गौतमबुद्ध विश्विद्यालय में ऑन लाइन प्रवेश प्रक्रिया शुरू : कुलपति प्रोफ़ेसर भगवती प्रकाश शर्मा   ने जारी किया प्रवेश पुस्तिका

– गौतम बुद्ध विश्विधायालय में शैक्षिक सत्र 2021-2022 के लिए प्रवेश  प्रक्रिया प्रारम्भ दिनांक 15.05.2021 से प्रारम्भ की जा रही है जिसमें  21 नये के साथ कुल 124 कोर्स  सम्मलित है। उक्त कोर्सो में  Rising Sun Technologies   के क्षेत्र मे 103 वर्तमान कोर्स भी शामिल  है। विश्विद्यालय  ने बी.टेक. जैसे कई  नये अग्रणी पाठ्यक्रमो की घोषणा    की है जिसमें मशीन  लर्निंग, साईबर सिक्योरिटी, इन्टरनेट ऑफ़  थिंग्स और डेटा सांइस मे विषेशज्ञता  के साथ सी.एस.ई एआई/डाटा सांइस में विशेषज्ञता  के साथ एमसीए, एमएससी, एआई / डेटा सांइस में विशेषग्यता   के साथ  बीएससी है। योग में, पांच साल की दोहरी डिग्री                     B.Tech –  M.Tech     (ईई) / एमबीए, एमएससी-आणविक चिकित्सा,  M.Sc     जीनोमिक्स और जीनोम इंजीनियरिंग) और एम.एससी.। (औद्योगिक और पर्यावरण जैव प्रौद्योगिकी) और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन इनवायरमेंटल लाॅ एण्ड पाॅलिसी (PGDELP),  पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन रिन्यूएबल एनर्जी टेक्नालोजी  (PDRET)    , पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मैथमैटिकल मेथड्स फाॅर इन्वायर्नमेंटल एप्लीकेशन  (PGDMMEA)     पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फूड सेफ्टी एंड गुणवत्ता प्रबन्धन  (PGDFSQM     पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फूड साइंस एण्ड टेक्नोलाॅजी  (PGDGC)     पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइडेंस एंड काउंसलिंग  (PGDFNP    , और सत्र 2021-22 से फारेंसिक न्यूरोप्सिकोलाॅजी  मे स्नाकोत्तर डिप्लोमा आदि।

ऽ विभिन्न यूजी / पीजी / पी.एच.डी कार्यक्रमो के तहत सत्र 2021-22 मे प्रस्तावित कुल सीटे 3672 हैं ।
ऽशैक्षिक  सत्र 2021-22 के लिए दिनांक 15.05.2021 से सभी प्रोग्राम के लिए आनलाईन आवेदन  आमंत्रित किये जा रहे है और सभी प्रोग्रामों  के लिए आनलाईन आवेदन भरने की अन्तिम तिथि 21 जून, 2021 है।

ऽ विश्वविद्यालय के 111 विभिन्न प्रोग्राम मे प्रवेष के लिए कम्प्यूटर -आधारित प्रवेश  परीक्षा आनलाईन / आफलाईन (GBU-ET 2021-22)  आयोजित करेगा, और शेष  13 प्रोग्राम में प्रवेश डायरेक्ट मोड एडमिशन  (मेरिट) के आधार पर होगा।

1. GBU-ET 2021 प्रवेश  परीक्षा रिमोट प्राॅक्टेड ऑनलाइन  टेस्ट  या दिये गये केंद्रों  पर आयोजित की जायेगी। (प्रवेश परीक्षा कोविड -19 महामारी के रोकथाम हेतु दिये सरकार द्वारा तदसमय प्रदत्त निर्देशों  के अनुसार होगी।

2. प्रवेश परीक्षा की तिथि/ परीक्षा और प्रवेष के मोड को 15 दिन पूर्व ही विश्विद्यालय  वेबसाइट पर प्रदर्शित  कर दिया जायेगा।

’  ‘‘रिमोट प्रोक्टेड आनलाइन परीक्षा’’ मे उम्मीदवार अपने घर से ही प्रतिभाग कर सकेंगे, इसमे उम्मीदवार के डिवाइस जैसे लैपटाप या मोबाईल के कैमरा और माइक्रोफोन की सख्त निगरानी की जायेगी।‘‘रिमोट प्रोक्टेड आनलाइन परीक्षा’’ हेतु उम्मीदवार को अच्छी इन्टरनेट कनेक्टिविटी, कैमरे के साथ लैपटाप और मोबाईल रखना सुनिष्चित करना होगा। उम्मीदवार को पूरी परीक्षा अवधि के दौरान डिवाइस के कैमरे के ठीक सामने होना आवष्यक है ताकि परीक्ष के समय उम्मीदवार का चेहरा हमेषा दिखाई दे।

प्रवेश परीक्षा 2021-22 की मुख्य बातें

1. शैक्षिक  सत्र 2021-22 में  प्रारम्भ किये जाने वाले पाठ्यक्रम ;च्तवहतंउेद्ध और सीटों की संख्याः-

Name of Programmes No. of Programmes in 2021-22 No. of Seats
UG Programmes 34 1410
Integrated & Dual Degree Programmes 07 480
PG Programmes 46 1230
M.Phil. Programmes 02 17
Doctoral Programmes 13 73
Lateral Entry in B.Tech. 07 107
Diploma/PG Diploma/Certificate Courses 15 355
Total 124 3672

2. नये कोर्स
सूचना और संचार प्रौद्योगिकी विष्वविद्यालय  मे नौ (09) प्रोग्राम हैः-
ऽ बी.टेक.सीएसई (मषीन लर्निंग)
ऽ बी.टेक.सीएसई (डाटा सांइस)
ऽ बी.टेक.सीएसई (साइबर सुरक्षा)
ऽ बी.टेक.सीएसई (इन्टरनेट आफ थिंग्स)
ऽ डिजाईन मे स्नातक
ऽ एआई मे विषेशज्ञता के साथ एमसीए
ऽ डाटा साइंस मे विषेशज्ञता के साथ एमसीए
ऽ एमएससी (कम्प्यूटर साइंस) एआई मे विषेशज्ञता के साथ
ऽ एमएससी (कम्प्यूटर साइंस) डाटा साइंस मे विषेशज्ञता के साथ

यूनिवर्सिटी स्कूल आफ इंजीनियरिंग  मे एक (01) नये प्रोग्राम है जो इस प्रकार हैः-
ऽ पांच साल मे दोहरी डिग्री के

यूनिवर्सिटी स्कूल आफ बायोटेक्नाॅ0लोजी मे तीन (03) नये प्रोग्राम है जो इस प्रकार हैः-
ऽ एमएससी (आणविक चिकित्सा)
ऽ एमएससी (जीनोमिक्स एण्ड जीनोम इंजीनियरिंग)
ऽ एमएससी (औद्योगिक एवं पर्यावरण जैव प्रौद्योगिकी)
ऽ एमएससी (आणविक चिकित्सा)
यूनिवर्सिटी स्कूल आॅफ वोकेषनल स्टडीज एण्ड अप्लाईड सांइसेज ;न्ै0टै।ैद्ध मे पांच (05) नये प्रोग्राम है जो इस प्रकार हैः-
ऽ पर्यावरण कानून और नीति मे स्नाकोत्तर डिप्लोमा ;च्ळक्म्स्च्द्ध
ऽ अक्षय ऊर्जा प्रौद्योगिकी ;च्क्त्म्ज्द्ध मे स्नातकोत्तर डिप्लोमा
ऽ पर्यावरणीय अनुप्रयोगों के लिए गणितीय तरीकों मे स्नाकोत्तर डिप्लोमा ;च्ळक्डडम्।द्ध
ऽ खाद्य सुरक्षा और गुणवत्ता प्रबन्धन मे स्नाकोत्तर डिप्लोमा (पीजीडीएफएसक्यूएम)
ऽ पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन फूड सांइस एण्ड टैक्नालोजी ;च्ळक्थ्ैज्द्ध

यूनिवर्सिटी स्कूल आफ ह्यूमैनिटीज एंड सांइस  मे दो (02) नये प्रोग्राम है जो इस प्रकार हैः-

ऽ पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गाइडेंस एंड कांउसलिंग
ऽ पोस्ट ग्रेजुएड डिप्लोमा फार फाॅरेंसिक न्यूरोसाइकालाॅजी

यूनिवर्सिटी स्कूल आफ लाॅ जस्टिस एण्ड गवर्नेस  मे एक (01) नये प्रोग्राम है जो इस प्रकार हैः-

ऽ पंचवर्शीय एकीकृत बीबीए एलएलबी

विभिन्न यूजी / पीजी प्रोग्राम मे प्रवेष राश्ट्रीय स्तर के प्रवेष परीक्षा स्कोर के आधार पर किये जायेगे। अन्य राश्ट्रीय टेस्ट के वैध टेस्ट स्कोर के माध्यम से प्रवेष केवल ळठन् प्रवेष परीक्षा और कांउसलिंग सत्र के बाद खाली सींटों के मामले मे लागू होगा। इसके बाद खाली सीटों को किसी भी राश्ट्रीय स्तर के टेस्ट स्कोर या सीधे योग्यता परीक्षा के अधार पर भरा जा सकता है।

ैण् छवण् छंउम व िच्तवहतंउउमे ।चचसपबंइसम ज्मेज ैबवतम
1 ठण्ज्मबीण् श्रम्म् डंपदे
2 ठण्।तबीण् टंसपक छ।ज्।
3 डठ। टंसपक ब्।ज्ध्ड।ज्ध्ळड।ज्ध्ब्ड।ज्ध्ग्।ज् ैबवतम
4 ।सस डण्ज्मबीण् टंसपक ळ।ज्म् ैबवतम
5 डन्त्च् ंदक डण्।तबीण् टंसपक ळ।ज्म् ैबवतम
6 स्स्ण्डण् ।दल टंसपक छंजपवदंस समअमस स्ंू म्दजतंदबम ज्मेज ैबवतमध्ब्स्।ज् ;च्ळद्ध ैबवतम
7 ठ। स्स्ण्ठ ंदक ठठ। स्स्ण्ठ ब्स्।ज्

सत्र 2021-22 के लिए गौतम बुद्ध विष्वविद्यालय का एडमिषन ब्रोषर अध्ययन के कई नए और सूर्याेदय विशयो को षामिल करते हुए संभावित प्रवेष चाहने वालों को 124 तरह के कार्यक्रम प्रदान करता है। अध्ययन के इस नये और उभरते क्षेत्रों में, विष्वविद्यालय ने आर्टिफिषियल इंटलिजेंस, मषीन, लर्निंग, इंटरनेट आफ थिंग्स, साईबर सिक्यारिटी, बिजनेष एनालिटिक्स, डेटा सांइस, रेलवे सिग्नलिंग और रैमएस, माॅलिक्यूलर मेडिसिन, जीनोमिक्स एण्ड जीनोम इंजीनियरिंग आदि मे कार्यक्रमो को षामिल किया है। विष्वविद्यालय तीन वर्शीय बीसीए, एमसीए, तीन वर्शीय बीकाम (आनर्स), बीएससी, योग मे कुछ नये विशयों मे बीए (आनर्स), बीए (आनर्स)।। बौद्ध अध्ययन मे आदि, छात्रों के जरूरतों को पूरा करने के लिए, कम्प्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग, वाणिज्य, सामाजिक विज्ञान और मानविकी मे ऐसे कार्यक्रमो को आगे बढ़ाने के लिए इच्छुक। विष्वविद्यालय ने कई नई और उभरती षिक्षाविदों को षामिल करने के लिए षिक्षण-परिवर्तनषील दृश्टिकोंण मे विविधता लानें का प्रस्ताव किया है, जिसमे परिवर्तनकारी षिक्षाषास्त्र, समस्या आधारित षिक्षण, परियोजना आधारित षिक्षण सिमुलेषन आदि षामिल है। विष्वविद्यालय उत्तीर्ण छात्रों की रोजगार क्षमता को बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रकार के प्रयास करता है। विष्वविद्यालय का समग्र जोर षिक्षा-षिक्षण  और अनुसंधान मे गुणवत्ता  और नवीनता को बढ़ाने पर है, षिक्षण हमारे लोकाचार को एकीकृत करता है और इस विष्वविद्यालय से पास होन वाले छात्रों के आचरण और व्यवहार मे नैतिकता और मूल्यों को निखारने का प्रयास करता है। विष्वविद्यालय गुणवत्तापूर्ण षिक्षा के माध्यम से राश्ट्र को उन्नत राश्ट्रों की अग्रिम पंक्ति मे रखने के लिए दृढ़ संकल्प है।

यह भी देखे:-

रंग-बिरंगे यादों के साथ संपन्न हुआ तीन दिवसीय "मीडिया मेला- 2019"
जेपी इंटरनेशनल स्कूल में छात्र परिषद का गठन
DU Exam Form 2021: यूजी, पीजी और प्रोफेशनल के स्टूडेंट्स के लिए डीयू ने जारी किया नोटिफिकेशन, 28 फरव...
हिमालय क्षेत्र में बढ़े टूटे और लटके हुए ग्लेशियर, तबाह कर सकते हैं नदी किनारे बसे गांव और शहर
एस्टर पब्लिक स्कूल ग्रेनो वेस्ट ने मनाया चौथा वार्षिकोत्सव
जीएल बजाज इन्स्टीट्यूट आफ मैनेजमेण्ट एण्ड रिसर्च को मिला उत्कृष्ट इण्डस्ट्री-एकेडमिया इण्टरफेस का अ...
यूपी : अयोध्या में आयुर्वेदिक और वाराणसी में होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज खुलेगा
फिल्म "पीएम नरेंद्र मोदी" का प्रमोशन करने शारदा यूनिवर्सिटी पहुंचे अभिनेता विवेक ओबेरॉय
मारवाह स्टूडियो के सिल्वर जुबली साल में डायमंड जुबली बैच की शुरुआत
समसारा विद्यालय ने श्रम सेवी गतिविधि का किया आयोजन
एक ही पौधे में उग रही हैं दो सब्जियां, आलू के पौधे में बैंगन, बैंगन के पौधे में टमाटर,
यूनाईटेड काॅलेज में प्लेसमेन्ट वीक, छात्र पा रहे हैं जाॅब
आईटीएस में एफ 1 रेसिंग प्रोमोशनल इवेंट का आयोजन
जीएनआईओटी ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स मे "फिट इंडिया चैलेंज" के अन्तर्गत योग अभ्यास का विशाल आयोजन
जवाब नहीं देने पर स्कूलों को थमाया गया नोटिस
सावित्रीबाई फुले बालिका इंटर कॉलेज में छात्राओं ने धूम-धाम से मनाया लोहड़ी का पर्व