Maharashtra: नासिक के अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक, 22 मरीजों की मौत

नासिक, एएनआइ। कोरोना के कहर के बीच महाराष्ट्र में नासिक (Nashik) के जाकिर हुसैन नगरपालिका अस्पताल (Dr Zakir Hussain Hospital) में ऑक्‍सीजन लीक (Oxygen Leak) होने से हड़कंप मच गया। हादसे में 22 मरीजों की मौत हो गई। अस्‍पताल के एक ऑक्‍सीजन टैंकर में अचानक तेज मात्रा में ऑक्‍सीजन लीक होने लगी। जिसे देखते हुए लोगों ने  फायर ब्रिगेड और पुलिस को सूचित किया। इस बीच, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नासिक ऑक्सीजन टैंकर रिसाव दुर्घटना की खबर सुनकर व्यथित है। मैं इस घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। इधर, नासिक डीएम ने पुष्टि की है कि डाॅ. जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन लीक की घटना के कारण अब तक 22 लोगों की मौत हो चुकी है।नासिक के डाॅ.जाकिर हुसैन अस्पताल में ऑक्सीजन लीक होने की घटना पर राजेंद्र शिंगणे, महाराष्ट्र के मंत्री ने कहा कि हमें प्राथमिक जानकारी मिली है कि इस घटना में 11 मरीज़ों की मौत हुई है। इस घटना की जांच करने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

नासिक के अस्‍पताल में ऑक्सीजन लीकेज की घटना पर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्‍यमत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) का कहना है कि जो हुआ वह काफी दुखद है। इस हादसे 22 लोगों की मौत हो गई, जो मन का काफी विचलित करने वाली है। मेरी प्रशासन से मांग है कि जरूरत अनुसार मरीजों को दूसरे अस्‍पतालों में स्थानांतरित किया जाए और उनकी हरसंभव मदद की जाए। हम घटना की विस्तृत जांच की मांग करते हैं। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) और पालिका आयुक्त कैलाश जाधव के अनुसार इस हादसे में 22 लोगों की मौत हो गई। जबकि अन्‍य कई लोगों की भी हालत गंभीर बतायी जा रही है। दरअसल ऑक्‍सीजन लीक होते ही कुछ समय के लिए ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई रोकी गई थी।

 

स्थानीय प्रशासन के अनुसार लीकेज के कारण ऑक्सीजन की सप्लाई करीब आधे घंटे से ठप पड़ी हुई है। जिससे वेंटिलेटर पर मौजूद 22 मरीजों की मौत हो गई। घटना के समय अस्पताल में 171 मरीज भर्ती थे। ऑक्सीजन लीक होने के बाद से मरीजों की हालत बिगड़ने लगी और उन्‍हें तुरंत दूसरे दूसरे अस्‍पतालों में भर्ती करवाया गया। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि अब लीकेज को काफी हद तक कंट्रोल कर लिया गया है। राजेश टोपे ने बताया टैंकर के वॉल्व्स में लीकेज के कारण ऑक्सीजन अस्‍पताल परिसर में फैल गई थी। गौरतलब है कि घटना की जानकारी मिलते ही रेस्क्यू टीम वहां पहुंच गई है। कोरोना संक्रमण के कारण देश पहले ही ऑक्‍सीजन संकट से गुजर रहा है। प्रतिदिन कई कोरोना मरीजों की मौत ऑक्‍सीजन न मिलने के कारण हो रही है।

यह भी देखे:-

जहाँगीरपुर पब्लिक इंटर कॉलेज में विद्यार्थीयों को किये गये बैग वितरित
पांच अगस्त: सीएम योगी हॉकी टीम को बधाई देते हुए बोले- लो आज एक और इतिहास बन गया
गणेशोत्सव 2019: रंगोली व चित्रकला प्रतियोगिता में दिखी प्रतिभा, मुंबई लोककला के कलाकारों ने दी नृत्...
मामूली विवाद में भाई ने भाई को गोली मारी
फैसला: यूपी में डीजे पर लगी रोक हटी, हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने पलटा
कासना थाना पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर मोबाईल लूटेरे , लूट के 14 मोबाईल बरामद
Fastag यमुना एक्सप्रेस-वे पर है 'बेकार', जानें क्या है वजह
बिभर्ते व विओम ने डीसीडीसी डायलिसिस सेंटर में खुशियों के रंग बांट कर मरीजों संग मनाई होली
कोरोना: पीएम ने हिल स्टेशन पर उमड़ी भीड़ पर जताई चिंता, कहा- तीसरी लहर को रोकने के लिए मस्ती पर लगान...
पालघर में कोविड अस्‍पताल में भीषण आग में 13 की मौत; PM मोदी ने जताया दुख
Felicitation of X board achievers at Ryan Greater Noida
चक्रवाती तूफान 'टाक्टे' ने मचाई तबाही, आज गुजरात का हवाई दौरा करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी
निकिता तोमर को 5 महीने में मिला इंसाफ, हत्यारे तौसीफ और रेहान को हुई उम्रकैद
टोक्यो ओलंपिक 2020: कौन हैं भारत की गोल्फर बेटी अदिति
केंद्रीय कर्मचारियों की बल्‍ले-बल्‍ले, सितंबर में आएगा बढ़ा DA
BEGINNING स्कूल के बच्चों में गर्म कपड़ों का वितरण