बड़ी राहत: Remdesivir API और इंजेक्शन की किल्लत होगी दूर, भारत ने आयात शुल्क हटाया

कोरोना के कहर के बीच रेमडेसिविर को लेकर पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। कोरोना केस बढ़ने से इसकी मांग में इतनी तेजी आई है कि चारों तरफ इसकी किल्लत होने लगी है। इस बीच केंद्र सरकार ने एक राहत भरा फैसला लिया है। देश ने एंटी-वायरल दवा रेमेडिसिविर पर आयात शुल्क हटा दिया है। जिसका उपयोग वर्तमान में कोविड -19 रोगियों के इलाज के लिए किया जाता है। मंगलवार देर रात जारी एक अधिसूचना में दवा के निर्माण के लिए इस्तेमाल होने वाली दवा सामग्री के आयात पर शुल्क को हटा दिया। यह कदम घरेलू उपलब्धता को बढ़ाने और इंजेक्शन की लागत को कम करने में मदद करेगा। साथ ही सरकार के इस कदम से न सिर्फ इसकी किल्लत दूर होगी, बल्कि कीमत भी कम होगी।

सरकार ने मंगलवार को रेमडेसिविर, उसके कच्चे माल और एंटीवायरल दवा बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले अन्य घटकों पर सीमा शुल्क माफ कर दिया। राजस्व विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया कि केंद्र सरकार ने जिन वस्तुओं पर शुल्क माफ किया गया है, उनमें रेमेडिसविर के निर्माण में उपयोग किए जाने वाले सक्रिय फार्मास्युटिकल सामग्री (एपीआई), रेमेडिसविर इंजेक्शन और बीटा साइक्लोडोडेक्स्ट्रिन शामिल हैं। आयात शुल्क में यह छूट 31 अक्टूबर तक लागू रहेगी।

वहीं, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर बताया है कि कोरोना  के इलाज में कारगर मानी जा रहे रेमडेसिविर इंजेक्‍शन को बनाने में इस्‍तेमाल होने वाले कच्‍चे माल (Remdesivir API) के आयात पर कोई शुल्‍क नहीं वसूला जाएगा। इसके अलावा, रेमडेसिविर इंजेक्‍शन के आयात को भी ड्यूटी फ्री कर दिया गया है। केंद्र सरकार की इस घोषणा से आने वाले दिनों में देश में ये दवा पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्‍ध होने की उम्‍मीद की जा सकती है।

इस बीच केंद्रीय मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि अगले 15 दिनों में एंटी वायरल दवा रेमडेसिवर का उत्पादन दोगुना कर दिया जाएगा। बता दें कि एंटी वायरल दवा रेमडेसिवर को लेकर कई राज्यों से कमी की खबर आ रही है। केंद्रीय मंत्री मांडविया ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो संदेश में कहा था कि भारत सरकार देश में रेमेडिसविर इंजेक्शन के उत्पादन को बढ़ाने और कम कीमत पर उपलब्ध कराने के  सभी प्रयास कर रही है। वर्तमान में, रेमेडिसवीर की प्रतिदिन 150,000 शीशियों का उत्पादन प्रति दिन किया जा रहा है और, अगले 15 दिनों में, उत्पादन को दोगुना करके 300,000 शीशियां प्रत्येक दिन किया जाएगा।

यह भी देखे:-

Indian Railways: दिल्ली से यूपी-बिहार वालों के लिए चलेंगी 5 स्पेशल ट्रेन, जानिए यहां रूट और टाइम टेब...
चुनावी हिंसा : वाराणसी ग्राम प्रधान पद के प्रत्याशी की गोलियां बरसाकर हत्या, इलाके में सनसनी
श्री राम मंदिर के शिलान्यास  के उपलक्ष्य में हिन्दू युवा वाहिनी ने किया हवन पूजन 
कोरोना का कहर: इस साल पहली बार एक दिन में 276 मौतें, नए केस 47 हजार के पार
डॉ हर्षवर्धन बोले, देश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं, राज्यों के पास अभी 1.58 करोड़ डोज हैं मौजूद
जेवर की खरीदारी से महिला ने तीन बच्‍चों संग खाया जहर, महिला और एक बेटे की मौत, जानें पूरी खबर
आईटीएस डेंटल कॉलेज में स्लीप.डिस ऑर्डरित श्वास के लिए रेडियोग्राफिक विश्लेषण पर वेबिनार का आयोजन
कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पीएम मोदी का पांच सूत्रीय रणनीति पर जोर, राज्यों में केंद्रीय टीम भेजने ...
फिजियोथेरेपिस्ट डॉ राहुल त्यागी को किया गया सम्मानित
लिंक पर क्लिक करते ही बैंक खाते से पैसे साफ, न करें ऐसी चूक, Cyber Crime से बचना है तो बरतें ये सावध...
गौतमबुध नगर : डीएम का आदेश, तीन दिन तक जिले के समस्त शिक्षण संस्थान एवं ट्रेनिंग सेंटर रहेंगे बं...
अवैध निर्माण करने वालों को यमुना प्राधिकरण ने जारी किया नोटिस
गौतम बुद्ध नगर कोरोना अपडेट, 500 एक्वटिव मरीज, अब तक 13 की मौत
वीर शिरोमणि महाराज सुहेलदेव जी बैस की जयंती का आयोजन
क्वाड देशों की पहली बैठक आज: हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग पर पीएम मोदी करेंगे चर्चा
आईएफजेएएस 2019 , 145 करोड़ रुपये की बिजनेस पूछताछ के साथ हुआ समापन