कोरोना पर बड़ा शोध : कोरोना के बदले स्वरूप को पहचान नहीं पा रही एंटीबॉडी, कांटे जैसे दिखने वाले स्पाइक्स में बदलाव

फरवरी में कोरोना के मामले कम हो गए थे, लेकिन मार्च के पहले सप्ताह से ही वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। यह वायरस के बदले स्वरूप (म्यूटेशन) के कारण हुआ है। राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) की मॉलीक्यूलर डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च लेबोरेटरी के साइंटिस्ट सी (रिसर्च ऑफिसर) डॉ. रवि कुमार चौधरी ने संस्थान में चल रहे शोध के हवाले से कई बड़ी जानकारियां दी हैं कि आखिर क्यों इतना तेजी से कोरोना पूरे देश में बढ़ रहा है।

डॉ. रवि कुमार चौधरी ने संस्थान में चल रहे शोध के हवाले से बताया कि वायरस पर कांटे जैसे दिखने वाले स्पाइक्स के बदले स्वरूप से व्यक्ति की एंटी बॉडी काम नहीं कर पा रही और वायरस फेफड़ों को संक्रमित कर रहा है। इससे तेजी से संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के शरीर में फैल रहा है। उन्होंने बताया कि विदेश से आने वाले 70 लोगों में से 10 और स्थानीय 40 लोगों के सैंपल से किए गए शोध में वायरस में बदलाव दिखाई दिया।

एक वर्ष से अधिक समय से वायरस में लगातार बदलाव हुए, लेकिन यह घातक नहीं था। मार्च के बाद बदलाव से मरीज की शरीर की एंटीबॉडी उसे ठीक तरह से पहचान नहीं पा रही और वायरस फेफड़े की कोशिकाओं को तेजी से संक्रमित कर रहा है। इस वजह से वायरस अधिक घातक हो रहा है। वहीं, जिम्स के निदेशक ब्रिगेडियर डॉ. राकेश कुमार गुप्ता और रिसर्च ऑफिसर डॉ. रवि का कहना है कि जिन लोगों को वैक्सीन लगी है, उनकी भी एंटीबॉडी को वायरस स्वरूप में बदलाव से धोखा देकर संक्रमित कर रहा है। हालांकि, वैक्सीन की एंटीबॉडी बाद में इसके असर को कम करती है।

पिछले तीन दिनों में बढ़ी संक्रमण की दर
जिम्स में तीन दिनों से प्रतिदिन 4800 की औसत से कोविड सैंपल आ रहे हैं। इनमें गौतमबुद्ध नगर के अलावा गाजियाबाद, हापुड़, सहारनपुर से जांच के लिए सैंपल आ रहे हैं। इनमें गौतमसबुद्ध नगर और सहारनपुर से अधिक मामले आ रहे हैं।

मृत्यु दर भी बढ़ने की संभावना
वायरस में बदलाव से संक्रमण बढ़ रहा है। वहीं, एंटीबॉडी के ठीक ढंग से कार्य नहीं करने से आगे चलकर मृत्युदर पिछले वर्ष से अधिक होने की संभावना है। उन्होंने इसके मरीजों को बेहतर इम्युनिटी वाले भोजन और दवा के अलावा दिन में कई बार भाप लेने को फायदेमंबद बताया है।

यह भी देखे:-

Weather Update News: 5 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट, दिल्ली में 1 हफ्ते देर पहुंचेगा मानसून
होम्योपैथी के जनक हैनिमैन जन्मदिन पर विशाल दौड़ का आयोजन आयोजन
जंगल से निकला नक्सलियों का झुंड और शुरू कर दी गोलीबारी... गांव के लोगों की जुबानी, बीजापुर नक्सली हम...
जरुर पढ़ें . उत्तर प्रदेश में LOCK DOWN 4 के दौरान रेड जोन में और की जाएगी सख्ती, दिशा-निर्देश जारी
शाबास अर्जुन, फिर पेश की मिसाल, अपने ख़ास कटे जूते से जुटाई रकम दान किया, जानिए कटे जूते की कहानी
मोहब्बत की सजा मौत: भाइयों ने पकड़े हाथ-पैर, मां ने दबाया बेटियों का गला, फंसने के डर से ऐसे ठिकाने ...
नंदीग्राम में ममता बनर्जी चोटिल, इलाज के लिए कोलकाता लाई गईं, राज्यपाल धनखड़ अस्पताल पहुंचे
Monsoon Update: यूपी के इन जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
नोएडा , ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण को मिला नया चेयरमैन
यूपी में एक लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, इन शहरों में लग रही हैं टेक्सटाइल फैक्ट्रियां
Greater Noida: केंद्र सरकार ने जारी किया 165 करोड़ रुपए का स्ट्रेस फंड, अधूरे पड़े 900 फ्लैट का काम हो...
हरेंद्र प्रधान दादुपुर हत्या मामले में सुंदर भाटी दोषी करार 
चूहों पर प्रभावी दिखी कोरोना वायरस की ओरल ड्रग, इंसानों पर चल रहा है अंतिम चरण का परीक्षण
फ्लू जैसी हो जाएगी कोरोना की बीमारी, हर साल लोगों को लेनी पड़ सकती है वैक्सीन
यूपी में चलता रहेगा आंधी-पानी का सिलसिला, आज उत्तरी इलाकों में बारिश के आसार
संयुक्त किसान अधिकार आंदोलन ने किसानों के हक़ के लिए चलाया हस्ताक्षर अभियान