आजमपुर गढ़ी में ग्राम पुस्तकालय को बनाया गया क्वारन्टीन सेंटर, दिल्ली पुलिस का हेड कॉन्स्टेबल निभा रहा है महत्वपूर्ण भूमिका

आजमपुर गढ़ी में ग्राम पुस्तकालय को बनाया गया क्वारन्टीन सेंटर, दिल्ली पुलिस का हेड कॉन्स्टेबल निभा रहा है महत्वपूर्ण भूमिका

बिलासपुर:(खालिद सैफी)टीम ग्राम पाठशाला के द्वारा चलाई जा रही मुहिम “मेरा गाँव मेरी जिम्मेदारी” को आगे बढ़ाते हुए और टीम ग्राम पाठशाला से प्रेरणा लेकर। आज ग्राम आजमपुर गढ़ी के ग्राम पुस्तकालय पर क्वॉरेंटाइन सेंटर की स्थापना गांव के ही एक युवा अमित भाटी ने की हैं, जो दिल्ली पुलिस में हैड कॉन्स्टेबल के पद पर कार्यरत है। जहां गांव वासियों के लिए यह विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध होंगी जैसे कि दस ऑक्सीमीटर, पांच स्टीम वेपोराइजर, सैनिटाइजर, चार पीपीई कीट, ऑक्सीजन सिलेंडर, फ्लोमीटर, 500 मास्क, 100 ग्लब्स, कोरोना में कारगर दवाइयां, थर्मामीटर, साथ साथ गांव में जो व्यक्ति कॉविड वैक्सीन लगवाने के लिए अपना रजिस्ट्रेशन या स्लॉट बुक करने में असमर्थ हैं, उन्हें भी यहां फ्री उनका रजिस्ट्रेशन और स्लॉट बुक करने में भी उनकी मदद की जाएगी। गांव में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में सारी सुविधाएं गांव वासियों के लिए मुफ्त होगी, किसी भी गांव वासी से इसका कोई भी चार्ज नहीं लिया जाएगा। आपको बता दें कि कोरोना महामारी के कारण गांव का ग्राम पुस्तकालय लाइब्रेरी कुछ समय के लिए बंद कर दी गई थी। अब देखिए इस यूवा ने उसी लाइब्रेरी में जहां युवा पढ़ते थे। उसी जगह का सदुपयोग करते हुए, ग्राम पुस्तकालय को ही बनाया क्वारेंटाइन सेंटर का रूप दे दिया और अब देखिए इस महामारी के समय में जहां चारों तरफ त्राहिमाम त्राहिमाम मचा हुआ है, इन्होंने अपने गांव में ही एक छोटा-सा क्वारेंटाइन सेंटर ही स्थापित कर दी। इन्होंने बताया कि हम सभी ग्रामवासी मिलकर अपने गांव को इस कोरोना महामारी से दूर रखने का प्रयास करेंगे। उसी कड़ी में मेरा बस यह एक प्रयास है कि अगर किसी गांव वासियों को किसी भी प्रकार की कोई स्वास्थ्य संबंधित परेशानी आती है, तो उन्हें दर-दर भटकने की जरूरत नहीं है। गांव में ही निशुल्क उनके लिए सारी सुविधाएं उपलब्ध है। मैं भारत देश के प्रत्येक गांव के प्रधान, सरपंच एवं गांव के युवाओं से यह अपील करता हूं कि आप भी इस महामारी से लड़ने के लिए सरकार का साथ दें और आगे आकर टीम ग्राम पाठशाला के द्वारा चलाई जा रही मुहिम **मेरा गांव मेरी जिम्मेदारी** से जुड़े और अपने-अपने गांव में एक क्वारेंटाइन सेंटर स्थापित करने का प्रयास करें। जिससे कि गांव के निवासियों को गांव में ही सारी स्वास्थ्य संबंधित सुविधाएं मिल सकें।

यह भी देखे:-

ग्रेनो में फिर चरमरा सकती है सफाई व्यवस्था ! पढ़ें पूरी खबर
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
चेतावनी: डब्ल्यूएचओ चीफ बोले- महामारी अभी गई नहीं, यह तब ही खत्म होगी जब दुनिया चाहेगी
हिन्दू युवा वाहिनी का"हर घर तुलसी"कार्यक्रम तीसरे दिन भी जारी रहा
उद्यमियों ने ग्रेनो प्राधिकरण के सीईओ को गिनाई समस्या
आईटीएस डेंटल कॉलेज में व्यक्तित्व विकास के लिए कार्यशाला का आयोजन 
कोरोना के खिलाफ जन व स्वास्थ्य सुरक्षा हेतु पुलिस कर्मियों ने कराया हवन यज्ञ
गुर्जर सम्राट मिहिर भोज जयंती पर हुई कबड्डी प्रतियोगिता
आठ साल के बच्चे ने दिखाई बहादुरी , अपने दोस्त की बचाई जान, मिल रही है शाबासी
बर्ड फ्लू को लेकर केंद्र सरकार ने जारी किया अलर्ट, डीएम गौतमबुद्ध  नगर ने की ऑनलाइन बैठक, मॉनिटरिंग ...
54 हजार एलईडी रोशनी से जगमग होंगी ग्रेनो की सड़कें
हॉस्पिटल एकादश बना T-10 क्रिकेट टूर्नामेंट का विजेता, 28 दिसंबर को ग्रेनो प्रेस क्लब से होगा मुकाबला
बिजली करेंट के झटके से मौत पर हंगामा
निजी स्कूलों में अवैध उगाही का पर्दाफाश किया गया
पूर्व कृषि मंत्री ने किसानों को किया जागरूक
ग्रेटर नोएडा : धार्मिक रामलीला कमेटी ने किया भूमि-पूजन, 21 सितम्बर से 30 सितम्बर तक होगा भव्य रामली...