Covid : एमआईएस सिंड्रोम का शिकार हो रहे हैं पोस्ट कोविड बच्चे, जानें क्या हैं लक्षण

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में संक्रमित हुए बच्चे ठीक तो हुए लेकिन अब वह मल्टी सिस्टम इंफ्लामेटरी (एमआईएस) सिंड्रोम का शिकार हो रहे हैं। पोस्ट कोविड बच्चों की दुश्वारियां अब दिल पर हावी हो रही हैं। आम लक्षणों के साथ दिल की बढ़ी धड़कनें उनकी ही नहीं अभिभावकों की घबराहट को भी बढ़ा रही हैं। सरोजिनी नायडू बाल चिकित्सालय में अब तक कोरोना संक्रमणमुक्त पांच बच्चों में एमआईएस सिंड्रोम के लक्षण मिले हैं। राहत की बात यह है कि पीड़ित बच्चों को इलाज के लिए भर्ती करने की जरूरत न के बराबर है।

इस तरह के मिले लक्षण
चिल्ड्रेन अस्पताल की ओपीडी में पहुंचे एमआईएस सिंड्रोम पीड़ित बच्चों में अलग-अलग लक्षण दिखे। किसी की आंख लाल थी तो किसी के शरीर पर चकत्ते पड़े थे। मुंह में छाले और पेट दर्द की शिकायत के साथ घबराहट की शिकायत सभी ने की, साथ ही बीपी का कम होना भी पाया गया। ऐसे मरीजों में अचानक उल्टी होने का लक्षण भी मिला।

दिल तक पहुंच रहा असर
एमआईएस सिंड्रोम पीड़ित बच्चों के बारे में अहम बात यह है कि यदि पोस्ट कोविड बच्चे घबराहट की शिकायत करते हैं तो तय है कि दिल पर भी इसका असर पहुंचा है। अधीक्षक डॉ. मुकेश बीर सिंह कहते हैं, यदि पोस्ट कोविड बच्चों में दिल की घड़कनें बढ़ी हैं तो कई जरूरी जांचें और विशेषज्ञ की सलाह पर उपचार जरूरी है। ऐसे बच्चों के इलाज में भर्ती नहीं पर सावधानी की जरूरत रहती है। ऐसे बच्चों के इलाज में कई स्टेरॉयड, इम्युनोग्लोबलिन उपयोगी है।
पुष्टि के लिए जरूरी हैं ये जाचें
चिकित्सकों के मुताबिक एमआईएस सिंड्रोम की पुष्टि के लिए कई जांचें कराना जरूरी होता है। इनमें डीडाइमर, सीआरपी, पीटी, एपीटीटी और आईएनआर जांच की सलाह दी जाती है। जरूरत पड़ने पर हार्ट की स्थिति जानने को ईसीजी आदि की जांच भी कराई जा सकती है।

पोस्ट कोविड बच्चों में एमआईएस सिंड्रोम देखने को मिल रहे हैं। ऐसे मरीजों को ओपीडी में देखकर बिना भर्ती किए इलाज करना संभव है। संक्रमण तीन से पांच दिन में काबू में आ रहा है। बाल रोगी अपनी  बेहतर प्रतिरोधक क्षमता के कारण स्वस्थ हो रहे हैं। एमआईएस के कोई भी लक्षण दिखें तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। – डॉ मुकेश बीर सिंह, अध्यक्ष, बाल रोग विभाग, मोती लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज

 

 

यह भी देखे:-

ग्रेटर नोएडा: यमुना एक्सप्रेसवे पर घने कोहरे की वजह से आधा दर्जन वाहन आपस में भिड़े
नोएडा : नाली में दुर्लभ प्रजाति का पैंगोलिन मिला, पुलिस ने किया वन विभाग के हवाले, करोड़ों में है कीम...
इंडिया एक्सपो सेंटर, ग्रेटर नोएडा में शुरू हुआ एचजीएच इंडिया का 11वां संस्करण
उन्नाव रेप के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी को बीजेपी ने दिया जिला पंचायत का टिकट
योगी सरकार ने माफिया मुख्तार अंसारी के किले को किया ध्वस्त, अब साम्राज्य का होगा खत्मा, जानें कैसे
राहुल गांधी ने महंगाई को लेकर मोदी सरकार पर बोला हमला, पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की बढ़ी कीमत को लेक...
अखिल भारतीय वीर गुर्जर महासभा के राष्ट्रीय सम्मेलन में पंहुचे सैकड़ो कार्यकर्ता
सड़क जाम करने वाले किसान नेताओं को सुप्रीम कोर्ट की दो-टूक, गांव बसाना है तो बसाएं लेकिन दूसरों की ज...
DUSU ELECTION 2019: नोएडा, ग्रेटर नोएडा के सैकड़ों कार्यकर्ता करेंगे प्रचार-प्रसार
रोल बॉल प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने वाले खिलाड़ियों का हुआ स्वागत
शराब के ठेकों पर दिन निकलते ही उमड़ी लोगों की भीड़
Tokyo Olympics 2020 : PV Sindhu ने सेमीफाइनल में बनाई जगह, पदक के करीब पहुंचीं
दर्दनाक सड़क हादसा : 6 की मौत, सात घायल, मरने वाले पांच लोग एक ही परिवार के
गलगोटियाज विश्वविद्यालय में पूर्व न्यायमूर्ति जे.आर. मिधा का स्वागत, छात्रों को देंगे कानून की शिक्ष...
Poster making , Nurturing plants on world Environment day celebrated in Ryan International School
लॉकडाउन के दौरान ये कम्पनियां करेंगी होम डिलीवरी, पढ़ें पूरी खबर