प्रकृति को समझने में तीन गुना जागरूक हुए भारतीय

हम भारतीय पर्यावरण और जैव विविधता को हो रहा नुकसान समझने के लिए करीब तीन गुना ज्यादा गूगल सर्च और अध्ययन कर रहे हैं। पौधों व प्राणियों की खत्म होती प्रजातियों के बारे में दो गुना ज्यादा चिंता करने लगे हैं। प्रकृति को कम नुकसान पहुंचाने वाले उत्पादों की खोज भी पिछले पांच सालों में करीब 71% बढ़ चुकी है।

 

ये दावे वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) की इकोनामिक इंटेलिजेंस यूनिट ने नए शोध में किए हैं। अंतरराष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के परिप्रेक्ष्य में जारी इस रिपोर्ट के अनुसार पूरी दुनिया में 2016 से 2020 के बीच पर्यावरण को लेकर चिंता जताने वाले नागरिकों की संख्या 16% बढ़ी है। विकासशील देशों में नागरिक ज्यादा सचेत होने लगे हैं। इसे ‘इको अवेकनिंग’ नाम दिया गया है। उन्हें पारिस्थितिकी तंत्र तबाह होने के परिणाम समझ आ रहे हैं।

 

डिजिटल एक्टिविज्म बढ़ा
ट्विटर पर ही पर्यावरण के मुद्दों पर 65% ज्यादा चर्चा हो रही है। प्रकृति और जैव विविधता जैसे शब्दों का उपयोग तीन करोड़ से बढ़कर पांच हो चुका है।
कई राजनेता, धार्मिक नेता और अन्य प्रभावशाली व्यक्तित्व व संगठन इस बारे में बात कर रहे हैं, जिससे 100 करोड़ से ज्यादा लोगों तक पर्यावरण संरक्षण के संदेश पहुंच रहे हैं।

भारत में 190% अधिक गूगल सर्च
भारत में प्रकृति से जुड़े विषयों पर 190 % ज्यादा गूगल सर्च।
ट्विटर पर 2016 में 2,32,000 ट्वीट के मुकाबले 2020 में 15,00,000 ट्वीट जैव विविधता विनाश विषयों पर।
आवाज अभियान में 4.80 लाख नागरिकों ने हस्ताक्षर किए।
अखबारों में इन विषयों पर 2016 में 1,33,888 लेख प्रकाशित हुए , 2020 में आंकड़ा 1,68,556 पहुंच गया।
परिणाम अक्तूबर 2020 में नजर आया, जब महाराष्ट्र सरकार ने आरे नामक जंगलों को संरक्षित घोषित किया।

खतरे बरकरार
जागरूकता बढ़ने के बावजूद प्रकृति को लेकर खतरे अभी बरकरार हैं।
अमेजन बेसिन से रोजाना 150 एकड़ वन जलाए और काटे जा रहे हैं।
अगले कुछ दशकों में 10 लाख ज्यादा जीवों की प्रजातियां खत्म हो जाएंगी।
पृथ्वी पर करीब 80 लाख जीव-जंतुओं की प्रजातियां निवास करती हैं।

 

यह भी देखे:-

जी. एल. बजाज संस्थान में पीजीडीएम छात्रों के दीक्षांत समारोह का सफल आयोजन, शैक्षणिक उत्कृष्टता के ...
ग्रामीण विकास समिति के बैनर तले चल रहे आंदोलन को वृन्दाकरात का समर्थन
महिला उन्नति संस्था ने महिलाओं एवम बच्चियों की सुरक्षा को लेकर किया बैठक का आयोजन
पुलिस ने लाईसेन्सी रिवाल्वर चोरी करने वाले अभियुक्तो को गिरफ्तार किया
आतंकियों के बाद अब नक्सली भी इस्तेमाल कर रहे ड्रोन, महाराष्ट्र ने जताई चिंता
लालू यादव ने किया चिराग पासवान का समर्थन, कहा- हमारे लिए वही रहेंगे एलजेपी के नेता
खुला पत्र: थॉमस ने कहा- कांग्रेस की हालत इतनी खराब कि कार्यकर्ता कांग्रेसी कहलाने तक से कतराने लगे ह...
मायावती का केंद्र पर हमला: कहा- ऑक्सीजन की कमी से मौतें न होने का दावा दुर्भाग्यपूर्ण
घर पर ही मनानी होगी होली, दिल्ली, मुंबई, यूपी, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों ने जारी कीं गाइडलाइंस, जा...
गांधी जयंती: राहुल ने किसान आंदोलन पर सरकार को घेरा, बोले- विजय के लिए केवल एक सत्याग्रही ही काफी
THE HIGHWAY FASHION WEEK SEASON 4 में डिज़ाइनर दिखायेंगे प्रतिभा की झलक
किसान आंदोलन के बीच केंद्र का फैसला- खरीफ फसलों पर MSP 50% तक बढ़ाई गई, तिल पर सबसे अधिक 452 रूपए प्...
राजस्थान मे छत ढहने से 3 लोगों की मौत, पढें पूरी ख़बर
हज यात्रा : ऑनलाइन आवेदन आज से, 65 वर्ष आयु तक के आजमीन ही कर सकेंगे आवेदन
संयुक्त किसान अधिकार आन्दोलन के नेतृत्व में किसान देंगे ग्रेनो प्राधिकरण कार्यालय पर धरना
भ्रष्टाचार मामला : सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट में देनी होगी ‘अग्निपरीक्षा’