कोविड-19: कोरोना ने पांच माह के बाद फिर पकड़ी रफ्तार, अगले 45 दिन में क्या होगी देश में स्थिति

कोरोना वायरस को अपना कहर बरपाते हुए एक साल बीत चुका है। देश में मध्य सितंबर के बाद संक्रमण के दैनिक मामलों में गिरावट शुरू हो गई थी, जो मध्य फरवरी में 10 हजार रह गई थी, लेकिन 15 फरवरी के बाद एक बार फिर कोरोना वायरस ने अपनी रफ्तार पकड़ ली है। कोविड से होने वाली मौतों की संख्या में भी भारी इजाफा हुआ है।

 

देश में सर्वाधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश और बिहार में स्वास्थ्य प्रणाली अच्छी न होने के बाद बावजूद हालात भयावह नहीं हुए हैं। उत्तर प्रदेश में अब तक 6,15,996 कोरोना मरीज मिले हैं और 8,800 से अधिक लोगों की कोविड से मौत हो गई है। वहीं बिहार में अब तक 2,65,268 कोरोना मरीज मिले हैं और 1,574 लोगों की जान चली गई है। भारत में अब तक 1.215 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और  162,523 लोगों की मौत हो गई है। कुल कोरोना मामलों के उत्तर प्रदेश में 5 फीसदी और बिहार में 2.18 फीसदी मामले दर्ज किए गए हैं। यूपी में 5.15 फीसदी और बिहार में 1 फीसदी से भी कम मौतें हुई हैं।
महाराष्ट्र : हर घंटे 1,388 कोरोना मरीज मिल रहे
कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में संक्रमण की रफ्तार काफी तेजी से बढ़ रही है। यहां महज तीन दिन में मरीजों की संख्या 27 से 28 लाख हो गई। यानी 72 घंटे में 1 लाख मरीज बढ़ गए। एक घंटे का औसत निकाला जाए, तो महाराष्ट्र में हर घंटे 1388 मरीज मिल रहे हैं। आंध्र प्रदेश, यूपी, राजस्थान और पश्चिम बंगाल जैसे बड़े राज्यों में एक दिन में मिल रहे मरीजों की संख्या इससे बहुत कम है। राज्य में अब तक कुल 28,12,980 लोग पॉजिटिव हो चुके हैं। 54,649 मौतें हुई हैं। ये दोनों ही आंकड़े भारत में सबसे ज्यादा है।

दिल्ली में एयरपोर्ट-रेलवे स्टेशन पर रैंडम टेस्टिंग
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से पॉजिटिविटी रेट करीब 3 फीसदी है। दिल्ली में हमने टेस्टिंग को बढ़ा दी है, अब हम 80,000 से ज्यादा टेस्ट प्रतिदिन करवा रहे हैं। निजी अस्पतालों में 220 आईसीयू बेड बढ़ाने के आदेश दिए गए हैं। जिन राज्यों में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, वहां से दिल्ली आने वाले यात्रियों की रैंडम टेस्टिंग की जाएगी। इस दौरान सभी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और इंटर-स्टेट बस टर्मिनस (ISBT) में रैंडम टेस्टिंग की जाएगी।

45 साल से ऊपर वालों लगेगी वैक्सीन
देश भर में आज से 45 साल से ऊपर वालों को भी कोविड वैक्सीन लगाई जाएगी। दिल्ली में जनसंख्या के हिसाब से 45 साल से ज्यादा उम्र के कुल 65 लाख लोग हैं, जिसमें 60 साल से ज्यादा उम्र के 20 लाख लोग शामिल हैं। गुरुवार से वैक्सीनेशन को बड़े स्तर पर शुरू किया जा रहा है। दिल्ली में वैक्सीनेशन के 500 सेंटर चल रहे हैं।

कई राज्यों के आंकड़ों को देखते हुए विशेषज्ञों का कहना है कि आगामी 45 दिनों में देश में संक्रमण के मामलों में बेतहाशा वृद्धि होगी। इससे बचने का एक ही तरीका है कि कोरोना बचाव संबंधी सभी नियमों को कड़ाई से पालन किया जाए।

यह भी देखे:-

एसटीएफ नोएडा के हत्थे चढ़ा दिनेश उर्फ़ दिन्ने बावरिया , सैकड़ों आपराधिक वारदातों को दे चूका है अंजाम 
नोएडा में सुन्दर भाटी गैंग का दो लाख का ईनामी बदमाश पुलिस एनकाउंटर में ढेर
विधायक तेजपाल नागर ने उर्जा मंत्री से की मुलाक़ात, सोसायटीओं में उपभोक्ताओं को ऊंची दर पर बिजली दिए ज...
आज से पूरा उत्तर प्रदेश हुआ अनलॉक, लेकिन ये पाबंदियां अभी भी रहेंगी जारी
क्षत्रिय जन संसद का हुआ विस्तार , अब जनसंसद सदस्यों की संख्या 350 पहुंची
सेक्टर ईटा - 1 में स्वच्छता अभियान चलाकर की सैक्टर की सफाई
रूस से रक्षा सौदे के बावजूद अमेरिका मेहरबान, कहा- 'भारत से महत्वपूर्ण कोई और देश नहीं', बताई ये वजह
ED ने माल्या, मोदी, चोकसी की संपत्ति जब्त ,संपत्ति बैंकों और केंद्र सरकार को ट्रांसफर
वित्त मंत्री ने संभाली 'भरोसे' की कमान, जानें कब तक हो सकता है आर्थिक पैकेज का ऐलान
ग्रेटर नोएडा जाना हुआ और आसान, इस पुल से जोड़ी गई है नोएडा की सड़क
सीएम योगी की चेतावनी: राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा 
संक्रमित नहीं होने के बावजूद भी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव, कहां होती है गड़बड़ी; ये है इसका मुख्य कारण
बेन स्टोक्स की गेंद पर विराट कोहली जीरो पर हुए आउट और वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में बनाया शर्मनाक रिकॉ...
खुला पत्र: थॉमस ने कहा- कांग्रेस की हालत इतनी खराब कि कार्यकर्ता कांग्रेसी कहलाने तक से कतराने लगे ह...
जेवर एयरपोर्ट: क्षेत्रफल में विश्व का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा
विश्व आत्महत्या बचाव दिवस जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन