कोरोना पर वार : डीआरडीओ पानीपत में बनाएगा 500 से 1000 बेड का कोविड अस्पताल

हरियाणा सरकार ने कोविड-19 के मामलों में हो रही वृद्धि से उत्पन्न किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। मरीजों को पर्याप्त चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए पानीपत में 500 से 1000 बेड का कोविड अस्पताल बनेगा। इसकी स्थापना डीआरडीओ करेगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने डीआरडीओ अधिकारियों के साथ इस बारे में बातचीत की है। इस अस्पताल का उपयोग आपातकालीन स्थिति में किया जाएगा।

 

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को ‘हरियाणा की बात’ कार्यक्रम में जनता को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राज्य में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। अफवाहों से बचें। कोरोना से बचाव के लिए सभी तरह के नियमों का सख्ती से पालन अवश्य अमल में लाया जाएगा। उन्होंने श्रमिकों से आग्रह किया है कि वे निश्चिंत होकर अपने कार्य में लगे रहें, किसी प्रकार से घबराने की जरूरत नहीं है। उन्हें किसी प्रकार की कोई कठिनाई नहीं आने दी जाएगी। सरकार आपके साथ खड़ी है, प्रदेश छोड़कर न जाएं।

 

उन्होंने कहा कि पिछले साल लॉकडाउन लगने के कारण अर्थव्यवस्था का चक्र रुकने से कई श्रमिकों को समस्या का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार मजदूरों और कामगारों विशेषकर दैनिक और मासिक वेतन पर काम करने वालों के हितों को ध्यान में रखते हुए हरियाणा में कोई लॉकडाउन नहीं लगाएंगे। कोरोना मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है, यह चिंताजनक है। पिछले डेढ़ महीने में एक दिन में कोरोना के नए मामलों की संख्या लगभग 7000 तक पहुंच गई है।

आक्सीजन की कोई कमी नहीं
सीएम ने कहा कि अस्पतालों में अभी ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। पानीपत के ऑक्सीजन प्लांट में लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन हो रहा है। इसके साथ ही ऑक्सीजन गैस की उपलब्धता को भी सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। जिनके पास घर में आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं हैं, उनके लिए 526 जिला कोविड केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों में लगभग 45 हजार बेड की व्यवस्था है।

प्रदेश में 281 कोविड अस्पताल हैं, जिनमें लगभग 21 हजार बेड हैं। निजी अस्पतालों से भी अपील की गई है कि वे पहली प्राथमिकता कोरोना मरीजों को दें। निजी अस्पतालों के लिए कोरोना के इलाज के खर्च की सीमा 8 हजार रुपये से लेकर 18 हजार रुपये तक प्रति दिन निर्धारित की गई है।

टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाकर लगभग 40,000 टेस्ट प्रतिदिन कर दी गई है। इसके अलावा प्रदेश में प्रतिदिन 70 हजार से ज्यादा लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लगाई जा रही है। अब तक लगभग 33 लाख लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इसी कड़ी में 20 अप्रैल से अगले 5 दिनों तक वैक्सीन का महाअभियान चलाया जाएगा, जिसमें अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के 1 मई से 18 साल से ऊपर आयु वाले सभी लोगों को कोविड का टीका लगाने के निर्णय पर भी आभार व्यक्त किया।

 

यह भी देखे:-

अनोखी सजाः छेड़छाड़ का आरोपी नशा मुक्ति केंद्र में एक महीने करेगा सेवा
शारदा विश्वविद्यालय में सैकड़ो की सख्या में कर्मचारियों और विद्यार्थियों ने किया रक्तदान
कृषि कानून के विरोध में बीकेयू ने बन्द किया ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस वे, वाहनों की लगी लंबी कतार
लोहिया ऑटो ने ऑटो एक्सपो 2018 में ‘कम्फर्ट ई-ऑटो’ को लॉन्च किया
Fastag यमुना एक्सप्रेस-वे पर है 'बेकार', जानें क्या है वजह
मॉल के तीसरे मंजिल से युवती ने कूद कर दी जान
डीएम बी.एन. सिंह ने जनपदवासियों को दी क्रिसमस की बधाई
गौतमबुद्ध नगर में सात नए हॉटस्पॉट, संख्या बढ़कर 27 हुई
जेवर एयरपोर्ट से प्रभावित ग्रामों के किसानों को मिलेंगी सभी सहूलियतें : धीरेन्द्र सिंह
ग्रेटर नोएडा : शाहबेरी में गिराई जाएंगी 21 अवैध बिल्डिंग
जानिए दोपहर 1:00 बजे तक जिला गौतम बुध नगर में चुनाव प्रतिशत क्या रहा
अमित शाह ने राहुल गांधी को कहा 'टूरिस्ट नेता', भाजपा के DNA पर उठे सवाल का भी दिया करारा जवाब
पंचायत चुनाव: यूपी सरकार के एक फैसले से मिलेगी राहत, जानें क्या होने जा रहा है नया
मध्य प्रदेश कोरोना संक्रमण से बिगड़ रहे हालात, राज्‍य के बड़े शहरों के श्मशान घाटों में लकड़ी का टोट...
भारतीयम स्कूल ग्रेटर नोएडा में विश्व पृथ्वी दिवस समारोह का आयोजन
जूनियर हाई स्कूल दनकौर मे ड्रेस वितरित