कोरोना पर वार : डीआरडीओ पानीपत में बनाएगा 500 से 1000 बेड का कोविड अस्पताल

हरियाणा सरकार ने कोविड-19 के मामलों में हो रही वृद्धि से उत्पन्न किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारी शुरू कर दी है। मरीजों को पर्याप्त चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए पानीपत में 500 से 1000 बेड का कोविड अस्पताल बनेगा। इसकी स्थापना डीआरडीओ करेगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने डीआरडीओ अधिकारियों के साथ इस बारे में बातचीत की है। इस अस्पताल का उपयोग आपातकालीन स्थिति में किया जाएगा।

 

मुख्यमंत्री ने मंगलवार को ‘हरियाणा की बात’ कार्यक्रम में जनता को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राज्य में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। अफवाहों से बचें। कोरोना से बचाव के लिए सभी तरह के नियमों का सख्ती से पालन अवश्य अमल में लाया जाएगा। उन्होंने श्रमिकों से आग्रह किया है कि वे निश्चिंत होकर अपने कार्य में लगे रहें, किसी प्रकार से घबराने की जरूरत नहीं है। उन्हें किसी प्रकार की कोई कठिनाई नहीं आने दी जाएगी। सरकार आपके साथ खड़ी है, प्रदेश छोड़कर न जाएं।

 

उन्होंने कहा कि पिछले साल लॉकडाउन लगने के कारण अर्थव्यवस्था का चक्र रुकने से कई श्रमिकों को समस्या का सामना करना पड़ा था, लेकिन इस बार मजदूरों और कामगारों विशेषकर दैनिक और मासिक वेतन पर काम करने वालों के हितों को ध्यान में रखते हुए हरियाणा में कोई लॉकडाउन नहीं लगाएंगे। कोरोना मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है, यह चिंताजनक है। पिछले डेढ़ महीने में एक दिन में कोरोना के नए मामलों की संख्या लगभग 7000 तक पहुंच गई है।

आक्सीजन की कोई कमी नहीं
सीएम ने कहा कि अस्पतालों में अभी ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। पानीपत के ऑक्सीजन प्लांट में लिक्विड ऑक्सीजन का उत्पादन हो रहा है। इसके साथ ही ऑक्सीजन गैस की उपलब्धता को भी सुनिश्चित करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। जिनके पास घर में आइसोलेशन की व्यवस्था नहीं हैं, उनके लिए 526 जिला कोविड केंद्र बनाए गए हैं। इन केंद्रों में लगभग 45 हजार बेड की व्यवस्था है।

प्रदेश में 281 कोविड अस्पताल हैं, जिनमें लगभग 21 हजार बेड हैं। निजी अस्पतालों से भी अपील की गई है कि वे पहली प्राथमिकता कोरोना मरीजों को दें। निजी अस्पतालों के लिए कोरोना के इलाज के खर्च की सीमा 8 हजार रुपये से लेकर 18 हजार रुपये तक प्रति दिन निर्धारित की गई है।

टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाकर लगभग 40,000 टेस्ट प्रतिदिन कर दी गई है। इसके अलावा प्रदेश में प्रतिदिन 70 हजार से ज्यादा लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लगाई जा रही है। अब तक लगभग 33 लाख लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। इसी कड़ी में 20 अप्रैल से अगले 5 दिनों तक वैक्सीन का महाअभियान चलाया जाएगा, जिसमें अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाएगा। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के 1 मई से 18 साल से ऊपर आयु वाले सभी लोगों को कोविड का टीका लगाने के निर्णय पर भी आभार व्यक्त किया।

 

यह भी देखे:-

एक और झटका: महंगाई से जनता का बुरा हाल, अगले महीने से 11 फीसदी बढ़ सकती है CNG-PNG की कीमत
लखनऊ: मौतों का ग्राफ बढ़ने से श्मशान में बवाल, जेब में हों 20 हजार तभी होगा अंतिम संस्कार, लकड़ियां ...
दर्दनाक हादसा: कैंटर की टक्कर से डायल 112 में तैनात सिपाही की मौत
जहांगीरपुर श्री रामायण मेला समिति रामलीला मंचन: राम ने तोड़ा शिव धनुष. गरजे परशुराम
गाँधी जयंती: ग्रेटर नोएडा साइकलिंग क्लब व ANAHITA FOUNDATION ने दिया "GO GREEN GO CYCLING " का नारा
यूपी: मायावती बोलीं- सड़कों की खस्ताहाली पर ध्यान दे योगी सरकार, आम जनजीवन है बेहाल
क्या लैब से लीक हुआ कोरोना, स्वतंत्र जांच पर अब चीन की चुप्पी, US बोला-तह तक जाएंगे
दिल्ली तक लखीमपुर बवाल की आंच, दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पूरी तरह बंद, बॉर्डरों पर बढ़ी सुरक्षा
दिल्ली अव्वल: कोरोना मरीजों के मामले में राजधानी की हालत देश में सबसे खराब
किसान आन्दोलन के कारण रेलवे ने किया इन गाड़ियों का कैंसेलेशन व मार्ग परिवर्तन
यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट के नतीजे घोषित , अंजलि परमार बनी जिला टॉपर
आम आदमी पार्टी का रेरा  के खिलाफ प्रदर्शन, बिल्डरों के साथ सेटिंग का आरोप, मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञाप...
#ElectionResult2019 का काउंटडाउन शुरू, देश भर में सुरक्षा के कड़े इन्तजाम
टीकाकरण: कैसे होगा रजिस्ट्रेशन, कहां लगेगा टीका और कैसे डाउनलोड करें सर्टिफिकेट
यमुना एक्सप्रेसवे : डिवाइडर से टकराई कार, महिला की मौत
रोटरी क्लब ने किया पोलियो शिविर का आयोजन