केंद्र का बड़ा फैसला: अमेरिका, ब्रिटेन, जापान के टीकों को मंजूरी की जरूरत नहीं, अमित शाह ने बताया

देश में कोरोना के खौफ के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आश्वस्त किया है कि केंद्र ने कुछ महत्वपूर्ण नीतिगत निर्णय किए हैं। मई से उनका असर दिखेगा। एक अहम फैसला यह लिया गया है कि अमेरिका, ब्रिटेन, जापान व डब्ल्यूएचओ ने जिन कोरोना टीकों को मंजूरी दे दी है, उन्हें भारत में मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है।

 

एक टीवी चैनल से चर्चा में गृह मंत्री शाह ने सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार ने कोराना की नई लहर को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं। विश्व में जहां भी दूसरी व तीसरी लहर आई वह पहली लहर के मुकाबले ढाई से तीन गुना ज्यादा तीव्र है। पहली लहर की तुलना में यह ढाई से तीन गुना तेज है। इसमें जो नया वायरस बना है, वह घातक कम है लेकिन यह तेजी से फैलता है। वैज्ञानिक कोरोना के नए वायरस पर वैज्ञानिक तेजी से काम कर रहे हैं।

 

देश में इसलिए है ऑक्सीजन संकट
अमित शाह ने देश में ऑक्सीजन की कमी का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ राज्य ऑक्सीजन का स्टॉक कर रहे हैं, उन्हें अपने मरीजों के लिए यह करना भी चाहिए। केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन आयात का फैसला कर लिया है। लेकिन इसका बराबर वितरण हो, इसके लिए भी प्रधानमंत्री ने पहल की है। रेमेडिसिवर के निर्यात पर तुरंत रोक लगाई गई और इसका तीन गुना अधिक उत्पादन का निर्णय किया गया है।

टीकों पर नीतिगत निर्णय,
यूएस, यूके, जापान और WHO ने जिन टीकों को मान्यता दी है, वो जल्द ही भारत में उपलब्ध हो जाएंगे। हम टीकाकरण की सुविधा भी बढ़ा रहे हैं। मई शुरू होते-होते इन निर्णयों का असर दिखाई देगा।

वायरस बदल रहा स्वरूप
गृह मंत्री शाह ने स्पष्ट किया कि इन निर्णयों का और कोरोना फैलने का कोई संबंध नहीं है, क्योंकि वायरस अपना स्वरूप बदलता है। वह दवाओं का असर भी कम करता है।

 

यह भी देखे:-

विश्व महिला दिवस पर ग्रेनोवेस्ट में महिलाओं को जागरूक व आत्मनिर्भर बनाने के लिए हुआ प्रोग्राम ।
26 साल बाद दो लोगों पर दर्ज कराया रेप का केस जब बेटे ने पूछा बाप का नाम, होगी डीएनए जांच
Air India की बिक्री से खत्म हुई बड़ी बाधा, मोदी सरकार के लिए क्यों जरूरी थी यह डील?
ग्रेनो में निवेश करने की कर लें तैयारी, जल्द आने वाली हैं स्कीमें, बड़े बकाएदारों के आवंटन रद्द करन...
नेफोवा के नेतृत्व में होम बायर्स ने किया प्रदर्शन , दी गिरफ्तार
अखिल भारतीय गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान, ग्रेटर-नोएडा में दो दिवसीय गुर्जरी कार्निवल का शुभारम्भ
अन्तार्ष्ट्रीय सौर गठबंधन में रयान स्कूल ग्रेनो का प्रतिनिधित्व
भविष्य की चिंता: दिखने लगा है जलवायु परिवर्तन का असर
24 और मिराज-2000 लड़ाकू विमानों को खरीदने जा रहा भारत, एयरस्ट्राइक व कारगिल में दिया था पाक को दर्द
शारदा यूनिवर्सिटी में चंद्रयान 3 की लैंडिंग का लाइव टेलीकास्ट दिखाया
कोरोना का कहर : उत्तर प्रदेश में स्कूल-कॉलेज फिर से बंद, जानिए- कब तक बंद रहेंगे?
कोरोना से निपटने में प्रशासन की मदद करेंगे सैन्य बल, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सेना प्रमुख से की ब...
श्रीधार्मिक रामलीला सेक्टर पाई: बुराई के प्रतीक रावण कुम्भकर्ण और मेघनाद के पुतले का दहन
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव: पहले चरण में 18 जिलों में चुनाव संपन्न, पढ़ें- कहां हुआ कितना मतदान
मुगल काल से 2017 तक गायब थी यूपी की असली पहचान, भाजपा ने दिलाई वापस: अमित शाह
गले में मेडल डालकर फुटपाथ पर रात-दिन गुजार रहा हाकी खिलाड़ी तालिब, PDA ने किश्त नहीं जमा करने पर किय...