कार्यकाल के आखिरी दिन जस्टिस बोबडे ने केंद्र को फटकारा, कहा- ऑक्सीजन की कमी से मर रहे लोग

देश में कोरोना की स्थिति को देखते हुए आज सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर स्वतः संज्ञान लेते हुए सुनवाई की। मुख्य न्यायधीश के तौर पर अपने कार्यकाल के आखिरी दिन एसए बोबडे ने सरकार पर सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से लोग मर रहे हैं। हालांकि इस मामले को 27 अप्रैल यानी मंगलवार तक स्थगित कर दिया है।

 

इस मामले पर तीन न्यायमूर्तियों की बेंच ने सुनवाई की, जिसकी अध्यक्षता सीजेआई बोबडे ने की। सुनवाई शुरू होते ही मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे ने कहा कि देश में ऑक्सीजन की कमी से लोग मर रहे हैं। बता दें कि एसए बोबडे ने आज सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश की कुर्सी से रिटायर हो रहे हैं।

 

एसए बोबडे सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में पहले ऐसे न्यायाधीश होंगे, जिनके कार्यकाल का ज्यादातर हिस्सा कोविड लॉकडाउन और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई में चला गया। एसए बोबडे ने अपने 14 माह के कार्यकाल में मात्र 90 दिन ही फिजिकल सुनवाई कर पाए।

इससे पहले गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि ऑक्सीजन की आपूर्ति और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए आवश्यक दवाओं समेत अन्य मुद्दों पर नेशनल प्लान चाहता है। मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे, न्यायमूर्ति एल नागेश्वर राव और न्यायमूर्ति एस आर भट की तीन सदस्यीय पीठ ने देश में कोरोना की गंभीर स्थिति पर स्वतः संज्ञान लेते हुए कहा कि देश में कोविड-19 टीकाकरण से जुड़े हर मुद्दे पर विचार करेगी।

इसके अलावा पीठ ने कहा कि वैश्विक महामारी के बीच लॉकडाउन घोषित करने की उच्च न्यायालयों की शक्ति से जुड़े पहलू का भी आकलन किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने स्वतः संज्ञान की कार्यवाही में उसकी मदद के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे को न्यायमित्र नियुक्त किया है।

यह भी देखे:-

यूपी : मुख्तार अंसारी के गुर्गों ने मांगा 50 लाख रुपये गुंडा टैक्स, केस दर्ज
सुमित एनकाउंटर की सच्चाई जानने बागपत पहुंचा बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल
हाईकोर्ट में सरकार ने बताया, बिहार में अगले 10 दिनों में कोरोना के दो लाख नए केस आ सकते हैं सामने
Auto Expo 2020: Batrixx ई-बाइक सिंगल चार्ज पर चलती है 300 km
पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल अगले हफ्ते करेगा भारत की यात्रा, जानें किस बात पर होगी चर्चा
हमें शहरी विकास कार्यक्रमों में स्थानीय युवाओं को रोजगार देना चाहिए: सीएम योगी आदित्यनाथ
इजरायली दूतावास के पास बम  ब्लास्ट, गाड़ियों के शीशे टूटे, मौके पर बम निरोधक दस्ता पहुंचा 
गौतबुद्ध नगर जिले की Updated Containment Zones
भाकियू लोकशक्ति ने किया कोरोना फाइटरों का स्वागत
यूपी बोर्ड के टापर्स छात्रों को करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने किया सम्मानित
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
किसान आंदोलन : रास्ता खोलने का काम शुरू, गाजीपुर बॉर्डर से हटाए गए सीमेंट के बैरियर
LIVE: राज्यसभा से गुलाम नबी आजाद की विदाई, आतंकी घटना को याद करके भावुक हुए PM मोदी
मनरेगा के तहत एक साल में 48 फीसदी घटा रोजगार
कटाक्ष : जनता देख रही है साहब जी..-रोहित कुमार
देश में पहली बार एक दिन में कोरोना संक्रमण के नए मामले 2.50 लाख के पार, 1500 लोगों की मौत