गांवों में  तेजी से पैर पसार रहा कोरोना, एडवोकेट रविंद्र भाटी सीईओ को पत्र  में लिखा “कुछ करिए”

स्वास्थ्य सुविधाओं की कमी के बीच गांवों में कोरोना तेजी से पैर पसार रहा है. इसे देखकर गांव के लोगों में भी डर बैठा जा रहा है. क्योंकि आए दिन अचानक ही गांवों में लोगों की मौतें हो रही हैं. इधर इस मामले में रविंद्र भाटी , राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अखिल भारतीय गुर्जर परिषदराष्ट्रीय कोर कमेटी आजाद समाज पार्टी  ने सीईओ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण व नोडल अधिकारी नरेंद्र भूषण को पत्र लिखते हुए कहा है “कुछ करिये” .  हालत और बदतर न हो उन्होंने ये मांगें की हैं –

सेवा में
नोडल अधिकारी श्री नरेंद्र भूषण जी जिला गौतम बुद्ध नगर

महोदय जी,

जिला गौतम बुद्ध नगर के ग्रेटर नोएडा वेस्ट में लगभग सभी गांवों में कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है जिसमें करोना संक्रमण के फैलने से और उचित समय पर सही इलाज ऑक्सीजन ,बेड  व वेंटिलेटर की कमी से बड़ी संख्या में लोगों की जान जा रही है पिछले 11 दिन से  अकेले जलालपुर में ही दो सगे भाइयों समेत 20 लोगों की जान जा चुकी है आप कुछ करिए साहब छपरौला में 50 लोगों की खैरपुर में 25 लोगों की सादुल्लापुर में 16 तुस्याना में 7 दुजाना में 17 कैलाशपुर में 4 लगभग सभी गांवों की यही स्थिति है हजारों संक्रमित लोग अपने घर में होम आइसोलेशन  में हैं हमारी आपसे प्रमुख मांगे यह है कि –
1 . ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 500 बेड का अस्थायी कोविड अस्पताल अति शीघ्र शुरू किया जाए
2.जो लोग घर पर आइसोलेट हैं उनको घर पर ही कोविड किट और ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराए जाएं
3. स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा गांवों में टेस्टिंग शुरू कराई जाए
4.प्रदेश सरकार ने घोषणा की थी जिसको कोविड हॉस्पिटल में एडमिशन नहीं मिले उनको प्राइवेट अस्पताल में फ्री इलाज किया जाए अभी तक मुख्यमंत्री जी के आदेश का पालन एक भी प्राइवेट अस्पताल ने नहीं किया है
5.जो प्राइवेट हॉस्पिटल करोना पेशेंट्स मरीज से दो से चार लाख वसूल रहे हैं उन पर कार्रवाई हो और करोना पेशेंट के लिए सामान्य राशि निर्धारित की जाए 6.केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार बिना कोविड-पॉजिटिव  वाले मरीजों को भी अस्पताल में एडमिट किया जाए और उनका उचित इलाज दिया जाए
7. कुछ मरीजों में rt-pcr रिपोर्ट नेगेटिव आने पर करोना संक्रमण फेफड़े में रहता है सीटी स्कैन से जिसका पता चलता है उसको भी एडमिट कर इलाज किया जाए
8. करोना महामारी भी एक प्राकृतिक आपदा है प्राकृतिक आपदा में ₹400000 की आर्थिक सहायता दी जाती है अत: करोना से हुई मृत्यु के परिवार वालों को चार लाख की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाए

एडवोकेट रविद्र भाटी

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अखिल भारतीय गुर्जर परिषद
राष्ट्रीय कोर कमेटी आजाद समाज पार्टी
9999662228

यह भी देखे:-

सेक्टर डेल्टा टू में लगा समस्याओं का अंबार, कल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के CEO से मिलकर करेंगे शिकायत ...
UP Global Investors Summit 2023 : श्री विनायक ग्रुप ग्रेटर नोएडा में 500 करोड़ का निवेश करेगा
भारतीय किसान यूनियन की समस्या को लेकर हुई पंचायत
जहांगीरपुर: छात्र -छात्राओं ने निकाली स्वच्छता अभियान रैली 
उत्तर प्रदेश इंटरनेशनल ट्रेड फेयर के चौथे दिन प्रदर्शकों को जबरदस्त कारोबार मिला, रिकॉर्ड तोड़ भीड़ ...
Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी ने बहन को हिरासत में लेने पर कहा- प्रियंका मैं जानता हूं तुम प...
ग्रेटर नोएडा में कार्निवाल कल 25 जनवरी से, स्मार्ट एंड हैप्पी होगी थीम, जानिए कार्यक्रम की डिटेल्स
सामूहिक विवाह धांधली में शामिल अधिकारीयों पर हो कार्यवाही : करप्शन फ्री इण्डिया ने दिया ज्ञापन
"बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ" रथ को डीएम बी.एन. सिंह ने दिखाई हरी झंडी
Ganesh Chaturthi 2021: अमिताभ बच्चन, कंगना रनोट और सोनू सूद सहित इन सेलेब्स ने दी फैन्स को गणेश उत्स...
युवाओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने के लिए विशेष अभियान का शुभारंभ
बच्चा चोरी की अफवाहों से बचने की साईट - 5 थाना पुलिस की अपील
COVID-19: गौतमबुद्ध नगर में ये जगहें बनी हैं कोरोना संक्रमण का हॉटस्पॉट,
जीएनआईओटी ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स मे "फिट इंडिया चैलेंज" के अन्तर्गत योग अभ्यास का विशाल आयोजन
पीडित को न्याय दिलाने के लिए दनकौर कोतवाली पहुंचे किसान एकता संघ के कार्यकर्ता
कोई भूखा न रहे का लक्ष्य लेकर आगे आए समाजसेवी भुजंग वाडेकर