टीम इंडिया के गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के पिता का निधन, इस गंभीर बीमारी का चल रहा था इलाज

भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के पिता का निधन हो गया है। गुरुवार शाम यह दिल तोड़ने वाली बुरी खबर सामने आई। 63 साल के किरनपाल सिंह कैंसर की बीमारी के जूझ रहे थे। लंबे समय से उनका इलाज चल रहा था और घर पर ही भुवनेश्वर उनको रखकर उनकी सेवा कर रहे थे। पुलिस विभाग में कार्यरत किरन ने वॉलंटियर रिटायरमेंट लिया था।

गुरुवार का दिन भारतीय टीम के स्टार गेंदबाज भुवनेश्वर के लिए बेहद बुरी खबर लेकर आया। इस अनुभवी गेंदबाज ने अपने पिता को खेल दिया जो काफी समय से कैंसर की बीमारी से लड़ रहे थे। मेरठ में स्थित भुवनेश्वर के आवास पर पिता ने आखिरी सांस ली। उनके निधन की खबर करीबी के जरिए मालूम चली। उनके बीमारी की खबर पिछले साल ही सामने आई थी। वह लीवर कैंसर के पीड़ित थे जिसकी वजह से वह पिछले साल ही अस्पताल में भर्ती हुए थे। दिल्ली के एक अस्पताल में उनको भर्ती कराया गया था जहां उन्हें तकरीबन एक महीने रखा गया था।

इंग्लैंड सीरीज में भुवनेश्वर ने की थी वापसी

यूएई में पिछले साल खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन के दौरान भुवनेश्वर चोटिल हो गए थे। सनराइजर्स हैदराबाद की तरफ से खेलने वाले इस गेंदबाज को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच में चोट लगने के बाद पूरे सीजन से बाहर होना पड़ा था। हाल ही में भारत के खिलाफ खेली गई सीरीज में भुवी ने वापसी की थी। 3 वनडे में इस गेंदबाज ने 6 जबकि 5 टी20 में 4 विकेट हासिल किए थे। उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए भारत की जीत में योगदान दिया था। मार्च में वह आइसीसी के महीने के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गए थे।

 

यह भी देखे:-

सावन का दूसरा सोमवारः आज करें शिवशक्ति स्वरूप में काशीपुराधिपति का दर्शन, उमड़ी भक्तों की भीड़, लगी ...
इलाहाबाद हाईकोर्ट के 10 अतिरिक्त न्यायाधीश बने स्थायी न्यायाधीश,
DUSU 2019: एनएसयूआइ-ABVP का पैनल घोषित
बीएसपी से आए विधायकों ने सचिन पायलट समर्थकों को बताया गद्दार, राजस्थान कांग्रेस में और भड़की रार
आदर्श रामलीला सूरजपुर : रामजन्म पर अयोध्या में ख़ुशी की लहर
नार्थ इंडिया कराटे चैंपियनशिप 2019 में ग्रेनो के बच्चों का जलवा, जीते की मेडल्स
लिंक पर क्लिक करते ही बैंक खाते से पैसे साफ, न करें ऐसी चूक, Cyber Crime से बचना है तो बरतें ये सावध...
केरल में बकरीद पर छूट: आईएमए ने दी चेतावनी, सिंघवी बोले-अगर कांवड़ यात्रा गलत है, तो यहां ढील क्यों?
कोरोना का खौफ: SSC ने स्थगित कीं दो बड़ी भर्ती परीक्षाएं, यहां पढ़ें आधिकारिक अधिसूचना
जेवर के विकास में महिलाएं भी बनेंगी भागीदार : धीरेन्द्र सिंह, बदलते जेवर की बदलती मातृशक्ति
वामपंथी कन्हैया और जिग्नेश आज होंगे कांग्रेसी, क्या होगा परिणाम
LOCK DOWN में फंसे छात्रों एवं प्रवासी मजदूरों व कामगारों को उनके गृह जनपद भेजने की कवायद शुरू : अ...
दुबई में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी
कोरोना की तीसरी लहर: सरकार ने शुरू की तैयारी, जीवन रक्षक दवाओं का बन रहा एक महीने का स्टॉक
ग्रेटर नोएडा-नोएडा में कल , 7 अक्टूबर को मतदान विशेष अभियान
मदद को आगे आए ये देश, जानें कहां से कितने आ रहे ऑक्सीजन सिलिंडर, कंसंट्रेटर वेंटिलेटर समेत मेडिकल उप...