संगत पंगत -आरडब्लूए डेल्टा- 1 द्वारा रक्तदान शिवर-नि:शुल्क हेल्थ कैम्प आयोजित

ग्रेटर नोएडा : रविवार को डेल्टा- 1 स्थित सामुदायिक केंद्र में रक्तदान शिविर और , फ्री हेल्थ चेक अप केम्प का आयोजन संगत पंगत द्वारा आरडब्लूए के सहयोग से किया गया।

शिविर का उद्घाटन उद्घाटन राज्य सभा सांसद और SIS के चेयरमैन आर के सिन्हा ने कहा। इस अवसर पर उन्होने हीमोफीलिया ग्रस्त रोगियों से तथा हीमोफीलिया पीड़ित बच्चों के माता- पिता से बात की और हीमोफीलिया और थैलीसीमिया से ग्रस्त मरीज़ों की ” संगत – पंगत ” अभियान द्वारा हर संभव सहायता का आश्वासन दिया। केम्प में ब्लड डोनेशन केम्प में 25 से अधिक लोगो ने रक्तदान किया। वहीं स्वास्थ शिविर में 100 से अधिक लोगो ने जाँच करवाई।

केम्प में हेमोफिलिया सोसायिटी ऑफ़ नोयडा का भी सहयोग रहा। शिविर में चलित मोबाइल ओपीडी और चलित पैथालॉजी लैब भी मौजूद रहा। कार्यक्रम डाक्टर रेनू वर्मा, अतुल वर्मा के मागर्दर्शन में अंजू श्रीवास्तव,अल्पना भटनागर, साधना सिन्हा, पंकज श्रीवास्तव और आरडब्लूए के अध्यक्ष जितेंद्र भाटी,शीतल,देवेंद्र मावि ,ऋषिपाल का सहयोग रहा।

यह भी देखे:-

कोरोना अपडेट गौतमबुद्ध नगर: आज सौ से ज़्यादा कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले
नोएडा में कोरोना संक्रमित दो और मरीज मिले
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
गुनपुरा में स्वास्थ्य विभाग ने लगाया  कोरोना जाँच शिविर कैम्प,7पोजेटिव केस मिले
ग्रेटर नोएडा: 14 नवंबर को डयबिटीज वॉक, YouTube Live Session में डॉक्टर से लीजिये परामर्श
विजन हेल्थ एंड एजुकेशन फाउंडेशन  द्वारा मेडिकल व  फिटनेस चेक-अप किया गया
कोरोना वायरस : इजरायल में बढ़ते मामलों के बीच अमेरिका ने 'डू नॉट ट्रैवल' लिस्ट में डाला
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
डर ही वायरस है, सुरक्षा ही वैक्सीन : आशु पहलवान घंघौला
ईशान आयुर्वेद का ऑनलाइन चिकित्सा परामर्श का लाभ लें, जानिए कैसे
कोरोना अपडेट : राहत , पिछले एक हफ्ते से एक भी  मौत नहीं 
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस(जिम्स) ग्रेटर नोएडा ने डायबिटिक क्लिनिक किया शुरू
ह्यूमन टच फाऊंडेशन द्वारा दंत चिकित्सा जागरूकता शिविर का आयोजन
पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन करने करने का निर्देश द...
कोविड-19 से बचने हेतु अत्यन्त प्रभावशाली एवं बिना किसी हानि के ग्रीन हर्बल से इलाज संभव