शारदा यूनिवर्सिटी में फोरेंसिक साइंस पर सेमिनार आयोजित

शारदा यूनिवर्सिटी की ओर से सोमवार को फोरेंसिक साइंस और लीगल क्षेत्र में उसकी उपयोगिता पर सेमिनार आयोजित किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में यूपी के एंटी टेरर स्क्वाॅड के चीफ और वरिष्ठ आईपीए अधिकारी डाॅ जी के गोस्वामी ने विभिन्न आयामों से छात्रों को रूबरू कराया। उन्होंने बताया कि फरेंसिक साइंस ने न्यायालय में अपराध को साबित कर दोषियों को सजा दिलाने में अहम योगदान दिया है। शारदा विवि के चांसलर पी के गुप्ता ने फोरेंसिक साइंस की महत्ता बताते हुए कहा कि इसके बिना ट्रायल में अपना मजबूती से पक्ष प्रस्तुत नहीं किया जा सकता।
स्कूल आॅफ एलाइड हेल्थ साइंस की ओर से आयोजित सेमिनार में एटीस के मुखिया डाॅ गोस्वामी ने कहा कि सेमिनार का मकसद स्टूडेंट्स को विभिन्न प्रकार के अपराधों को समझाना, अपराध की गंभीरता को देखते हुए विभिन्न वैज्ञानिक साक्ष्यों को एकत्र करके सहजेना, फोरेंसिक साइंस के मेडिको.लीगल पहलुओं को समझाना है। सेमिनार में विधि के छात्रों को विधि विज्ञान विशेषज्ञों की ओर से चिकित्सा और न्याय के क्षेत्र में विधि विज्ञान की भूमिका के बारे में भी बताया गया। उन्होंने कहा कि हाईटेक जमाने में फोरेंसिक साइंस के बिना अपराधों की विवेचना संभव नहीं है। फोरेंसिक साइंस एक्सपर्ट, अभियोजन अधिकारी व पुलिस के विवेचना अधिकारियों में सामंजस्य जरूरी है। उन्होंने साइबर लाॅ के संबंध में भी जानकारी दी। इसके अलावा उन्होंने सेमिनार के दौरान छात्रों से सवाल भी पूछे और उनके जवाब भी दिए। शारदा विवि के चांसलर पी के गुप्ता ने इन्वेस्टीगेशन फोरेंसिक साइंस को साइंटिफिक टूल के रूप में उपयोग करने के लिए जाेर दिया। उनका कहना था कि फोरेंसिक के बिना ट्रायल में अपना मजबूती से पक्ष प्रस्तुत नहीं किया जा सकता। प्रो चांसलर वाई के गुप्ता ने फोरेंसिक अनुसंधान के उपयोग पर बल दिया। उन्होंने वैज्ञानिक तरीके से सबूत जुटाकर स्पीडी टायल से अपराधियों को सजा दिलाने की वकालत की। इस मौके पर कुलपति प्रो सिबाराम खारा और स्कूल आॅफ एलाइड हेल्थ साइंस की डीन प्रो शैली लूकोस ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम के अंत में प्रो शालवी उपाध्याय ने सभी अतिथियों का धन्यवाद किया।

यह भी देखे:-

बड़ी लापरवाही: कोरोना की जगह लग गया एंटी रैबीज का टीका, डीएम ने बैठाई जांच, जानें क्या है पूरा मामला
खाद्य पदार्थ में मिलावट पर सुप्रीम कोर्ट सख्‍त, आरोपियों के वकील से पूछा- क्‍या मिलावटी गेहूं खाएंगे...
COVID-19 Vaccination: क्या पीएम मोदी ने चुनावी रण भी साधने की कोशिश की,पढें पूरी रिपोर्ट
कोरोना संक्रमण की दर में गिरावट के बाद अब स्थगित स्पेशल ट्रेनों की होगी पुनर्बहाली, मिलेगी राहत
PM Garib Kalyan Anna Yojana: PM मोदी से वाराणसी की बदामी देवी बोलीं- हम सब वोट देके जियावत रहब।
ऋषिकेश : अर्धकुंभ में बिछड़ी महिला, महाकुंभ में अपनों से मिली, परिवार वालों को देख भर आई आंखें
इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनी स्थल पुरस्कार से सम्मानित किया गया
यूपी मिशन 2022 : लखनऊ में संघ और बीजेपी की मैराथन मीटिंग, जानिए क्या चल रही प्लानिंग
नई शिक्षा नीति की वर्षगांठ: पीएम मोदी का राष्ट्र को संबोधन, इन 10 योजनाओं का करेंगे अनावरण
कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए, आगामी 20 मई तक सभी विद्यालय बंद
सपा व्यापार सभा ने चौपाल पर किया व्यापारियों से संवाद
शारदा विश्विद्यालय में राष्ट्रीय मूट प्रतियोगिता का आयोजन
सामाजिक कुरीतियों के खिलाफ करप्शन फ्री इंडिया संगठन चलाएगा जनजागरण अभियान
न हुई मौत फिर भी 3 लोग गए जेल, पढ़िए यूपी पुलिस का कारनामा , ADG ने बैठाई जांच
नोएडा में सुन्दर भाटी गैंग का दो लाख का ईनामी बदमाश पुलिस एनकाउंटर में ढेर
एसटीएफ के हत्थे चढ़े रणदीप गैंग के दो सदस्य, भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के आरोप में थे वांटेड