World Tuberculosis Day 2021: कोरोनाकाल में टीबी की दवा न छोड़ें मरीज, हो सकता है खतरा

टीबी की बीमारी का सीधा प्रभाव छाती पर पड़ता है। कभी-कभी सांस लेने में भी परेशानी हो जाती है। कोरोनाकाल में टीबी मरीजों को अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। मरीजों को डॉक्टर की सलाह पर दवा का सेवन करते रहना चाहिए। आम तौर पर कुछ मरीज बीच में ही दवा छोड़ देते हैं। कोरोनाकाल में इस तरह की लापरवाही भारी पड़ सकती है। टीबी मरीजों को जागरूक करने के लिए 24 मार्च को विश्व क्षय रोग दिवस मनाया जाता है।

 

इस बार की थीम ‘दी क्लॉक इस टिकिंग’ है। इसका उद्देश्य टीबी की रोकथाम के लिए समय-समय पर लोगों की जांच और इलाज के लिए जागरूक करना है।  बीएचयू के टीबी एंड चेस्ट डिपार्टमेंट अध्यक्ष प्रो. जीएन श्रीवास्तव का कहना है कि आम तौर पर टीबी मरीजों का सवाल रहता है कि टीबी की दवा के साथ-साथ वैक्सीन लगवाई जाए या नहीं। जानना जरूरी है कि दवा के साथ वैक्सीन ले सकते हैं। साथ ही कोविड प्रोटोकॉल को भी नहीं भूलना चाहिए।

निशुल्क जांच, इलाज की सुविधा
प्रो. जीएन श्रीवास्तव ने बताया कि सरकार की कई योजनाएं चल रही हैं। निक्षय पोर्टल पर पंजीकरण अनिवार्य है। इसके बाद मरीज निशुल्क जांच और इलाज की सुविधा ले सकते हैं। घर के पास स्वास्थ्य केंद्र पर निशुल्क दवा भी मिल जाएगी। पोर्टल पर पंजीकरण कराने के अलावा एक कार्ड भी दिया जाता है। मरीजों को पोषण भत्ते के रूप में हर महीने 500 रुपये भी खाते में दिए जाते हैं।
कोरोना से 11 टीबी मरीजों की जा चुकी है जान
कोरोनाकाल में अब तक जिले में 377 लोगों की मौत अलग-अलग बीमारियों की वजह से हुई है। वहीं, 11 मरीजों की मौत की वजह टीबी और इससे जुड़ी बताई गई है। लोगों को अधिक सतर्क रहना होगा। ताकि समय रहते इस पर नियंत्रण पा सके।

 

यह भी देखे:-

गुर्जर सम्राट मिहिर भोज टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट में आज हुए दो रोमांचक मैच
अप्रैैल-मई में चलाई जा रही 140 अतिरिक्त ट्रेनें ताकि न हो अधिक भीड़, भारतीय रेलवे ने दी जानकारी
सपा अध्यक्ष का हमला: अखिलेश यादव बोले- किसानों के साथ लगातार छल कर रही सरकार
ऑल इंडिया गर्ल्स ट्रेकिंग एक्सपीडिशन (एआईजीटीई) हिमाचल ट्रेक 2022 में भाग लिया
शारदा विश्वविधालय ने शिक्षा के क्षेत्र में पूरे विश्व में नाम रोशन किया - राजनाथ सिंह
जी एन आई ओ टी में पांच दिवसीय फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ
जी. डी. गोयंका पब्लिक स्कूल में माँ गायत्री के हवन से नए साल का स्वागत
सामाजिक संस्था ईएमसीटी सदस्यों ने मज़दूरों के बच्चों के साथ पर्यावरण के प्रति जागरूकता के पृथ्वी दिव...
चौथा T- 20 आज: ये चार बदलाव नही किये तो सीरीज़ हारना तय
कृषि कानून के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक ने किया 5 सितंबर को महापंचायत का ऐलान
शारदा अस्पताल के द्वारा स्तन कैंसर के बारे में जागरूकता फ़ैलाने के लिए प्रोजेक्ट आरोग्य का शुभारम्भ
कोरोना अपडेट: जानिए गौतमबुद्ध नगर का क्या है हाल
यूपी पंचायत चुनाव: मैनपुरी में मुलायम सिंह की भतीजी संध्या यादव ने भाजपा के टिकट पर किया नामांकन
99 प्रतिसत रहा दसवी का परिणाम
गौतमबुद्ध नगर पुलिस की चली तबादला एक्सप्रेस, 95 पुलिस उपनिरीक्षक किये गए इधर से उधर
ये भीड़ खतरनाक है: पंचायत चुनाव का चढ़ा ऐसा खुमार, नामांकन से पहले नियम तार-तार