Prince Philip नहीं रहे: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति का निधन, शोक में डूबा ब्रिटेन

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप का शुक्रवार को निधन हो गया। वह 99 वर्ष के थे।  लंदन स्थित बकिंघम पैलेस ने यह जानकारी दी। प्रिंस फिलिप को ड्यूक आफ एडिनबर्ग भी कहा जाता था। उनका और महारानी एलिजाबेथ का करीब 73 साल का साथ रहा। प्रिंस के निधन के साथ ही ब्रिटेन में शोक छा गया।

 

ब्रिटेन की ऐतिहासिक इमारतों में उनके सम्मान में राष्ट्र ध्वज झुका दिए गए और राष्ट्रव्यापी शोक की घोषणा कर दी गई। बकिंघम पैलेस ने बयान जारी कर कहा, ‘बहुत दुख के साथ महारानी ने अपने पति, हिज रॉयल हाईनेस द प्रिंस फिलिप, ड्यूक ऑफ एडिनबरा के निधन की घोषणा की है। प्रिंस फिलिप ने विंडसर कैसेल में शुक्रवार सुबह अंतिम सांस ली।’ ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रिंस फिलिप के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि ‘उन्होंने अनगिनत युवाओं के जीवन को प्रेरित किया है।’

 

बीती 16 मार्च को मिली थी अस्पताल से छुट्टी
ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के पति प्रिंस फिलिप कोरोना संक्रमित हो गए थे। प्रिंस फिलिप (99) को 16 फरवरी को लंदन के निजी किंग एडवर्ड सप्तम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उन्हें सेंट बार्थोलोमेव के हृदय रोग के विशेष अस्पताल ले जाया गया। फिर वहां से वापस उन्हें किंग एडवर्ड अस्पताल लाया गया था। इलाज के बाद 16 मार्च को लंदन के अस्पताल से उन्हें छुट्टी मिल गई थी। उनका संक्रमण और हृदय संबंधी रोग का इलाज चल रहा था।
नवंबर 2020 में मनाई थी 73 वीं सालगिरह
कोरोना महामारी के बीच ही विंडसर कैसल में प्रिंस व महारानी ने नवंबर 2020 में अपने विवाह की 73 वीं सालगिरह मनाई थी। प्रिंस फिलिप ने लॉकडाउन के दौरान ही अपना 99 वां जन्मदिन भी यहीं मनाया था। प्रिंस फिलिप प्रिंस चार्ल्स के पिता और प्रिंस हैरी व प्रिंस विलियम के दादा थे।

प्रिंस फिलिप अपना अधिकतर वक्त नॉरफ्लोक स्थित महारानी के सैंड्रीघम एस्टेट में ही बिताते थे। हालांकि लॉकडाउन के दौरान वह महारानी के साथ विंडसर कैसल में आ गए थे। ड्यूक ऑफ एडिनबर्ग के नाम से जाने जाने वाले फिलिप 2017 में अपने सार्वजनिक कर्तव्यों से सेवानिवृत्त हो गए थे।

कोरफू आइलैंड में हुआ था जन्म
प्रिंस फिलिप का जन्म ग्रीस के कोरफू आइलैंड में 10 जून 1921 को हुआ था। उन्होंने ब्रिटेन की राजशाही को आधुनिक रूप देने में अहम भूमिका निभाई थी। दिवंगत प्रिंस सार्वजनिक रूप से बहुत कम दिखाई देते थे। वह ग्रीक व डैनिश राजपरिवार के सदस्य थे।
ग्रीस से निर्वासित हुए, फ्रांस, जर्मनी के बाद ब्रिटेन आए
प्रिंस अपने गृह देश से परिवार सहित निर्वासित हो गए थे। ग्रीस छोड़ने के बाद वे फ्रांस, जर्मनी व ब्रिटेन आए। उन्होंने ब्रिटेन में शिक्षा पाने के बाद लंबे समय तक ब्रिटिश नौसेना में सेवाएं दीं।

महारानी बनने से पहले की एलिजाबेथ से शादी
प्रिंस फिलिप और महारानी एलिजाबेथ की शादी 1947 में हुई थी। इसके पांच साल के बाद 1952 में एलिजाबेथ महारानी बनी थीं।
साल 1961 में आए थे दिल्ली
प्रिंस फिलिप और महारानी एलिजाबेथ द्वितीय साल 1961 में भारत आए थे। इस दौरान दिल्ली में वह खुली गाड़ी में जनता का अभिवादन करते हुए दिखाई दिए थे।

 

 

यह भी देखे:-

बिकरू कांड : UPSTF को मिली बड़ी कामयाबी, विकास दुबे को पनाह देने वाले गिरफ्तार
दिल्लीवासियों को अभी गर्मी से नहीं मिलेगी राहत, उत्तर भारत में जल्द बदलेगा मौसम
सड़क सुरक्षा को लेकर डीजीपी और परिवहन प्रमुख सचिव ने की बैठक
ICC Test Rankings: रोहित-अश्विन का दबदबा, 'हिटमैन' करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग पर पहुंचे
शारदा विश्विद्यालय में फ्रेशर पार्टी, छात्र-छात्राएं म्यूजिक पर थिरके, उमंग सेठी मिस्टर फ्रेशर तो चा...
पौधा सौंप कर दी गजेंद्र चौधरी को अध्यक्ष बनने की बधाई
फ्रांस से भारत पहुंचे चार और राफेल युद्धक विमान, पांचवीं खेप के साथ राफेल विमानों की पहली स्क्वाड्रन...
GIMS में कोरोना संक्रमण से बचने के लिए डाक्टरों व पैरामेडिकल स्टाफ का विशेष प्रशिक्षण
सुप्रीम कोर्ट : अदालतों को जमानत देने या नहीं देने का कारण स्पष्ट करना होगा
पत्रकारों से मारपीट: अखिलेश यादव पर मुरादाबाद में मुकदमा दर्ज
किसान एकता संघ ने सौंपा यमुना प्राधिकरण के सीईओ को ज्ञापन
ग्रेटर नोएडा : इण्डिया एक्सपो मार्ट में IFJAS वस्त्र मेला का शुभारम्भ
ग्रेटर नोएडा से आरक्षण मुक्त भारत रैली की शुराआत, सैकड़ों लोग हुए शामिल
यूपी : सचिवालय में 13 कोरोना पॉजिटिव मिलने से हड़कंप, शिक्षा निदेशालय में भी 14 पॉजिटिव
राम मन्दिर: एयरपोर्ट के लिए मोदी सरकार ने भी दिया 250 करोड़, निर्माण कार्यों को मिलेगी गति
दर्दनाक : ट्रक ने तीन को कुचला, दो की मौत