Air India से यात्री करने वाले 45 लाख यात्रियों का डाटा हुआ लीक, क्रेडिट कार्ड से लेकर सभी जरूरी जानकारी थी शामिल

नई दिल्ली, प्रेट्र। एक साइबर हमले में सरकारी विमानन कंपनी एयर इंडिया (Air India) के यात्रियों का डाटा लीक हुआ है। कंपनी ने शुक्रवार को आधिकारिक बयान जारी कर यह जानकारी दी। एयर इंडिया को-पैसेंजर सर्विस सिस्टम उपलब्ध कराने वाली फर्म एसआइटीए पर साइबर हमला कर डाटा चोरी किया गया।

स्विट्जरलैंड से संचालित एसआइटीए दुनियाभर की कई एयरलाइंस का पैसेंजर सर्विस सिस्टम संभालती है। एयर इंडिया ने बताया कि एसआइटीए पर साइबर हमला फरवरी के आखिरी हफ्ते में हुआ। इसमें एयर इंडिया समेत दुनिया की कई अन्य एयरलाइंस के 45 लाख यात्रियों का डाटा चोरी हुआ है। इनमें 11 अगस्त, 2011 से तीन फरवरी, 2021 के बीच रजिस्टर हुए यात्रियों की निजी जानकारियां हैं।

लीक हुए डाटा में नाम, जन्मतिथि, कांटैक्ट इन्फार्मेशन, पासपोर्ट की जानकारी, टिकट की जानकारी और क्रेडिट कार्ड डाटा शामिल हैं। एयरलाइंस ने सभी यात्रियों से पासवर्ड बदलने को कहा है। साथ ही अन्य जरूरी कदम उठाने का भरोसा दिलाया है। एयर इंडिया ने कहा कि इस डाटा लीक से संभावित खतरे का आकलन किया जा रहा है। एसआइटीए ने सुनिश्चित किया है कि डाटा लीक के बाद से कोई अनधिकृत गतिविधि नहीं देखी गई है।

 

यह भी देखे:-

नाले में डूबकर दो सफाईकर्मियों की मौत
यूपी : इंजीनियरिंग और डिप्लोमा छात्रों को बड़ी राहत, कॉलेजों में नहीं होगी शुल्क वृद्धि
जी डी गोयंका स्कूल में अन्तर्सदनीय आन लाइन बास्केटबॉल प्रतियोगिता
जेल से 6 निर्धन बंदियों को रोटरी ने रिहा कराया, बच्चों में गर्म कपड़ों का वितरण
खाद्य पदार्थ में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट सख्‍त, आरोपियों के वकील से पूछा- क्‍या मिलावटी गेहूं खाएंगे...
लॉकडाउन का उलंघन करने वालों पर सख्त गौतमबुद्ध नगर पुलिस
ओमिक्रोन वैरिएंट के बढ़ते संक्रमण को लेकर उत्तर प्रदेश में लगा नाइट कर्फ्यू
ग्रेटर नोएडा : राष्ट्रीय युवा उत्सव मे मोटीवेंशनल स्पीच से युवा हुए प्रभावित
अब बाजार से खरीद सकेंगे कोरोना का टीका, पहले से तय होगी कीमत; जानिए और क्या नियम
ग्रामीणों ने फूलपुर गाँव के मुख्य मार्ग पर लगाया सम्राट मिहिर भोज का बोर्ड
नाले में गिरकर बच्चे की मौत
किसान एकता संघ ने सौंपा पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों को लेकर ज्ञापन
यूपी चुनाव 2022: यूपी में फिर आएगी योगी सरकार, मिलेंगी 300 से ज्यादा सीटें
संविधान है एक जैविक दस्तावेज -पद्मभूषण सुभाष कश्यप
बहलोलपुर में आग से प्रभावित झुग्गीवासियों में राशन व चादर का वितरण 
सांसद मौत मामले में नया मोड़: मोबाइल कॉल लॉग से खुलासा, मौत से पहले पत्नी के अलावा इस शख्स से की थी ...