World Earth Day 2021: जानें कब और कैसे हुई थी इस दिन को मनाने की शुरुआत और इस बार के थीम के बारे में

तमाम तरह की सुख-सुविधाएं और संसाधन जुटाने के लिए किए जाने वाले मानवीय क्रियाकलापों के कारण आज पूरी दुनिया ग्लोबल वॉर्मिंग की भयावह समस्या से त्रस्त है। इसलिए पर्यावरण संरक्षण को लेकर लोगों में जागरूकता पैदा करने और पृथ्वी को बचाने के संकल्प के साथ हर साल 22 अप्रैल को दुनियाभर में पृथ्वी दिवस मनाया जाता है।

वर्ल्ड अर्थ डे का इतिहास

संयुक्त राष्ट्र में पृथ्वी दिवस को हर साल मार्च एक्विनोक्स (वर्ष का वह समय, जब दिन और रात बराबर होते हैं) पर मनाया जाता है और यह दिन प्रायः 21 मार्च ही होता है। इस परंपरा की स्थापना शांति कार्यकर्ता जॉन मक्कोनेल द्वारा की गई थी। वैश्विक स्तर पर लोगों को पर्यावरण के प्रति संवदेनशील बनाने के लिए 22 अप्रैल 1970 को पहली बार पृथ्वी दिवस वृहद स्तर पर मनाया गया था। तभी से हर साल 22 अप्रैल को यह दिवस मनाए जाने का निर्णय लिया गया।

पहले दो बार मनाया जाता था यह दिन

पृथ्वी दिवस पहले हर साल दो बार 21 मार्च तथा 22 अप्रैल को मनाया जाता था लेकिन साल 1970 से यह दिवस 22 अप्रैल को ही मनाया जाना तय किया गया। 21 मार्च को पृथ्वी दिवस केवल उत्तरी गोलार्द्घ के वसंत तथा दक्षिणी गोलार्द्ध के पतझड़ के प्रतीक स्वरूप ही मनाया जाता रहा है। 21 मार्च को मनाए जाने वाले पृथ्वी दिवस को हालांकि संयुक्त राष्ट्र का समर्थन प्राप्त है, लेकिन केवल वैज्ञानिक व पर्यावरणीय महत्व ही है जबकि 22 अप्रैल को मनाए जाने वाले पृथ्वी दिवस का पूरी दुनिया में सामाजिक एवं राजनैतिक महत्व है।

वर्ल्ड अर्थ डे की थीम

इस बार कोरोना काल में अर्थ डे की थीम है ‘पृथ्वी को फिर से अच्छी अवस्था में बहाल करना’। जिसके लिए उन नेचुरल रिसोर्सेज और उभरती हुई तकनीकों पर ध्यान देना होगा जो दुनिया के पारिस्थिकी तंत्र को फिर से कायम करने में मददगार साबित होंगे।

पृथ्वी दिवस को मनाए जाने का वास्तविक लाभ तभी है, जब हम आयोजन को केवल रस्म अदायगी तक ही सीमित न रखें, बल्कि धरती की सुरक्षा के लिए इस अवसर पर लिए जाने वाले संकल्पों को पूरा करने हेतु हरसंभव प्रयास भी करें।

यह भी देखे:-

नार्थ इंडिया कराटे चैंपियनशिप 2019 में ग्रेनो के बच्चों का जलवा, जीते की मेडल्स
Kerala Election 2021: केरल के दो दिवसीय चुनावी दौरे पर आज राहुल गांधी, प्रचार अभियान को करेंगे तेज
पजेशन न मिलने से दु:खी खरीदारों ने किया हंगामा, पीएम सीएम से लगाई मदद की गुहार
एल्गार परिषद-भीमा कोरेगांव मामला, नोएडा में प्रोफेसर के घर छापा
Covid Outbreak In India: भारत में बढ़ते कोरोना मामलों पर अमेरिका चिंतित, कहा- हर संभव मदद करेंगे
आज का पंचांग, 25  जुलाई, जानिए शुभ एवं अशुभ मुहूर्त 
वाराणसी एयरपोर्ट में कोरोना: विस्तारा एयरलाइंस के चार कर्मचारी पॉजिटिव, जिले में 3000 से ज्यादा एक्ट...
जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक, सस्ती हुई 33 वस्तुएं , पढ़ें पूरी खबर
उर्स मेले के कव्वाली में जीशान फैजान साबरी ने समां बांधा, झूम उठे लोग
यूट्यूबर है तो ख़बर आपके लिए, इंडिया के बाद अब अमेरिका भी लेगा आपसे टैक्स, पढें पूरी रिपोर्ट
GBU ने नया एम.एस. सी. मॉलिक्यूलर मेडिसिन कार्यक्रम शुरू किया
स्काईलाइन कॉलेज में होगा 8 नवंबर से मैनेजमेंट और तकनीकी फेस्ट 2019 का आगाज
ग्रेड्स इंटरनेशनल स्कूल में मेगा बेबी शो , बच्चों ने अपनी प्रतिभा का किया प्रदर्शन
मुआवजे के लिए भटक रहे मृत कोरोना योद्धाओं के आश्रित, जिले से सचिवालय तक घूम रहीं फाइलें
वन-डे सीरीज के लिए भारतीय टीम घोषित: कृष्णा, सूर्यकुमार पहली बार शामिल, पृथ्वी शॉ को जगह नहीं
लाठी -डंडे से हमला कर लूटने वाले बदमाश गिरफ्तार, गैंग में तीन नाबालिग भी हैं शामिल