रूस से रक्षा सौदे के बावजूद अमेरिका मेहरबान, कहा- ‘भारत से महत्वपूर्ण कोई और देश नहीं’, बताई ये वजह

वाशिंगटन, एजेंसियां। चीन का मुकाबला करने के लिए अमेरिका के लिए भारत से ज्यादा महत्वपूर्ण कोई भी देश नहीं है। अमेरिका के लिए भारत का बहुत बड़ा योगदान है। इसके बेहतरीन पेशेवर लोग और मजबूत राजनीतिक और सांस्कृतिक स्थितियां सदैव फायदेमंद रही हैं। अमेरिका के सांसद और थिक टैंक भारत के रुस से एस-400 मिसाइल प्रणाली खरीद के मामले में किसी भी तरह का प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं हैं।

सासंदों ने राष्ट्रपति जो बाइडन से कहा है कि भारत को काट्सा जैसे दंडात्मक अधिनियम से भी मुक्त कर देना चाहिए। ज्ञात हो कि भारत रूस से एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली का सौदा कर चुका है। इसको लेकर अमेरिका समय- समय पर विरोध जताता रहा है। अब शीर्ष रिपब्लिकन सीनेटरों ने मांग की है कि भारत को काटसा जैसे अधिनियम से मुक्त कर दिया जाना चाहिए।

काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सेंक्शंस एक्ट (काटसा) के तहत अमेरिका रूस से हथियारों की खरीद पर दूसरे देशों पर प्रतिबंध लगाता है। सीनेट की विदेशी संबंधों की समिति के ताकतवर सदस्य और रिपब्लिकन सीनेट टोड यंग सहित कई सांसदों ने कहा है कि ऐसे संकटकालीन समय रूस से मिसाइल प्रणाली खरीद के मामले में भारत पर कोई प्रतिबंध लगाया तो हम भरोसेमंद साथी को गंवा देंगे। इससे क्वाड पर भी असर पड़ेगा, जो चीन से लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

विज्ञान और तकनीक मामलों के अग्रणी थिकटैंक ने भी कहा है कि भारत अमेरिका के लिए बहुत ही विश्वस्त सहयोगी है। चीन से मुकाबला करने में भारत ही सक्षम है। ऐसी स्थिति में अच्छे मित्र की तरह ही उसके साथ व्यवहार करना होगा।

 

यह भी देखे:-

जी.डी.गोयनका पब्लिक स्कूल में अन्तर्सदनीय टेनिस प्रतियोगिता, टैगोर हाउस बना विजेता
कठुअा व उन्नाव की घटना पर महिलाओं व युवाओ में आक्रोश, कैंडल मार्च निकाला
स्वदेश लौटने पर गोल्फ के चैम्पियन अर्जुन भाटी का जोरदार स्वागत
टोक्यो ओलंपिक: मुख्यमंत्री योगी बोले- महिला हॉकी टीम की जीत पूरे देश को गौरवान्वित करने वाली
PM मोदी ने लॉन्च किया e-RUPI, जानिए किस तरह काम करता है यह डिजिटल पेमेंट सॉल्यूशन
Ryanities on a mission for an Eco friendly festival of Lights
Cyclone yaas: सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी से चक्रवात प्रभावित दीघा व सुंदरवन के लिए मांगा 20,000 क...
जेवर के विकास के लिए एक मंच पर आए फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स और गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी
तीसरी लहर की आहट: महाराष्ट्र और केरल में तेजी से बढ़ रहे कोविड मरीज, विशेषज्ञों ने दी चेतावनी
अब कोरोना बीमारी की जांच एंटीजन किट से होगी, आइसीएमआर विशेषज्ञ स्वास्थ्यकर्मियों को प्रशिक्षित करेगे
गोविंदपुरम में एक लाख की स्ट्रीट लाइटें खंभों से चोरी
ग्रेनो प्राधिकरण चेयरमैन राहुल भटनागर ने संभाला कार्यभार  
आदर्श युवा समिति बिशनूली द्वारा गर्म कपडे का वितरण 
अखिल भारतीय गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान, ग्रेटर-नोएडा में दो दिवसीय गुर्जरी कार्निवल का शुभारम्भ
प्रवासी मजदूरों को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत, 31 जुलाई तक 'एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड योजना' लागू करन...
योगी आदित्यनाथ बोले- मेरी कोई राष्ट्रीय महत्वाकांक्षा नहीं, समझिए बयान के मायने