कोरोना की दूसरी लहर में 329 डाक्टरों ने तोड़ा दम, दिल्ली और बिहार में सबसे अधिक मौत

नई दिल्ली, पेट्र। कोरोना की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में डाक्टर संक्रमित हुए हैं। इस वजह से देशभर में दूसरी लहर में 329 डाक्टरों की मौत हुई है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) ने ताजा आंकड़े जारी करते हुए यह जानकारी दी। आइएमए के अनुसार सबसे अधिक 80 डाक्टरों की मौत बिहार में हुई है, जबकि दिल्ली में ही 73 डाक्टरों की मौत जान गई है। आइएमए कोविड-19 रजिस्ट्री के अनुसार, महामारी की पहली लहर के दौरान 748 डॉक्टरों की मौत हुई थी।

आइएमए के अध्यक्ष डा. जेए जयलाल ने कहा कि एसोसिएशन की शाखाओं से मिली जानकारी के अनुसार यह आंकड़ा जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि हम जान गवाने वाले डॉक्टरों के नाम सूची जारी नहीं करना चाहते क्योंकि यह एक संवेदनशील मामला है। इससे पहले 18 मई को आइएमए ने कोरोना की दूसरी लहर में देशभर में जान गंवाने वाले डाक्टरों की संख्या 269 बताई थी।

इन राज्यों में हुई अधिक मौत

बिहार : 80

दिल्ली : 73

उत्तर प्रदेश : 41

आंध्र प्रदेश : 22

तेलंगाना : 20

बंगाल : 15

महाराष्ट्र : 14

ओडिशा : 14

यह पूछे जाने पर कि इनमें से कितने डॉक्टरों को पूरी तरह से टीका लगाया गया था, डा. जयलाल ने कहा, ‘हम सभी के टीकाकरण की स्थिति के बारे में आश्वस्त नहीं हैं, लेकिन हमें जो डेटा मिला है, उसके मुताबिक मौतों का मुख्य कारण टीकाकरण नहीं होना है।’

उन्होंने आगे कहा कि कोविड-19 के कारण प्रतिदिन औसतन कम से कम 20 डॉक्टरों की मौत हो रही है। इनमें सरकारी सुविधाओं, निजी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में काम करने वाले डॉक्टर शामिल हैं। इससे पहले डा. जयलाल ने कहा था कि महामारी की दूसरी लहर सभी के लिए और विशेष रूप से उन लोगों के लिए बेहद घातक साबित हो रही है, जो कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सबसे आगे हैं।

यह भी देखे:-

गौतम बुद्ध नगर कोरोना अपडेट, कोरोना पॉजिटिव मरीजो का आंकड़ा 700 के पार , 477 हुए स्वस्थ
LOCK DOWN का पालन कराने के लिए मुस्तैद गौतमबुद्ध नगर की पुलिस, उलंघन करने वाले 54 गिफ्तार
बच्चों की वैक्सीन: सितंबर तक आ रही है वैक्सीन, वैक्सीन के बारे मे पढें पूरी रिपोर्ट
UPSSSC PET Result 2021: परीक्षा परिणाम को लेकर ये है अपडेट, जानें नतीजों की तारीख
सख्त होगी निगरानी: ओटीटी प्लेटफॉर्म, डिजिटल समाचार प्रकाशकों के लिए नए नियम
कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाए भाजपा कार्यकर्ता : जय प्रताप सिंह
ग्रेटर नोएडा : कलक्ट्रेट सभागार पर भू-जल गोष्ठी का आयोजन
गलगोटिया में "टेक्नो फेस्ट" का आयोजन 
चिंताजनक : आठ भारतीय राज्यों पर जलवायु परिवर्तन से मंडराया खतरा
नोएडा को मिला देश का पहला राष्ट्रीय संग्रहालय संस्थान
ग्रैड्स इंटरनेशनल स्कूल में कला एकीकरण कार्यशाला का आयोजन
दर्दनाक : यमुना एक्सप्रेसवे सड़क हादसे में मशहूर महिला सिंगर की मौत
"GACS का एक और मंथन कार्यक्रम " 15 फ़रवरी को
पीएम मोदी ने कहा, कोरोना से लड़ेंगे और जीतेंगे , नोएडा समेत कोलकोता व मुंबई में  HI TECH Corona Test...
गाजियाबाद : तेज बारिश जानलेवा साबित हुई करंट उतरने से 4 लोगों की मौत
ब्राजील ने भारत से Covaxin पर हंगामे के बीच फिलहाल रद किया सौदा,मुश्किल में फंसे राष्ट्रपति बोल्सोन...