कोरोना वैक्‍सीन लगवाने से पहले जरा जान लें WHO की तरफ से दी गई सलाह, इस पर करें जरूर अमल

नई दिल्‍ली । पूरी दुनिया में जिस तेजी से कोरोनी की दूसरी और तीसरी लहर फैल रही उतनी ही तेजी से पूरी दुनिया में टीकाकरण का काम भी चल रहा है। इस बीच वैक्‍सीन को लेकर तरह-तरह की अफवाहें भी फैलाई जा रही हैं। भारत समेत सभी देशों की सरकारें और विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन भी इस तरह की अफवाहों पर ध्‍यान न देने के बारे में बार-बार कह रहा है।

15-30 मिनट करें इंतजार

विश्‍व स्‍वास्थ्‍य संगठन लगातार वैक्‍सीन और कोरोना संक्रमण को लेकर जरूरी जानकारी सारी दुनिया को अपने वेबपोर्टल और ट्विटर के माध्‍यम से उपलब्‍ध करवा रहा है। इसलिए हर किसी को इन पर भरोसा करना चाहिए न कि अफवाहों के मायाजाल में आना चाहिए। डब्‍ल्‍यूएचओ की तरफ से किए गए एक ट्वीट में लोगों को सलाह दी गई है कि कोविड-19 की वैक्‍सीन लेने के बाद व्‍यक्ति को कम से कम 15-30 मिनट तक वहीं वैक्‍सीन सेंटर पर रुकना चाहिए। संगठन की तरफ से इसकी जरूरत बताते हुए कहा गया है कि ऐसा इसलिए जरूरी है कि व्‍यक्ति पर होने वाली डोज का वहां मौजूद स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी तुरंत देख सकता है।

वैक्‍सीन के बाद हो सकता है हल्‍का बुखार 

संगठन की तरफ से ये कुछ लोगों पर पहली या दूसरी डोज लेने के बाद हल्‍का बुखार, दर्द या शरीर पर त्‍वचा लाल हो सकती है, जो कुछ दिनों के बाद अपने आप ही खत्‍म भी हो जाता है। संगठन की वेबसाइट पर वैक्‍सीन को लेकर लोगों के मन की शंकाओं का निवारण करने के लिए इस बात की भी जानकारी दी गई है कि किन लोगों को वैक्‍सीन लेने से पहले डॉक्‍टर से राय लेने की जरूरत है।

ऐसे काम करती हैं वैक्‍सीन की दो खुराक

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की तरफ से बताया गया है कि वैक्‍सीन की पहली खुराक में एंटीजन और प्रोटीन होता है जो शरीर में एंटीबॉडीज के निर्माण में सहायक होता है। वहीं दूसरी डोज इसके बूस्‍टर के रूप में दी जाती है जो ये तय करती है कि शरीर में वायरस से लड़ने के लिए जरूरी प्रतिरोधक क्षमता का निर्माण होता रहे और ये सही काम करता रहे। डब्‍ल्‍यूएचओ के मुताबिक उसने वैक्‍सीन की जरूरत के हिसाब से 21 से 42 दिनों तक के अंतराल तय करने की बात भी कही है।

अपनी बारी आने पर जरूर लें वैक्‍सीन

संगठन ने लोगों से अपील की है कि वो अपना समय आने पर वैक्‍सीन की खुराक जरूर लें, क्‍योंकि इस महामारी से खुद को और दूसरों को बचाने का फिलहाल यही एक तरीका है। वैक्‍सीन लेने के बाद भी कोरोना वायरस के प्रति लापरवाह न बनें। इसलिए संगठन ने कहा है कि हमेशा घर से बाहर जाते समय मुंह पर मास्‍क लगा कर रखें और कोविड-19 नियमों का पालन करें।

यह भी देखे:-

संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुए बच्चो को चौकी प्रभारी ने शकुशल बरामद किया
ग्रेटर नोएडा : दो परिवारों की ख़ुशी मातम में बदली, पढ़ें पूरी खबर
'ये हार नहीं है': भारतीय महिला हॉकी टीम को मिल रही हैं बधाइयां, पीएम से लेकर आम जनता तक ने सराहा
टीम इंडिया का विजयी रथ जारी: घर में लगातार 13वीं सीरीज जीती, 2013 से अजेय
MotoGP™ टीम ने BIC का सफल एडवांस रेकी किया
Lakhimpur Kheri News: छह दिन में आरोपियों पर कार्रवाई नहीं तो होगा बड़ा आंदोलन-राकेश टिकैत
एक दिन में बिक गये 600 करोड़ के Ola Electric स्कूटर्स, सिंगल चार्ज में देता है जबरदस्त रेंज
सावधान: व्हाट्सएप और गूगल में मिली खामियां, लीक हो सकती हैं सूचनाएं
पैरा मिलिट्री फोर्स के साथ पुलिस ने किया फ्लैग मार्च
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा आठ महीने में दूसरी बार कोरोना पाजिटिव, निजी अस्पताल में भर्त...
सिटी हार्ट अकादमी में मनाया गया बसंत पंचमी पर्व।
इशान किशन ने जो वादा ड्रेसिंग रूम में किया, उसे मैदान पर जाते ही आतिशी अंदाज में किया पूरा
बेटी सुरक्षित, समाज सुरक्षित, छात्राओं ने सीखे आत्मरक्षा के गुर
गायत्री शर्मा राष्ट्रीय ब्राह्मण महसंघ (रजि०) की जिलाध्यक्ष (महिला प्रकोष्ठ) नियुक्त  
ट्रेन व बसों  के द्वारा  गौतमबुद्ध नगर से घर भेजे गए 52 हजार प्रवासी श्रमिक और विद्यार्थी
लॉक डाऊन का पालन करते गौरसिटी 1 में घरों में मनाया गया पर्यावरण दिवस