुष्ट्यम्। चन्द्रग्रहे तु यामांस्त्रीन् बालवृद्धातुरैर्विना।।
धर्मशास्त्र के अनुसार चन्द्रग्रहण में स्पर्शकाल से 09 घण्टा पहिले और सूर्यग्रहण में 12 घण्टे पहिले ग्रहण का सूतक होता है। यह सूतक बालक, वृद्ध और रोगियों के लिए नहीं होता है।

ग्रहण का राशिफल:- यह ग्रहण अनुराधा नक्षत्र और वृश्चिक राशि में हो रहा है अतः वृश्चिक राशि एवं अनुराधा नक्षत्र में जन्म लेने वाले व्यक्तियों के लिए विशेष कष्टप्रद है। मेषादि बारह राशियों पर इस ग्रहण का फल आगे दिया जा रहा है:-
★मेष:-दुर्घटना भय
★वृष:-स्त्री/पति कष्ट
★मिथुन:-कार्य सिद्धि
★कर्क:-चिंता पीड़ा
★सिंह:-रोग भय
★कन्या:-आर्थिक लाभ
★तुला:-व्यय वृद्धि
★वृश्चिक:-शरीर कष्ट
★धनु:-धन हानि
★मकर:-उन्नति व लाभ
★कुंभ:-सुख समृद्धि
★मीन:-गुप्त चिंता

ग्रहण का अन्य फल:- वैशाख मास में भारत के पूर्वी भाग में यह ग्रहण ग्रस्तोदय के रुप में दिखाई देने से प्रजा मे रोग पीड़ा की वृद्धि के साथ सीमाओं पर सैनिक हलचल बढ़ेगी। वर्षा की न्यूनता तिलहन-दलहन व चावलों की खेती में नुकसान दायक बनेगी। धातु पदार्थों में भी तेजी का असर बना रहेगा।

नोट:- यह ग्रहण राजस्थान, दिल्ली, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, आंध्रप्रदेश आदि राज्यों में दिखाई नहीं देगा। अतः यहाँ इस ग्रहण से संबंधित सूतकादि मानने की कोई आवश्यकता नहीं है।

पाणिनि गुरुकुल परिवार ग्रेटर नोएडा 9818011097

यह भी देखे:-

विंडसर कैसल में हुआ प्रिंस फिलिप का अंतिम संस्कार, काली ड्रेस पहनकर शामिल हुईं महारानी एलिजाबेथ द्वि...
वाराणसी में अब चलेंगी सीएनजी से नाव ,टेस्टिंग सफल, जल्द पीएम मोदी करेंगे शुभारंभ
UP JEECUP Counselling 2021: पहले राउंड के लिए सीट अलॉटमेंट लिस्ट jeecup.nic.in पर जारी, इन स्टेप से ...
गौतम बुद्ध नगर : भारतीय किसान यूनियन  क्रांति का हुआ विस्तार   
गौतमबुधनगर में फिर बड़ा कोरोना के पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा
कोरोना महामारी के बीच अपने बच्चों को स्कूल भेजते समय इन बातों का जरूर रखें ध्यान
दिल्ली में 3 और लोगों की मौत के बाद डेंगू से मरने वालों की संख्या हुई 9, कुल मामले बढ़कर 2,700 के पा...
कोरोना टीका:कोरोना के कहर से जूझ रही दुनिया के लिए अच्छी खबर,जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने विकसित किया ट...
मोदी-कमला हैरिस की मुलाकात: अमेरिकी उपराष्ट्रपति ने पाक को माना आतंकियों का ठिकाना
नई मुश्किल: कोरोना के बाद लोगों को हो रहे त्वचा, बाल और नाखून के रोग
लखनऊ : सीएम योगी ने अपनाया सख़्त रवैया , अधिकरियो को दिए सख़्त दिशा निर्देश
Tokyo Olympics: आज से शुरू होगा 'खेलों का महाकुंभ', कब-कहां और कैसे देखें उद्घाटन समारोह की LIVE स्ट...
केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने स्वदेशी विमानवाहक पोत का किया निरीक्षण, कहा- समुद्र में बढ़ेगी ...
Coronavirus Live: देश में कोरोना के मामलों में 91 फीसदी की गिरावट, रिकवरी रेट में जबरदस्त सुधार
सपाइयों ने मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन
डीएम बी.एन. सिंह ने जनता से की वृक्षारोपण की अपील