डॉ. पांडा बोले: कोरोना की दूसरी लहर से पहले चेताया गया था, किसी ने नहीं दिया ध्यान

देश में कोरोना की दूसरी लहर बहुत तेज है। इसके बारे में पहले ही सरकार को चेताया गया था लेकिन किसी ने ध्यान ही नहीं दिया। लोगों की लापरवाही और चुनावी राज्यों की हालत पर भी रिपोर्ट दी थी।

आईसीएमआर के संक्रामक रोग प्रमुख ने कहा, जनता और नेता दोनों जिम्मेदार, राज्यों ने कम कर दी जांच
यह खुलासा आईसीएमआर के संक्रामक रोग प्रमुख डॉक्टर समीरन पांडा ने किया है। उन्होंने कहा कि अनलॉक के बाद लोगों का व्यवहार बदलने लगा था लोग कोरोना और नियमों के प्रति बेपरवाह हुए।

सरकार को बार-बार चेतावनी देते रहे वैज्ञानिक, पांच चुनावी राज्यों को लेकर भी बोला गया
दुर्भाग्य यह है कि देश के राजनेता इसमें उनके सहयोगी बने और आज उसका परिणाम पूरी दुनिया देख रही है। एक तरफ सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में लोगों को बताया जा रहा है। लेकिन वहीं चुनावी राज्यों में मंत्री सांसद, विधायक, कार्यकर्ता इत्यादि इन नियमों को तोड़ रहे हैं। चुनाव की घोषणा होने के बाद राज्यों को सतर्क किया था लेकिन वहां के सिस्टम ने देश के संक्रामक रोग विशेषज्ञ की सलाह को दरकिनार कर दिया।

दूसरी लहर को रोकना जनता के हाथ में
डॉक्टर पांडा के अनुसार, इस स्थिति के जिम्मेदार हम सभी हैं। इसमें किसी एक को दोष नहीं दिया जा सकता है। अगर इस लहर को रोकना है तो नेता-जनता दोनों को सावधान होना पड़ेगा। नहीं तो भविष्य में क्या होने वाला है? यह कोई नहीं जानता।

चेतावनी दी तो राज्यों ने जांच ही कम कर दी
आईसीएमआर ने दूसरी लहर आने से पहले राज्य सरकारों को बार-बार चेतावनी दी थी। जिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे हैं, वहां की स्थिति को लेकर भी उन्होंने बताया चेताया था लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया बल्कि कोरोना की जांच और कम कर दी।

चुनावी मंच पर होनी थी चर्चा
डॉक्टर पांडा का मानना है कि अगर चुनावी मंच से प्रचार के साथ कोरोना नियमों को लेकर जागरूकता पर जोर दिया जाता तो शायद आबादी का कुछ हिस्सा इसे समझ सकता।

चुनाव के लिए कम किया कोरोना
बंगाल में पिछले साल अगस्त में 9,91,457 में सैंपल की जांच हुई थी जो मार्च में घटकर 6,12,284 रह गई। असम में जहां अगस्त के दौरान 8.36 लाख जांच हुई थी। वहीं चुनाव की घोषणा होते जांच दर घटने लगी और पिछले महीने केवल 2.14 लाख जांच हुई। इसलिए वहां कोरोना के केस पता नहीं चले। तमिलनाडु में चुनाव होते शुरू होते ही 20 से घटकर 13 लाख सैंपल पर जांच का आंकड़ा आ गया।

 

यह भी देखे:-

बड़ी खबर : एसटीएफ के हत्थे चढ़ा गौरव चंदेल का हत्यारोपी
आज से लखनऊ के अलावा कानपुर, वाराणसी और प्रयागराज में भी नाइट कर्फ्यू, अधिक संक्रमित जिलों के डीएम ले...
जिम्स (GIMS) में उत्साह एवं हर्षोल्लास के मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस
UP के नवनिर्वाचित प्रधानों का शपथ ग्रहण समारोह 25 व 26 को, वर्चुअल होगा शपथ ग्रहण
वाराणसी में हुई बारिश तो सरकार की खुली पोल सड़क पर पानी ही पानी अन्दर गढ्ढा ऊपर वाहन
पंचायत चुनाव: बोर्ड परीक्षा पर नहीं पड़ेगा असर, नया आदेश जारी
ट्राई ने कहा: नियम नहीं माने तो एक अप्रैल से ओटीपी नहीं भेज सकेंगे बैंक
यूपी : एक दर्जन से ज्यादा स्थानों पर लग रहे ऑक्सीजन प्लांट, जल्द दूर होगी किल्लत
50 हजार मीट्रिक टन ऑक्सीजन का होगा आयात, आपूर्ति सुचारू करने में जुटी सरकार, उठाए कई कदम
लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर उन्हें श्रद्घांजलि अर्पित की
कोरोना के नए वैरिएंट 'लैम्बडा' की चपेट में आए 29 देश, इसके आगे एंटीबॉडी भी होगी बेअसर
Weather Alert Updates: पश्चिमी विक्षोभ दे रहा है दस्तक होंगें मौसम में उतार-चढ़ाव, U.P मे यहाँ हो सक...
सुल्तानपुर: सांसद मेनका गांधी के दौरे का तीसरा दिन
ब्रेकिंग : गृह मंत्रालय के आदेश पर दिल्ली के इन इलाकों में अगले दो दिन के लिए इंटरनेट सेवाएं बंद क...
पूर्व मंत्री एवं सपा के राष्ट्रीय सचिव जावेद आब्दी का सपा कार्यकर्ताओं ने किया भव्य स्वागत
लखनऊ : अवध शिल्प ग्राम में बनेगा अस्थाई कोविड अस्पताल, डीआरडीओ जल्द तैयार करेगा 300 बेड