पापा मैं मर जाऊंगी, यहां से ले जाओ…कोरोना पीड़ित बेटी ने क्यों लगाई यह गुहार?

पापा…, प्लीज, मुझे आकर यहां से ले जाओ। कोरोना से बाद में, लेकिन यहां की अव्यवस्था से पहले ही मर जाऊंगी। दो घंटे हो गए कोई देखने तक नहीं आया है। वॉशरूम में पानी तक नहीं है पापा। प्लीज, मुझे यहां से ले जाओ…। रविवार को यह गुहार 20 वर्षीया छात्रा ने अपने पापा से एक निजी अस्पताल में भर्ती होने के चार घंटे में लगा रही थी। जिस अस्पताल ने दोपहर के दो बजे उनकी बेटी को पहले 50 हजार रुपये जमा करा इमरजेंसी में भर्ती कराया, वहां का हाल यह कि  दो घंटे तक उसको देखने कोई डॉक्टर, नर्स या कर्मी तक नहीं आया।

इस भयावह समय में भी अस्पताल अपना खेल खेलने से बाज नहीं आ रहे हैं। लोग व्यवस्था की संवेदनहीनता से भी हर दिन जूझ रहे हैं। बदहाल व्यवस्था और बेबसी के बीच ऐसा ही एक परिवार रविवार को जूझता रहा। मिठनपुरा इलाके के इस परिवार ने बताया कि चार दिन पहले बेटी का टेस्ट कराया तो रिपोर्ट निगेटिव आयी। रविवार को ऑक्सीजन लेबल घटने लगा तो हम घबरा गए। पहले बैरिया स्थित एक अस्पताल ले गए। वहां कहा गया कि कोरोना का इलाज यहां नहीं होता। इसके बाद मेडकिल कॉलेज से आगे एक प्राइवेट अस्पताल में गए। वहां कहां गया कि पहले 50 हजार रुपये जमा करें तभी भर्ती करेंगे। पैसे हमने जमा कर दिया तो कहा कि आपलोग जाइए। दो घंटे बाद बेटी ने फोन किया कि अब तक मुझे बैठाकर रखा है। कोई देखने तक नहीं आया। इसके बाद हम पहुंचे हंगामा किया तो फिर डॉक्टर को बुलाया गया।

महिला-पुरुष के लिए एक वाशरूम, साबुन तक नहीं 
छात्रा ने बताया कि जहां मुझे भर्ती किया गया, वहां सात आठ पुरुष और दो महिलाएं थीं। सबके लिए एक ही वाशरूम। साबुन तक नहीं। अगर मैं वहां रहती तो दो दिन की बजाए एक दिन में ही मर जाती। उसके पिता ने कहा कि हम दोबारा गए और शाम छह बजे बेटी को घर ले आए हैं। एक तरफ इस वायरस की मार और उससे भी अधिक संवेदनहीनता और अव्यवस्था की मार। कहां जाएं हमलोगा।

यह भी देखे:-

अस्पतालों व स्वास्थ्य केंद्रों में 24 घंटे उपलब्ध रहें चिकित्सक, लापरवाही पर होगी कार्रवाई, ऑनलाइन न...
पिछले साल रोजगार पर रहा कोरोना का असर, 24 फीसदी कम रही नई नौकरियां
शारदा अस्पताल में धूमधाम से मनाया गया डॉक्टर्स डे, मरीजों ने कराया फ्री स्वास्थ्य जांच 
पनामा केस में भ्रष्टाचार के आरोप में नप गए नवाज, पाक सुप्रीम कोर्ट ने PM पद से हटाया
सिर्फ सरसों का तेल मिल रहा महंगा, बाकी Cooking oil हुए सस्‍ते : सरकार
कोरोना का कहर: एयर इंडिया के 56 कर्मचारियों की हुई मौत, मृतकों के परिजनों को मिलेंगे 10-10 लाख रुपये
मेट्रो में सफर करने से पहले पढ़ लें DMRC की एडवाइजरी, वरना होगी परेशानी
दादरी : लवकुश धार्मिक रामलीला, दशरथ ने की राम के राजतिलक की तैयारी, मंथरा ने भरे कैकयी के कान
उत्तर प्रदेश : जिला के पुलिस कप्तानों में फेरबदल
किसान आंदोलन की आड़ में आपराधिक गतिविधियां हैं, वे किसान नहीं- मीनाक्षी लेखी
जल्द शुरू हो सकता है बच्चों का टीकाकरण, जायडस कैडिला ने टीके के आपात इस्तेमाल के लिए DCGI से अनुमति ...
वाराणसी :एयरपोर्ट पहुंचा यात्री कोरोना संक्रमित, छह जवान क्वारंटीन
सड़क हादसे में पत्नी की दर्दनाक मौत, पति घायल
ONLNE CME, LEPROSY UPDATE 2021 HELD IN SHARDA UNIVERSITY
सनसनी खेज हत्या के दो आरोपी गिरफ्तार
संगीत साहित्य की एक कड़ी टूटी : शब्द सम्मान साधिका सुनीता बुद्धिराजा नहीं रहीं