यूपी : डीटीएच लगाने आए युवक को दिल दे बैठी नवविवाहिता, प्रेमी को घर बुलाकर पति को दी खौफनाक मौत

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में पति की हत्या उसकी पत्नी के साथ साजिश रचकर प्रेमी ने की थी। हत्या को सड़क दुर्घटना दिखाने की पूरी तैयारी थी लेकिन मिट्टी में फंसने के कारण युवक को कार वहीं पर छोड़कर जाना पड़ा। इसी कार की मदद से पुलिस ने पूरे हत्याकांड का खुलासा कर दिया। पुलिस ने पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

 

सीओ तिलहर परमानंद पांडे ने बताया कि तीन अप्रैल की रात पुलिस को सूचना मिली कि राजनपुर रोड पर कार के नीचे एक युवक का शव पड़ा हुआ है। मौके पर पहुंचकर पड़ताल की। शव की शिनाख्त गांव रजाकपुर के धनपाल गंगवार के रूप में हुई। कार से गिलास, खाने-पीने का सामान, तीन मोबाइल, गाड़ी के कागजात आदि मिले।

 

इसके आधार पर आरोपी की तलाश शुरू की गई। अगले दिन धनपाल के भाई ने हरियाणा के गुड़गांव अंतर्गत थाना फरुखनगर के खेंटावास निवासी मुकेश यादव पर हत्या का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने आरोपी मुकेश को थाना कटरा अंतर्गत गांव कसरक में मधु के मायके से गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में मुकेश ने अपना जुर्म स्वीकारते हुए बताया कि उसका धनपाल की पत्नी मधु से एक वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। धनपाल दोनों के बीच रोड़ा बना हुआ था। इसी के चलते दोनों ने मिलकर योजनाबद्ध तरीके से तीन अप्रैल की रात धनपाल की हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि धनपाल की पत्नी मधु को छह अप्रैल की सुबह गांव रजाकपुर से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया है।
गुड़गांव में ही बना लिया था हत्या का प्लान
पुलिस के मुताबिक मुकेश और मधु ने गुड़गांव में ही धनपाल की हत्या की साजिश रच ली थी। होली के मद्देनजर 14 मार्च को मधु मीरानपुर कटरा क्षेत्र के कसरक गांव स्थित अपने मायके में आ गई थी। धनपाल 27 मार्च को तिलहर के रजाकपुर स्थित अपने घर आ गया। मधु एक अप्रैल को अपने पति के पास ससुराल आ गई थी। दो अप्रैल को मुकेश कार से गुड़गांव से तिलहर आया और तीन अप्रैल को मुकेश ने धनपाल की हत्या कर दी। इस दौरान मधु और मुकेश की लगातार मोबाइल पर बातचीत होती रही।

डीटीएच केबल ठीक कराने को लेकर हुई जान पहचान
पुलिस ने बताया कि धनपाल लगभग 10 वर्षों से गुड़गांव में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। उसकी पत्नी मधु दो बच्चों के साथ वहीं किराये के मकान में रहती थी। लगभग एक वर्ष पहले धनपाल ने घर पर केबल लगवाने के लिए केबल का काम करने वाले मुकेश यादव को बुलाया। तभी से धनपाल की दोस्ती मुकेश से हो गई।

बताया कि मुकेश उसी मोहल्ले में कुछ दूरी पर रहता था। मुकेश का दूध, दही, लस्सी, मट्ठे का भी कारोबार था। धनपाल सुबह 7:30 बजे ड्यूटी पर चला जाता था और रात को आठ बजे आता था। बताया कि इस बीच धनपाल की पत्नी मधु मुकेश को फोन करके घर बुला लेती थी। घर आने-जाने के दौरान मुकेश का मधु से प्रेम प्रसंग हो गया। इसी के तहत मुकेश कभी-कभी दूध, दही, लस्सी, मट्ठा घर पर ले आता था। मुकेश और मधु के बीच संबंध की जब जानकारी धनपाल को हुई तो उसने मुकेश को घर आने से रोक दिया। तब दोनों छुपकर मिलते रहे। इस कारण धनपाल के घर में लड़ाई-झगड़ा होने लगा।

वहीं दूसरी ओर मुकेश की पत्नी उसे नजरअंदाज करती थी और अक्सर मायके चली जाती थी। इस वजह से मधु से मुकेश की नजदीकियां बढ़ती रहीं। पुलिस ने बताया कि मुकेश और मधु ने धनपाल को रास्ते से हटाने की ठान ली। घटना को अंजाम देने के लिए मुकेश अपने बहनोई की सेंट्रो कार लेकर वृंदावन घूमने का बहाना करके यहां आया।
उसने फोन कर धनपाल को गांव से तिलहर बुलाया और उसे खूब शराब पिलाई। शराब में नींद की गोलियां डाल दीं। गाड़ी में ही जब धनपाल बेहोश हो गया तो उसे नीचे उतार लिया। साथ लाए एक लोहे के हथौड़े से उसके सिर पर प्रहार करके उसकी हत्या कर दी और कार के नीचे कुचलने की कोशिश की। कार सड़क के किनारे नीचे कच्ची मिट्टी में फंस गई। पुलिस के मौके पर आने के कारण मुकेश घटनास्थल से भाग गया। वह गाड़ी में रखे मोबाइल भी नहीं ले जा सका जिससे घटना का पर्दाफाश हो गया।

शराब का आदी था धनपाल, पत्नी को था मारता-पीटता
पुलिस को मधु ने बताया कि धनपाल शराब का आदी था। पति-पत्नी में अक्सर झगड़ा हुआ करता था। धनपाल की पत्नी मधु पति से झगड़े के बाद अक्सर घर से चले जाने की धमकी देती थी। पुलिस ने बताया कि धनपाल के मारने-पीटने से उसकी पत्नी परेशान रहती थी। इस दौरान मुकेश से उसकी दोस्ती हो गई।

धनपाल के परिजन बोले, मधु के जेल जाने से वे संतुष्ट
हत्या की रिपोर्ट लिखाने वाले धनपाल के भाई परमजीत ने बताया कि भाभी मधु के इस कदम से पूरा परिवार हैरत में है। मधु के जेल जाने से परिवार के लोग संतुष्ट हैं। उसे जरूर जेल जाना चाहिए था। धनपाल के दो बच्चे नौ साल का कृष्णा और चार वर्ष के क्रश की परवरिश का जिम्मा परिवार ने ले लिया है। बच्चों को पालपोस कर वह अपने भाई धनपाल की यादों को संजोए रखेंगे।

यह भी देखे:-

मदर डेज़ के दिन कई सोसाइटी में अलग अलग तरह से बनाया गया
क्वाड सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी से बाइडन बोले- आपको देखकर बहुत अच्छा लगा; चीन को दी नसीहत
ऐतिहासिक बाराही मेला: जोंटी जमालपुर और आकाश जमालपुर ने जीतीं 11-11 हज़ार की कुश्तियां
अब दिल्ली में सरकार का मतलब उपराज्यपाल  
ब्लॉक प्रमुख चुनाव में भाजपा का दबदबा : 300 सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों का निर्विरोध निर्वाचित तय
Covid-19 Vaccine: Pfizer ने कहा, बच्चों के लिए भी 100% असरदार और सुरक्षित है कोविड-19 वैक्सीन
सीबीएसई 12 वीं के नतीजे घोषित, जानिए ग्रेटर नोएडा में किस स्कूल का क्या रहा परिणाम, कौन बना टॉपर
यमुना एक्सप्रेस वे पर लूट: बस को हाइजेक कर बदमाशों ने सवारियों से की लूटपाट, जांच में जुटी पुलिस
अलीगढ़ शराब कांड: आबकारी आयुक्त हटाए गए, सीओ और आठ सिपाही भी निलंबित, अब तक 85 की मौत
Jammu Kashmir: पाक की बौखलाहट का नतीजा है ड्रोन हमला ?
सख्त होगी निगरानी: ओटीटी प्लेटफॉर्म, डिजिटल समाचार प्रकाशकों के लिए नए नियम
चोरी हो गया है Smartphone, तो घर बैठे पा सकते हैं वापस, बस अपनाएं यह आसान तरीका
पिता बना हत्यारा, 3 माह की मासूम बेटी की निर्मम हत्या की
DATA STORY: ठगी से बचने के लिए सोच-समझकर बनाएं पासवर्ड, दुनिया में इनका होता है सबसे अधिक इस्तेमाल
37 वें दिन मकोड़ा के ग्रामीणों ने खेतों पर किया भागवत गीता पाठ, ग्रेनो प्राधिकरण के कब्जे की कार्यवाह...
ग्रेटर नोएडा में 'गंगा जमुनी कवि सम्मेलन' 7 मार्च को