यूपी में लॉकडाउन के आदेश के बाद शराब की दुकानों पर मारामारी, एक-दो बोतल नहीं, पेटी खरीदते दिखे लोग

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लॉकडाउन के आदेश के बाद शराब की दुकानों पर भारी भीड़ उमड़ पड़ी। लोग शराबों के लिए मारामारी करते दिखे। लोग एक-दो बोतल नहीं पेटी खरीदते दिखे। दरअसल इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रयागराज, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर और गोरखपुर में बढ़ते कोरोना के बीच लॉकडाउन का आदेश दिया है। हाईकोर्ट ने कहा कि चाहे निजी हो या सरकारी सभी प्रतिष्ठानों को 26 अप्रैल तक बंद कर दें। कोर्ट ने कहा कि केवल आवश्यक सेवाओं को छूट दी जाए।

हालांकि हाईकोर्ट के आदेश के बाद यूपी की योगी सरकार ने लॉकडाउन से इनकार करते हुए कहा कि लॉकडाउन लगाने से गरीबों पर मार पड़ती है। हाईकोर्ट ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सोमवार की सुबह सरकार को यूपी के पांच शहरों लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर और गोरखपुर में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया था।

इसके बाद यूपी सरकार की तरफ से कहा गया कि एसीएस सूचना नवनीत सहगल ने कहा कि आज माननीय उच्च न्यायालय के आदेश के क्रम में यूपी सरकार के प्रवक्ता ने अवगत कराया है कि प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़े है, और सख्ती कोरोना के नियंत्रण के लिए आवश्यक है। सरकार ने कई कदम उठाए हैं, आगे भी सख्त कदम उठाए जा रहे हैं। जीवन बचाने के साथ गरीबों की आजीविका भी बचानी है। अतः शहरों मे सम्पूर्ण लॉकडाउन अभी नहीं लगेगा। लोग स्वतः स्फूर्ति से भाव से कई जगह बंदी कर रहे हैं।

यह भी देखे:-

कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
बंगाल: पीएम मोदी का ममता पर हमला, बोले- टीएमसी का फूल जनता के लिए शूल, रक्त का खेला नहीं चलेगा
पी बी इवेंट कंपनी द्वारा करवाचौथ क्वीन प्रतियोगिता का भव्य आयोजन 
काशी में भाजपा के नए कार्यालय का उद्घाटन: जेपी नड्डा बोले- जिन्हें भाजपा में शामिल होने का मौका मिला...
मुहर लगी , लखनऊ -नोएडा में लागू होगी पुलिस कमिश्नर प्रणाली, पुलिस को मिलेंगे ये अधिकार
26 साल बाद दो लोगों पर दर्ज कराया रेप का केस जब बेटे ने पूछा बाप का नाम, होगी डीएनए जांच
इलाहाबाद हाईकोर्ट का निर्देश यूपी में 30 अप्रैल से 15 मई के बीच कराएं पंचायत चुनाव
यमुना प्राधिकरण में हुई 126 करोड़ के घोटाले में एक और गिरफ्तारी
कोरोना के मामले में दुनियाभर के रिकॉर्ड ध्वस्त, एक दिन में 3.15 लाख नए केस के साथ भारत ने अमेरिका को...
कोरोना काल मे की गई जनसेवा के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने नेफोमा टीम को किया सम्मानित ।
बीएचयू की प्रो. अंजलि रानी मिसेज़ इंडिया गुडनेस एम्बेसेडर
कानपुर राजकीय बालिका बालगृह मामले में आम आदमी पार्टी ने ज्ञापन सौंपा. दोषियों के विरोध कठोर कार्यवाह...
PM मोदी ने मुजीबुर रहमान को दिया गांधी शांति सम्मान, कहा- बांग्लादेश की आजादी के लिए मैंने भी दी थी ...
यमुना प्राधिकरण के पूर्व सीईओ पीसी गुप्ता पर सीबीआई का शिकंजा
देश में अब तक कोरोना वायरस के 7 करोड़ से अधिक टीके लगे, शुक्रवार को 12 लाख से अधिक ने ली वैक्सीन की ...
अब बनारस के घाट नोएडा की सड़कों पे देखिये