आरटी-पीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आने पर भी ये ना समझें नहीं हैं कोरोना संक्रमित, ऐसे होगी पुष्टि

नई दिल्ली, प्रेट्र। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच भारत के शीर्ष विशेषज्ञों ने सोमवार को कहा कि करीब 80 प्रतिशत मामलों में आरटी-पीसीआर जांच से कोरोना वायरस के संक्रमण का पता चल पाता है, ऐसे में लक्षण वाले रोगियों की रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि नहीं होने पर उनका सीटी स्कैन या सीने का एक्सरे कराना चाहिए और 24 घंटे बाद दोबारा जांच करानी चाहिए।

कोरोना वायरस यानी सार्स सीओवी-2 के नए स्वरूपों के प्रकोप के बीच विशेषज्ञों ने कहा कि आरटी-पीसीआर जांच से वायरस के म्यूटेंट वैरिएंट बच नहीं पाते क्योंकि भारत में हो रहीं जांच में दो से अधिक जींस का पता लगाने की क्षमता है।

सरकार के 15 अप्रैल तक के आंकड़ों के अनुसार भारत में सार्स सीओवी-2 के विभिन्न स्वरूपों से कुल 1,189 नमूने संक्रमित पाए गए जिनमें से 1,109 नमूने ब्रिटेन में पाए गए कोरोना वायरस के स्वरूप से संक्रमित मिले, 79 नमूने दक्षिण अफ्रीका में मिले स्वरूप से और एक नमूना ब्राजील में मिले वायरस के स्वरूप से संक्रमित पाया गया।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के डाटा के मुताबिक, वर्तमान आरटी-पीसीआर जांच में वर्तमान स्वरूपों का भी पता चल रहा है। आरटी-पीसीआर जांच में 80 मामलों में सही परिणाम निकल आता है लेकिन 20 फीसदी मामलों में हो सकता है कि नतीजे सही नहीं मिलें।

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा, ‘यदि नमूना ठीक से नहीं लिया गया है या फिर जांच समय पूर्व कर ली गई जब तक संक्रमण अधिक नहीं फैला हो तो रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि नहीं होगी। इसलिए यदि किसी व्यक्ति में संक्रमण के लक्षण हैं तो कोरोना का पता लगाने के लिए प्रयोगशाला की रिपोर्ट, सीटी/चेस्ट एक्स-रे के मुताबिक उपचार शुरू किया जाना चाहिए। 24 घंटे बाद फिर से जांच करानी चाहिए।’

कुछ मामलों में संक्रमण का पता नहीं चलता

आइसीएमआर में महामारी विज्ञान एवं संचारी रोग विभाग के प्रमुख डॉ. समीरन पांडा ने कहा कि ब्रिटेन, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका में मिले वायरस के स्वरूप का आरटी-पीसीआर जांच में पता लग जाता है। हालांकि कुछ मामलों में संक्रमण का पता नहीं चल पाता है।

लक्षण पर भी किया जाए उपचार

एक अन्य वरिष्ठ चिकित्सक ने कहा कि केवल आरटी-पीसीआर जांच के परिणाम पर निर्भर रहने की बजाए लक्षण तथा सीटी स्कैन की रिपोर्ट के आधार पर उपचार किया जाना चाहिए।

यह भी देखे:-

जानिए, लोकसभा चुनाव गौतम बुध नगर में किस प्रत्याशी ने कितना खर्च किया , पढ़ें पूरी खबर
यूपी योद्धा बेंगलुरु बुल्स को 45-33 से हराते हुए अपने होम लेग का किया अंत
Bank Holidays List: July में इन तारीखों को बंद रहेंगे बैंक
बढ़ती महंगाई व खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ राष्टीय लोक दल ने किया प्रदर्शन, सौंपा ज्ञापन
मॉडर्ना कंपनी की कोरोना वैक्‍सीन को मिल सकती है इस्‍तेमाल की इजाजत
सीबीएसई 12 वीं के नतीजे घोषित, हंसिका शुक्ला और करिश्मा अरोड़ा बनी टॉपर
कश्मीर में टारगेट किलिंग : आज दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह का मंथन, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के साथ ...
नोएडा कमिश्नर व उनकी पत्नी ने लगवाई वैक्सीन की डोज
HC के आदेश के बाद भी यूपी सरकार ने कहा नहीं लगेगा लॉकडाउन, जानें क्या दिया तर्क
CM Yogi Visit: गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अधिकारियों के साथ कर रहे हैं बैठक
नोएडा : मॉल के स्पा सेंटर में चल रहा था देह व्यापार, 9 गिरफ्तार, 14 युवतियां हिरासत में
शराबियों का अड्डा बन चुका है, सेक्टर बीटा 1 में बना थीम पार्क
Milkha Singh: अधूरी तमन्ना: जम्मू कश्मीर में एथलेटिक्स एकेडमी खोलना चाहते थे मिल्खा, तमन्ना थी कि यह...
चार नाबालिग समेत 18 महिलाओं को कराया बंधन मुक्त
ट्विटर ने अपनी वेबसाइट से भारत का गलत नक्शा हटाया, कश्मीर और लदाख को दूसरा देश बताया था
डकैतीकाण्ड का खुलासा , डकैत गिरफ्तार , लूटी रकम अवैध हथियार बरामद