कोरोना की बढ़ती रफ्तार: देश के इन शहरों में भी आज से रात्रि कर्फ्यू. 

कोरोना वायरस की दूसरी लहर में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। बुधवार को रिकार्डतोड़ 1 लाख 15 हजार मामले सामने आने के बाद स्थिति और गंभीर हो गई। अब कई राज्य सख्त कदम उठा रहे हैं ताकि संक्रमण पर काबू पाया जा सकते। कई शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया जा रहा है। राजधानी दिल्ली में पहले से ही नाइट कर्फ्यू लागू है। संक्रमण के बीच अब रेमडेसिविर दवा की भी किल्लत सामने आने लगी है। देश में कई जगहों पर इसके लिए मेडिकल के बाहर लंबी लाइन देखने को मिली।

 

उप्र की राजधानी लखनऊ में कोविड-19 संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर जिले के नगर निगम क्षेत्र में आज से रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में आठ से 16 अप्रैल तक रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया है।

 

उन्होंने बताया कि रात्रिकालीन कर्फ्यू सिर्फ लखनऊ नगर निगम क्षेत्र में ही लागू होगा। ग्रामीण इलाकों में नहीं। कानपुर में भी जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की है। वाराणसी में भी रात 9 बजे से रात्रि कर्फ्यू लागू रहेगा। लखनऊ के जिलाधिकारी ने बताया कि सुबह छह बजे से रात नौ बजे तक कोविड-19 प्रोटोकोल के साथ कामकाज जारी रहेगा। आवश्यक वस्तुओं को लाने और ले जाने की छूट होगी। इस दौरान फल,सब्जी,दूध, एलपीजी, पेट्रोल – डीजल और दवा की आपूर्ति जारी रहेगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए बेहतर कोविड प्रबंधन पर बल देते हुए कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित रखने और इस महामारी के उपचार के लिए प्रदेश में सभी संसाधन उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा कि  कोविड-19 से सफलतापूर्वक निपटने का हमारे पास गहन अनुभव है। उन्होंने संसाधनों तथा अनुभव के बेहतर समन्वय से कोविड-19 के खिलाफ जंग को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए हैं।

रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने का यह फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, मेरठ, गौतमबुद्धनगर, झांसी, बरेली, गाजियाबाद, आगरा, सहारनपुर और मुरादाबाद के जिलाधिकारियों से कोविड-19 के उपचार के सम्बन्ध में की जा रही कार्यवाही की जानकारी प्राप्त किए जाने के बाद लिया गया।
नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर लंबी कतारों में खड़े लोग
दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू लगाए जाने के एक दिन बाद बुधवार को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को लंबी कतारों में देखा गया। हालांकि अधिकारियों ने कहा कि शादी और फसल की कटाई के मौसम के कारण इस तरह की भीड़भाड़ साल के इस समय आमतौर पर रहती है।

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 30 अप्रैल तक राष्ट्रीय राजधानी में रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगाने का फैसला लिया था।

भारतीय रेलवे के प्रवक्ता डी जे नारायण ने कहा कि यात्रियों की संख्या बढ़ी नहीं है, केवल आरक्षित टिकट वाले यात्री आ रहे हैं। हमें कुछ समय के अंतराल पर ऐसी भीड़ देखने को मिलती है। इस चुनौती भरे माहौल में किसी भी तरह की अटकलों वाली खबर कृपया प्रकाशित न करें। एक गलत खबर अराजकता पैदा कर सकती है।

रेलवे स्टेशन पर सार्वजनिक रूप से कोविड-19 सुरक्षा नियमों का पालन करने की घोषणा की जा रही है और नियमों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध पुलिस ने अभियान तेज कर दिया है।
दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू में ई-पास के लिए 34,000 से ज्यादा आवेदन खारिज
दिल्ली में मंगलवार से रात्रि कर्फ्यू लगने के तुरंत बाद ही जिलों के अधिकारियों को ई-पास के लिए 73,000 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें से 1,271 को मंजूरी दी गई।

अधिकारियों ने बताया कि 34,000 से अधिक आवेदनों को खारिज कर दिया गया क्योंकि यह आवेदक दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के आदेशानुसार उस श्रेणी के अंतर्गत नहीं आते थे जिन्हें कर्फ्यू के दौरान छूट मिली है।

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 को फैलने से रोकने के वास्ते इस महीने के लिए रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है। कर्फ्यू के दौरान यात्रा करने के लिए लोगों को ई-पास की जरूरत होगी जो दिल्ली सरकार की वेबसाइट से प्राप्त किया जा सकता है।

 

यह भी देखे:-

शारदा विश्विद्यालय में फ्रेशर पार्टी, छात्र-छात्राएं म्यूजिक पर थिरके, उमंग सेठी मिस्टर फ्रेशर तो चा...
यूपी में आज लॉकडाउन: जानें क्या खुला और कहां है पाबंदी
शाबास अर्जुन, फिर पेश की मिसाल, अपने ख़ास कटे जूते से जुटाई रकम दान किया, जानिए कटे जूते की कहानी
कृषि कानून के खिलाफ ट्रेन रोकने दनकौर स्टेशन पहुंचे बीकेयू के कार्यकर्ता 
लखनऊ: मौतों का ग्राफ बढ़ने से श्मशान में बवाल, जेब में हों 20 हजार तभी होगा अंतिम संस्कार, लकड़ियां ...
किसान आंदोलन या उपद्रव, आखिर क्या है माजरा !
क्वाड सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी से बाइडन बोले- आपको देखकर बहुत अच्छा लगा; चीन को दी नसीहत
सीएम योगी का फैसला: आज से पूरे प्रदेश में रात्रि कर्फ्यू लागू, शनिवार-रविवार रहेगा लॉकडाउन
कोरोना से मौत पर चार लाख का मुआवजा देने पर विचार कर रही सरकार, जानें- सुप्रीम कोर्ट में क्या कहा
यूपी : इंजीनियरिंग और डिप्लोमा छात्रों को बड़ी राहत, कॉलेजों में नहीं होगी शुल्क वृद्धि
स्काइलाइन ग्रुप ऑफ़ इंस्टीटूशन्स में पूल कैंपस में २ ५ छात्रों का चयन
विधुत विभाग की लापरवाही से हुई गौ माता की मृत्यु
#ladengecoronase : रोजाना 19 हजार लोग दे रहे कोरोना को मात, एक सप्ताह में 1 लाख 33 हजार स्वस्थ
अप्रैैल-मई में चलाई जा रही 140 अतिरिक्त ट्रेनें ताकि न हो अधिक भीड़, भारतीय रेलवे ने दी जानकारी
भारतीय नववर्ष मेला “उमंग” का आगाज़
सिटी हार्ट अकादमी ने विजय मोहत्सव 2018 भक्ति संगीत नृत्य प्रतियोगिता में लहराया परचम।