5 दिनों में कोरोना केसों की रफ्तार ने तोड़ा 10 महीने का रिकॉर्ड, 78 दिन बाद मिले करीब 40,000 नए मामले

कोरोना वायरस के संक्रमण से 2020 के आखिरी दौर में जो राहत देखने को मिल रही थी, वह अब खत्म होती दिख रही है। एक बार फिर से कोरोना के मामले अपने चरम पर पहुंच रहे हैं और बीते साल की याद दिला दी है। पिछले 5 दिनों में कोरोना केसों में बीते 10 महीनों में सबसे ज्यादा इजाफा देखने को मिला है। बीते 7 दिनों में कोरोना केसों में 39 फीसदी तक का इजाफा हुआ है। गुरुवार को 39,670 कोरोना के नए केस मिले हैं। बीते साल 28 नवंबर के बाद पहली बार इतने बड़े पैमाने पर कोरोना संक्रमण के नए मामले पाए गए हैं।

सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में 25,833 नए केस मिले हैं। यही नहीं देश के कुल 15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में जनवरी के बाद सबसे ज्यादा आंकड़े मिले हैं। इस महीने 5 मार्च के बाद से लगातार महाराष्ट्र में 10,000 से ज्यादा केस मिले हैं। यही नहीं बीते 4 दिनों से यह आंकड़ा 20,000 के पार है। यही नहीं दिल्ली का हाल भी बहुत अच्छा नहीं है। कोरोना के केस राजधानी में 600 के पार पहुंच गए हैं, जो 78 दिनों का सबसे बड़ा आंकड़ा है। पिछले 5 दिनों से कोरोना के नए केसों में लगातार 5 फीसदी से ज्यादा का उछाल देखने को मिला है।

इससे पहले बीते साल मई में 19 मई से 22 मई के दौरान ही नए केसों में लगातार 4 दिनों तक प्रतिदिन 5 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली थी। यही नहीं कोरोना से मौतों का भी आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। हालांकि पहले के मुकाबले यह दर कम हुई है। पिछले तीन दिनों से लगातार 150 लोगों की कोरोना से मौत का आंकड़ा सामने आया है। फिलहाल महाराष्ट्र, हरियाणा, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात, केरल और तमिलनाडु जैसे राज्य चिंता की वजह बने हुए हैं।

नाइट कर्फ्यू के फैसले का भी ज्यादा असर नहीं: इन राज्यों में लगातार कोरोना केसों में इजाफा देखने को मिल रहा है। इस स्थिति से निपटने के लिए पंजाब से लेकर महाराष्ट्र तक कई शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है, लेकिन इसके बाद भी स्थिति में बहुत ज्यादा सुधार नहीं आया है। ऐसे में होली से पहले आने वाले दिनों में कुछ और पाबंदियां देखने को मिल सकती हैं।

इन राज्यों में जनवरी के बाद सबसे ज्यादा केस: गुरुवार के आंकड़े की बात करें तो गुजरात में 1,276 नए केस मिले हैं। वहीं तमिलनाडु में 989, मध्य प्रदेश में 917, हरियाणा में 633, दिल्ली में  607, यूपी में 321 और राजस्थान में 327 नए केस मिले हैं। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में 323 और हिमाचल प्रदेश में 171 नए केस मिले हैं। इस तरह से इन राज्यों में जनवरी के बाद पहली बार कोरोना के मामलों में इतना बड़ा उछाल देखने को मिला है।

यह भी देखे:-

अखिल भारतीय मिथिला राज्य संघर्ष समिति का जंतर मंतर पर विशाल धरना एवं प्रदर्शन
आईआईए द्वारा जीएसटी पर कार्यशाला आयोजित
पनामा केस में भ्रष्टाचार के आरोप में नप गए नवाज, पाक सुप्रीम कोर्ट ने PM पद से हटाया
UP Board 10th, 12th Result 2021: रिजल्ट में देरी का कारण, 31 जुलाई तक संभावना कम
Kerala Election 2021: केरल के दो दिवसीय चुनावी दौरे पर आज राहुल गांधी, प्रचार अभियान को करेंगे तेज
घर में घुसकर मोबाईल चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन शातिर गिरफ्तार
दिल्ली का उभरता सितारा, बाल कलाकार दिव्यांशु 
जेल में सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम को दिल्ली के एम्स में किया गया भर्ती, होगी एंडोस्कोपी
बेकाबू हुआ कोरोना: लगातार तीसरे दिन एक लाख से अधिक नए मरीज, बीते 24 घंटे में ही 1.31 लाख केस, 800 से...
आजादी से अब तक के कांग्रेस अध्यक्षों का सफर और अब नई सियासत की संभावना
SSC CHSL Exam 2020: स्थगित हुई सीएचएसएल टियर 1 परीक्षा, कोविड-19 के चलते कर्मचारी चयन आयोग ने की घोष...
ग्रेटर नोएडा पुष्पोत्सव देखने उमड़ी भीड़, बच्चों ने नृत्य-गीत का कार्यक्रम पेश कर समां बाँधा
एक्टिव सिटीजन टीम ने किया पौधारोपण
चिंताजनक : आठ भारतीय राज्यों पर जलवायु परिवर्तन से मंडराया खतरा
अब मस्जिदों में रात 10 से सुबह 6 बजे तक नहीं होगा लाउडस्पीकर के इस्तेमाल
दिल्ली में आज से 24 घंटे होगा कोरोना का टीकाकरण, सरकार ने दिया आदेश