अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मूर्तिकार और पद्म भूषण राम सुतार के घर में हुई चोरी का खुलासा, घरेलू सहायक समेत दो को गिरफ्तार

चोरी किए हुए 22 लाख 65 हज़ार नगद और ज्वेलरी, पद्म भूषण पदक भी बरामद

अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मूर्तिकार और पद्म भूषण से सम्मानित राम सुतार के घर में हुई चोरी का नोएडा की कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस ने खुलासा करते हुए इस घटना में शामिल घरेलू सहायक आरोपी मदन मोहन दास और उसके सहयोगी लोकेश को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अभियुक्तों पास में पुलिस ने चोरी किए हुए 22 लाख 65 हज़ार नगद और ज्वेलरी, पद्म भूषण पदक भी बरामद किया है। पुलिस ने इन घरेलू सहायकों को रखने वाली प्लेसमेंट एजेंसी के संचालक खिलाफ कार्रवाई कर रही है।

पुलिस के गिरफ्त में खड़े उड़ीसा निवासी मदन मोहन दास और लोकेश को कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस ने गुरुग्राम के सेक्टर 24 से गिरफ्तार किया है।एडीजीपी रणविजय सिंह ने बताया की ने बताया कि मूर्तिकार राम सुतार के बेटे अनिल सुतार ने 3 मार्च 2021 को दिल्ली स्थित मेरी नीड्स प्लेसमेंट एजेंसी से ओडिशा निवासी मदन मोहन दास नामक घरेलू सहायक को हायर किया था। 9 मार्च को मदन मोहन उनके घर से 26 लाख रुपये, ज्वेलरी, पद्म भूषण व मंगोलिया सरकार की तरफ से दिए गए पदक चोरी कर ली थी। इस चोरी की वारदात में लोकेश उसकी मदद की थी।

 

एडीसीपी ने बताया कि मदन मोहन दास व ओडिशा के आशीष, पप्पू, मोटा आदि नामक युवक दोस्त हैं। सभी घरेलू सहायक बनकर संगठित तरीके से देश के शहरों में बड़ी चोरी की वारदात को अंजाम देते हैं। मदन मोहन वर्ष 2019 में गुरुग्राम में एक घर से 30 लाख की चोरी की थी। मामले में वह भोंडसी जेल भी गया था। जेल में उसकी दोस्ती गिरफ्तार आरोपी लोकेश से हुई थी। जेल से छूटने के बाद लोकेश के माध्यम से दिल्ली की मेरी नीड्स प्लेसमेंट एजेंसी के मालिक आदर्श शर्मा से संपर्क किया और राम सुतार के घर नौकरी पाई थी। प्लेसमेंट एजेंसी ने आरोपी मदन मोहन का पुलिस से सत्यापन नहीं कराया था। पुलिस एजेंसी संचालक आदर्श पर भी कार्रवाई करेगी।

 

एडीसीपी ने बताया कि गिरफ्तार दोनों आरोपी अपने साथियों के साथ कई बड़ी चोरी नोएडा में चोरी करने के बाद बंगलूरू व अन्य शहरों में वारदात करने वाले थे। आरोपी कई भाषा बोलना जानते हैं, जिससे देश के किसी भी हिस्से में भी नौकरी कर सकते थे। ये लोग हिंदी, अंग्रेजी के अलावा बंगाली, उड़िया, मराठी, भोजपुरी से लेकर कई अन्य भाषा में बातचीत लोगो को प्रभावित कर लेते थे। राम सुतार के बेटे अनिल सुतार पत्नी के साथ सेक्टर-6 स्थित डीसीपी कार्यालय पहुंचे। उन्होंने एडीसीपी रणविजय सिंह से मिलकर नोएडा पुलिस का आभार जताया। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने मामले सफल अनावरण करने के लिए पुलिस टीम को 50 हज़ार का इनाम देने की घोषणा की है।

यह भी देखे:-

कैश लूट का प्रयास , एटीएम पर तैनात गार्ड को मारी गोली
गौतमबुद्ध नगर: भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष के घोषणा से पहले हलचल तेज
"एक अध्यापक ही अच्छे राष्ट्र का निर्माण करता है" : दीप चंद्रा
नए अविष्कारों के प्रदर्शन के साथ LED EXPO 2018 का हुआ समापन
शराब तस्कर गिरफ्तार, अवैध शराब बरामद 
ब्रेकिंग; ग्रेनो प्राधिकरण छावनी में हुआ तब्दील भारी पुलिस फोर्स तैनात, किसान करेंगे प्रोटेस्ट
UN में श्रीलंका के खिलाफ मतदान से दूर रहा भारत, जानें- तमिलनाडु की राजनीति से है क्या कनेक्शन
रेत से भरे दो डम्पर में भीषण टक्कर, दो की मौत, दो घायल
कोरोना अपडेट : जानिये आज क्या का क्या है रिपोर्ट
दुनिया का सबसे बड़ा हस्तशिल्प मेला ग्रेटर नोएडा में 23 फरवरी से
मेहंदी लगाने वालों हाथों ने जीता शूटिंग का खिताब
Tokyo Olympics: कमलप्रीत कौर इतिहास रचने से चूकीं, 63.70 मीटर थ्रो के साथ छठे स्थान पर रहीं
लखनऊ-पंचायत चुनाव मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी ने दिए निर्देश.
ड्रग मामले में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना संक्रमित, अस्पताल में भर्ती
पेट्रोल की बढ़ती कीमत कांग्रेस सरकार की विफलता मानते थे प्रधानमंत्री
आदर्श रामलीला सूरजपुर : पुत्र वियोग में महाराजा दशरथ ने त्यागे प्राण, अयोध्या में शोक , दर्शक हुए भा...